मोरातारा ज्वैलरी शो रूम मालिक पर हुए हमले व रंगदारी के मामले का पुलिस ने किया खुलासा

हरिद्वार (कुलभूषण) नगर के जाने माने ज्वैलरी शो रूम मोरातारा के मालिक पर हमला करने तथा रंगदारी की घटना को अंजाम देने वाले अपराधीयो को पुलिस ने गिरफ्तार कर मामले का खुलासा कर दिया है। घटना का खुलासा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक योगेन्द्र सिंह रावत ने किया उन्होने बताया कि कंावड मेले के चलते अभियुक्तो ने जब मोरातारा के स्वामी शो रूम बन्द कर घर जा रहे थे तब बदमाशों ने उन पर फायर किया जो उनके लेपटाप में गोली लगने के चलते वह बच गये तथा कुछ दिन बाद अपराधीयो ने उनसे फिरोती की रकम के रूप में पचास लाख रूपये की मांग की। जिसकी सूचना निपुण मित्तल द्वारा ज्वलापुर पुलिस को दी गयी । जिसके चलते वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा ने अपराधियो की खोजबीन शुरू की पुलिस अधीक्षक नगर हरिद्वार व सहा0पु0अ0 ज्वालापुर व क्षेत्राधिकारी ऑपरेशन के पर्यवेक्षण में घटना के अनावरण हेतु चार टीमों का गठन किया गया।

जांच के दौरान सभी टीमें व्हाट्सप गु्रप के माध्यम से आपस में जुड गये व अपने अपने स्तर से जुटायी गयी जानकारी को गु्रप में शेयर करना प्रारम्भ कर दिया जिससे घटना के सम्बन्ध में तेजी से जानकारी प्राप्त होने लगी। सीसीटीवी फुटेज की जाच के दौरान प्रथम दृष्टिया पाया गया कि वादी का पीछा स्कूटी सवार दो बदमाशों द्वारा रानीपुर मोड की ओर से आकर किया गया था जिनके मुंह पर रूमाल व मास्क लगे थे। सीसीटीवी टीम को इन स्कूटी सवारों के आने का सा्रेत तलाशने के निर्देश दिये गये। 29 जुलाई को कान्स0 516 निर्मल द्वारा भगत सिंह चौक पर लगे कन्ट्रोम रूम के लगे सीसीटीवी केमरे को देखकर बताया गया कि उक्त स्कूटी सवारों में पीछे बैठा व्यक्ति यूके 07 एएल 1890 हुण्डई कार से उतरकर स्कूटी में बैठा था हुण्डई कार में तीन.चार अन्य व्यक्ति बैठे दिखायी दिये जिससे घटना में कम से कम 4.5 लोगों की संलिप्तता की पुष्टि हुयी। इस कार का रजिस्ट्रेशन नम्बर चैक करने पर पता चला की यह कार प्रदीप कुमार पुत्र सुरेश नि0 रावली महदूद बहादराबाद हरिद्वार के नाम पर रजिस्र्टड है। रजिस्ट्रेशन में दिये गये नम्बर की कॉल डिटेल व सर्विलांस सीआईयू द्वारा करने पर प्रदीप व उसके साथियों को ट्रेस कर लिया गया। जिनकी गिरफ्तारी हेतु सीआईयू व ज्वालापुर पुलिस द्वारा दिल्लीए नोएडाए गाजियाबादए हिमाचलए बिजनौर में दबिशें दी गयी। मुख्य अभियुक्त प्रदीप कुमार को जब यह जानकारी हुयी कि वादी द्वारा पुलिस को रंगदारी मागने के सम्बन्ध में रिपोर्ट दर्ज करा दी गयी है तो वह बोखला गया और अपनी आपराधिक साख बचाने व वादी को सबक सिखाने के उद्देश्य से वह 04अगस्त को शो रूम मालिक को शोरूम बन्द करने के बाद उसे ठिकाने लगाने की नियत से अपने साथियों के साथ हरिद्वार आ रहा था कि इसी दौरान पुलिस को इसकी सूचना मिल गयी। और रानीपुर झाल के पास से प्रदीप कुमार व उसके साथियों को घटना में संलिप्त कार व अस्लाहों के साथ गिरफ्तार कर लिया।

पकडे गये अभियुक्तो में प्रदीप चैहान पुत्र सुरेश सिंह नि0 नवादा चैहान थाना नहटौर जिला बिजनौर उ0प्र0 उम्र 29 वर्ष. प्रदीप इस घटना का मुख्य साजिशकर्ता है जो पहले वर्ष 2015 में थाना प्रेमनगर देहरादून से अपने सगे भाई अंकित व एक अन्य अभियुक्त के साथ डकैती के मामले में जेल जा चुका है। प्रदीप इण्डस्ट्रीयल केमेस्ट्री से एम0एस0सी0 है तथा पूर्व में बैंक में क्लर्क के रूप में काम कर चुका है। इस दौरान वर्ष 2015 में डकैती में सम्मलित होने के कारण उसे नौकरी से बर्खास्त कर दिया गया। गिरफ्तारी के दौरान प्रदीप उपरोक्त से घटना में प्रयुक्त ण्32 बोर पिस्टल व 04 कारतूस बरामद हुये। पूछताछ पर अभियुक्त ने बताया कि देहरादून प्रेमनगर में हुवी घटना में उसपर कोर्ट में मुकदमा चल रहा है जिसमें उसके वारण्ट निकल रखे हैं देहरादून पुलिस बार.2 मेरे बिजनौर स्थित घर पर दबिश दे रही थी मैं उपरोक्त मामले के वादी से समझौता करना चाहता था जिसके लिये 50.60 लाख रूपये की जरूरत थी। इसपर उसने अपने गांव के लडकों को मकसद बताकर तेयार किया और मोरा तारा शोरूम से एक चैन व कुण्डल अपनी पत्नी के लिये 2 महीने पहले खरीदे थे जिसके डिब्बे पर वादी व उसके शोरूम के मोबाईल नम्बर अंकित थे। जिनका उसने फिरोती मांगने में प्रयोग किया।
सचिन प्रजापति पुत्र पंकज कुमार नि0 ग्राम नवादा चैहान थाना नहटौर जिला बिजनौर उम्र 19 वर्ष. शिक्षा .7 वीं पास अभियुक्त प्रदीप के गॉव का ही रहने वाला है। इसकी निसानदेही पर घटना में प्रयुक्त स्कूटी भी सिडकुल स्थित इसके कमरे से बरामद की गयी है।
कौशल कुमार पुत्र महेन्द्र सिंह नि0 ग्राम नवादा चैहान थाना नहटौर जिला बिजनौर उम्र 22 वर्ष शिक्षा. बीए प्रथम वर्ष घटना के दौरान वादी पर पिस्टल से फायर की थी गिरफ्तारी के दौरान इससे एक तंमचा 315 बोर मय 03 जिन्दा कारतूस बरामद हुये हैं।
अरूण कुमार पुत्र रणवीर सिंह नि0 उपरोक्त उम्र 19 वर्ष। शिक्षा 9वीं पास। वादी पर फायर करने से पूर्व मुख्य अभियुक्त प्रदीप के साथ कार सवार था।
अंकुर कुमार पुत्र चन्द्रपाल सिंह नि0 ग्राम फिना थाना सिवालाकला जिला बिजनौर उम्र 25 वर्ष शिक्षा 12 वीं पास। वादी पर फायर करने से पूर्व मुख्य अभियुक्त प्रदीप के साथ कार पर सवार था।
इन अभियुक्तो से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त कार हुण्डई नं0 यूके 07 एएल 1890। स्कूटी नम्बर यूके 08 बी0089 पिस्टल 32 बोर 4 कारतूस। तंमचा 315 बोर.03 बरामद किये। मामले का खुलासा करने वाली पुलिस टीम को ड़ीआईजीध् एसएसपी द्वारा पच्चीस हजार रूपये का ईनाम की घोषणा की गयी।

 

छात्र छात्राओं व स्टाफ को किया तिरंगा वितरण का आयोजन

हरिद्वार 5 अगस्त (कुलभूषण) एचईसी ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स में देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘हर-घर तिरंगा- कैम्पेन से जोडने के लिये छात्र छात्राओं एवं स्टॉफ को तिरंगा वितरित कर प्रोत्साहित किया गया। संस्थान के डायरेक्टर डा0 अंशुल शर्मा व प्राचार्या डा0 मौसमी गोयल ने छात्र-छात्राओं से कहा कि वह समाज में सभी को ‘हर-घर तिरंगा‘ कैम्पेन से जोडने के लिये प्रेरित करें।
आयोजन में डा0 तृप्ति अग्रवाल उमराव सिंह ललित जोशी रितु मोदी शुभांग वालिया प्रिया वर्मा व छात्र-छात्रायें उपस्थित थे।

 

स्वतंत्रता सेनानी सम्मान यात्रा आयोजन

हरिद्वार 5 अगस्त (कुलभूषण )  स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारी परिवार समिति ;रजिण्द्ध  के तत्वावधान में 6 अगस्त को पूरे देश में लगभग 283 जिलों में एक साथ स्वतंत्रता सेनानी सम्मान यात्रा आजादी के अमृत महोत्सव पर हर स्वतंत्रता सेनानी परिवार के  द्वारा अपने पूर्वज स्वतंत्रता संग्राम सेनानीयो को सम्मान देने की दृष्टि से निकाली जा रही है।
हरिद्वार में यह यात्रा प्रातः 10 बजे देवपुरा चौक से आरंभ होकर 12 बजे शहीद जगदीश वत्स स्मारक कोतवाली के सामने तक जाएगी।यात्रा का शुभारंभ जिलाधिकारी तथा समापन विधायक आदेश चौहान द्वारा किया जाएगा। नगर के विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न संस्थाओ द्वारा यात्रा का भव्य स्वागत किया जायेगा। यह जानकारी जितेन्द्र रघुवंशी ने दी।
यात्रा में स्वतंत्रता सेनानी उत्तराधिकारियों के हाथों में अपने पूर्वज स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के चित्र तथा तिरंगा झंडा होंगे।