Wednesday, April 17, 2024
HomeStatesUttarakhandआग लगने की लगातार घटनाओं की जांच को लेकर आयुक्त दीपक रावत...

आग लगने की लगातार घटनाओं की जांच को लेकर आयुक्त दीपक रावत ने किया स्थलीय निरीक्षण

हल्द्वानी, विगत दिनों मल्ला गोरखपुर एसबीआई तिराहे के निकट भवन स्वामी कमल पाण्डे़ के भवन में आग लगने की लगातार घटनाओं की जांच को आयुक्त दीपक रावत भवन के स्थलीय निरीक्षण को पहुंच गए।
निरीक्षण दौरान आयुक्त को भवन स्वामी ने बताया कि उनका भवन सन् 1951 मे 1600 स्क्वायर फीट में बनवाया था। कुछ वर्ष पहले मकान का रि—नोवेशन कराया गया है। भवन में वर्तमान में दो परिवारों के कुल 9 लोग निवास करते हैं। 8 नवम्बर 2022 को प्रथम बार आग लगी थी। जिसका क्रम लगातार जारी है। आग कभी भी लग जाती है।

आयुक्त ने निरीक्षण के दौरान भवन स्वामी को कैमरा लगाने के निर्देश दिये साथ ही आग से नष्ट सामग्री को एकत्र कर फारंेसिक जांच हेतु भेजने के निर्देश सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह को दिये ताकि आग के लगने के कारणों का पता चल सके |
आयुक्त ने निरीक्षण दौरान अधिशासी अभियंता जल संस्थान को सीवर टैंक के सफाई के साथ ही विद्युत विभाग को घर की विद्युत आपूर्ति हेतु लाईन की जांच कराने के भी निर्देश अधिशासी अभियंता विद्युत को मौके पर दिये। निरीक्षण के दौरान सिटी मजिस्ट्रेट ऋचा सिंह के साथी विद्युत एवं सिचाई तथा जलसंस्थान के अधिकारी उपस्थित थे।

सूचना महानिदेशक वंशीधर तिवारी बोले उत्तराखंड में पत्रकारों के स्वास्थ्य को लेकर गंभीर विभागपत्रकारों की समस्याओं का निराकरण करना है प्राथमिकता: वंशीधर तिवारी -  Mahanaad News

काशीपुर, मीडिया सेन्टर ने सम्मान एवं परिचर्चा कार्यक्रम में सूचना विभाग के महानिदेशक वंशीधर तिवारी का स्वागत किया। मीडिया सेंटर ने प्रेस क्लब को आवंटित जमीन संस्था को देने की मांग की। साथ ही फील्ड में कार्य करने वाले वास्तविक, परिश्रमी और सच्चे पत्रकारों को भी मान्यता प्राप्त पत्रकारों जैसी सुविधा देने की व्यवस्था करने का आग्रह किया।

इस मौके पर डीजी तिवारी ने कहा कि सूचना एवं लोकसम्पर्क विभाग तथा पत्रकार एक दूसरे से जुड़े हैं। उन्होंने कहा कि उनकी प्राथमिकता पत्रकारों के हितों का विभागीय स्तर पर शीघ्र ही निस्तारण करना है। सहमति से क्लब की खाली पड़ी भूमि शीघ्र ही काशीपुर मीडिया सेन्टर को हस्तांतरित करने की प्रक्रिया नियमानुसार अमल में लायी जायेगी और भवन निर्माण हेतु भी नियमानुसार धनराशि मुहैया कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रेस मान्यता आदि नियमावली परिवर्तन की दिशा में कार्य गतिमान है। तिवारी ने कहा कि विज्ञापनों का वितरण समान रूप से किया जाएगा। जिला और राज्य स्तर पर पत्रकारों से विचार गोष्ठियों का आयोजन किया जाएगा, जिनमें पत्रकार हितों पर विचार विमर्श किया जाएगा। वहीं पत्रकारों के स्वास्थ्य के लिए शासन द्वारा हैल्थ कार्ड बनाने की योजना है, जिसमें पत्रकारों का सूचीबद्ध अस्पतालों में उपचार किया जा सकेगा।

इस दौरान एसडीएम अभय प्रताप, तहसीलदार यूसुफ, अनिरूद्ध निझावन, जसपाल चड्ढा, काशीपुर मीडिया सेन्टर अध्यक्ष दिलप्रीत सेठी, डॉ. दीपिका गुड़िया आत्रेय, विकास गुप्ता, अमरीश अग्रवाल, आर.डी. खान, विकास गुप्ता, मौ. फरीद सिद्दीकी, संजय भल्ला, गजेन्द्र यादव, शिवअवतार शर्मा, निखिल पंत, नदीम उद्दीन एडवोकेट, साबिर आसिम, स्वतंत्र नवीन, अनुराग गंगोला, सोनू जैन, विपिन चौहान आदि पत्रकार मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments