Sunday, February 25, 2024
Header Add UKDIPR
HomeTrending Nowहरिद्वार-ऋषिकेश के बीच चलने वाली ये ट्रेनें 12 दिसंबर तक रहेंगी रद्द

हरिद्वार-ऋषिकेश के बीच चलने वाली ये ट्रेनें 12 दिसंबर तक रहेंगी रद्द

देहरादून, मुरादाबाद मंडल के अंतर्गत ऋषिकेश रेलवे स्टेशन पर प्री नान इंटरलॉकिंग व इंटर लाकिंग कार्य के लिए ट्रैफिक ब्लॉक के चलते हरिद्वार-ऋषिकेश के बीच चलने वाली हरिद्वार-ऋषिकेश एक्सप्रेस स्पेशल (अनारक्षित) पांच से 12 दिसंबर तक रद्द रहेंगी। जबकि कुछ ट्रेनों को हरिद्वार व कुछ को योगनगरी ऋषिकेश स्टेशन से चलाया जाएगा। मुरादाबाद मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक सुधीर सिंह ने बताया कि ऋषिकेश रेलवे स्टेशन पर पांच से 12 दिसंबर तक प्री इंटर लाकिंग व इंटर लाकिंग के लिए ट्रैफिक ब्लाक किया गया है।]

जिसके तहत गाड़ी संख्या 04361-62 हरिद्वार-ऋषिकेश एक्सप्रेस स्पेशल और 04363-64 हरिद्वार-ऋषिकेश एक्सप्रेस स्पेशल पांच से 12 दिसंबर तक रद रहेंगी। जबकि 04360-59 ऋषिकेश-चंदौसी एक्सप्रेस ऋषिकेश की जगह हरिद्वार तक चलेगी। इसके अलावा ऋषिकेश-श्री गंगानगर, ऋषिकेश-श्री माता वैष्णो देवी कटरा व ऋषिकेश-बाड़मेर एक्सप्रेस का संचालन योगनगरी ऋषिकेश रेलवे स्टेशन से किया जाएगा। बताया कि 12 दिसंबर को चंदौसी ऋषिकेश एक्सप्रेस को दो घंटे की देरी और ऋषिकेश-हरिद्वार एक्सप्रेस स्पेशल को 30 मिनट की देरी से संचालित किया जाएगा। लखनऊ मंडल के पटरंगा, रौजगांव व रुदौली रेलखंड पर इंटरलॉकिंग कार्य के चलते योग नगरी ऋषिकेश-हावड़ा एक्सप्रेस तीन से नौ दिसंबर तक परिवर्तित मार्ग लखनऊ-मां वेल्हा देवी धाम प्रतापगढ़-लखनऊ मार्ग से संचालित होगी।

 

अच्छी पहल : श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में सोमवार से ओपीड़ी फ्री

देहरादून, श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल प्रबन्धन की ओर से मरीजों को सोमवार से निःशुल्क ओपीड़ी सेवाओं का लाभ मिलेगा। इसके अन्तर्गत 4 दिसम्बर सोमवार से मरीजों को निःशुल्क पंजीकरण एवम् चिकित्सकीय परामर्श का लाभ मिलेगा। जनरल वार्ड में भर्ती मरीजों को अस्पताल के नियमानुसार 50 प्रतिशत का डिस्कांट भी दिया जाएगा। यह जानकारी श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डाॅ प्रेरक मित्तल ने दी।
श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डाॅ प्रेरक मित्तल ने जानकारी दी कि मेडिसिन विभाग, स्त्री एवम् प्रसूति रोग विभाग, सर्जरी विभाग, हड्डी रोग विभाग, नाक कान गला रोग विभाग, नेत्र रोग विभाग, त्वचा रोग विभाग, शिुशु एवम् बाल रोग, मनोरोग विभाग और छाती एवम् श्वास रोग विभाग में आने वाले सभी मरीज निःशुल्क ओपीडी कार्ड बनवा पाएंगे। प्रसव के लिए आने वाली आयुष्मान कार्ड धारक गर्भवती महिलाओं को निःशुल्क डिलीवरी की सुविधा भी श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में मिलेगी। काबिलेगौर है कि श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश के आयुष्मान कार्ड भी स्वीकार्य हैं।

 

दून पुस्तकालय एवं शोध केंद्र में
युवा पाठकों के लिए ‘सारगर्भित व्याख्यान’ का आयोजन

देहरादून, शहर के लैंसडौन चौक के समीप स्थित दून पुस्तकालय एवं शोध केंद्र की ओर से युवा पाठकों के लिए परीक्षाओं की तैयारी व ज्ञानवर्धन के लिए निशुल्क सन्दर्भ सामग्री प्रदान करने की श्रंृखला के तहत आज पुस्तकालय में अध्ययनरत युवा पाठकों के लिए संघ लोक सेवा आयोग-सिविल सेवा परीक्षा: एक विहंगम दृश्य विषय पर एक सारगर्भित व्याख्यान का आयोजन किया गया। केन्द्रीय वस्तु एवं सेवा कर के संयुक्त आयुक्त श्री सचिन सिंह ने यह महत्वपूर्ण व्याख्यान दिया। विविध प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अनेक युवा पाठको ने स्लाइड शो के चित्रों, ग्राफिक्स तथा व्यक्तिगत अनुभवों के माध्यम से इस सन्दर्भ में अनेक बिन्दुओं पर जानकारी प्राप्त की। संघ लोक सेवा आयोग-सिविल सेवा परीक्षा की तैयारी और उससे जुड़े अनेक सार्थक पहलुओं पर युवा पाठकों ने चर्चा भी की।
संयुक्त आयुक्त सचिन सिंह ने अपने व्याख्यान में प्रोफेशन, सेवाओं की सूची, परीक्षाओं के विविध चरण, परीक्षाओं के प्रतिरुप,प्रकार, रैंक लिस्ट, आयु सीमा, विषय व सैलेबस के साथ ही इस तरह की परीक्षाओं की उपलब्धियां और इसमें आने वाली चुनौतियों पर गहराई से जानकारी दी। उल्लेखनीय है कि सचिन सिंह जून 2022 से भारतीय राजस्व सेवा (सी एंड आईटी) में संयुक्त आयुक्त, सीजीएसटी, देहरादून के रूप में कार्यरत हैं। इससे पूर्व 4 वर्षों तक प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि परियोजना (पीएमबीजेपी) के सीईओ के रूप में कार्यरत रहे।
व्याख्यान सत्र के दौरान छात्रों ने इससे जुड़े अनेक प्रश्न पूछे एवं संयुक्त आयुक्त श्री सचिन सिंह ने उनका उत्तर दिया। इस सत्र में सभी छात्र काफी उत्साहित दिखे एवं उन्होंने ऐसे सेशन आयोजित किये जाने के के लिए निरन्तर अनुरोध किया । दून पुस्तकालय एवं शोध केन्द्र के प्रोग्राम एसोसिएट श्री चंद्रशेखर तिवारी ने सभी उपस्थित जनों का स्वागत और अंत मे धन्यवाद दिया। इस दौरान डॉ.योगेश धस्माना, दून पुस्तकालय एवं शोध केन्द्र के प्रशासनिक अधिकारी कर्नल एस एस रौतेला, सुंदर सिंह बिष्ट,पंकज शर्मा व जगदीश सिंह महर सहित बड़ी संख्या में युवा पाठक उपस्थित थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
MDDA ads

Most Popular

Recent Comments