Sunday, February 25, 2024
Header Add UKDIPR
HomeTrending Nowउत्तराखण्ड में समान नागरिक संहिता के लिए गठित समिति ने सीएम को...

उत्तराखण्ड में समान नागरिक संहिता के लिए गठित समिति ने सीएम को सौंपा ड्राफ्ट

“आजादी के बाद यूसीसी लागू करने वाला पहला राज्य बनेगा उत्तराखण्ड़”

देहरादून, सेवानिवृत्त न्यायाधीश श्रीमती रंजना प्रकाश देसाई के नेतृत्व में बनी उत्तराखण्ड़ समान नागरिक संहिता समिति ने शुक्रवार को यूसीसी का ड्राफ्ट मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को सौंप दिया । मुख्यमंत्री कैम्प कार्यालय स्थित मुख्य सेवक सदन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि विधान सभा चुनाव 2022 से पूर्व हमने उत्तराखण्ड राज्य की जनता से भारतीय जनता पार्टी के संकल्प के अनुरूप उत्तराखंड में समान नागरिक संहिता लाने का वादा किया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि अपने वादे के मुताबिक हमने सरकार गठन के तुरंत बाद ही पहली कैबिनेट की बैठक में ही समान नागरिक संहिता बनाने के लिए एक विशेषज्ञ समिति के गठन का निर्णय लिया था और 27 मई 2022 को उच्चतम न्यायालय की सेवानिवृत्त न्यायाधीश श्रीमती रंजना प्रकाश देसाई के नेतृत्व में पांच सदस्यीय समिति गठित की गई। समिति में सिक्किम उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश श्री प्रमोद कोहली , उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्य सचिव श्री शत्रुघ्न सिंह, दून विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो० सुरेखा डंगवाल एवं समाजसेवी श्री मनु गौड़ को सम्मिलित किया गया।

समिति द्वारा दो उप समितियों का गठन भी किया गया। जिसमें से एक उपसमिति का कार्य “संहिता“ का प्रारूप तैयार करने का था। दूसरी उपसमिति का कार्य प्रदेश के निवासियों से सुझाव आमंत्रित करने के साथ ही संवाद स्थापित करना था। समिति द्वारा देश के प्रथम गांव माणा से जनसंवाद कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए प्रदेश के सभी जनपदों में सभी वर्ग के लोगों से सुझाव प्राप्त किये गये। इस दौरान कुल 43 जनसंवाद कार्यक्रम किये गये और प्रवासी उत्तराखंडी भाई-बहनों के साथ 14 जून 2023 को नई दिल्ली में चर्चा के साथ ही संवाद कार्यक्रम पूर्ण किया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि समिति द्वारा अपनी रिपोर्ट तैयार करने के लिये समाज के हर वर्ग से सुझाव आमंत्रित करने के लिये 08 सितम्बर 2022 को एक वेब पोर्टल लॉन्च करने के साथ ही राज्य के सभी नागरिकों से एसएमएस और वाट्सअप मैसेज द्वारा सुझाव आमंत्रित किये गये। समिति को विभिन्न माध्यमों से दो लाख बत्तीस हजार नौ सौ इक्सठ (2,32,961) सुझाव प्राप्त हुए। जो कि प्रदेश के लगभग 10 प्रतिशत परिवारों के बराबर है। लगभग 10 हजार लोगों से संवाद एवं प्राप्त लगभग 02 लाख 33 हजार सुझावों का अध्ययन करने हेतु समिति की 72 बैठकें आहूत की गई। मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा समिति से रिपोर्ट प्राप्त कर राज्य की जनता एवं राज्य सरकार की ओर से समिति के सभी विद्वान सदस्यों का धन्यवाद ज्ञापित किया गया और आशा की गई कि समिति के सदस्यों का यह योगदान राज्य ही नहीं बल्कि पूरे देश के लिये एक मील का पत्थर साबित होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार इस रिपोर्ट का अध्ययन और परीक्षण कर यथाशीघ्र उत्तराखंड राज्य के लिये समान नागरिक संहिता कानून का प्रारूप तैयार कर संबंधित विधेयक को आगामी विधान सभा के विशेष सत्र में रखेगी। इस कानून को लागू करने की दिशा में सरकार तेजी से आगे बढ़ेगी।
इस अवसर पर मुख्य सचिव श्रीमती राधा रतूड़ी, सचिव श्री आर. मीनाक्षी सुदंरम, श्री विनय शंकर पाण्डेय, विशेष सचिव श्री पराग मधुकर धकाते, समान नागरिक संहिता के सदस्य सचिव श्री अजय मिश्रा एवं महानिदेशक सूचना श्री बंशीधर तिवारी उपस्थित थे।

यूसीसी में किसी के अधिकारों का हनन हुआ तो कांग्रेस करेगी पूरजोर विरोध : करन माहराउत्तराखंड कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने भाजपा पर बोला बड़ा हमला –  पर्वत वाणी

यूसीसी को लेकर प्रदेश में सियासत शुरू हो गई है। प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने सरकार से मांग की है कि यूसीसी का ड्राफ्ट जल्द से जल्द विपक्षी दलों को भी उपलब्ध कराया जाए। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने कहा कि वैसे तो यूसीसी केंद्र का मुद्दा है राज्य से इसका कोई वास्ता नहीं है। लेकिन फिर भी सरकार इस राज्य में लागू करने की तैयारी कर रही है। वहीं करन माहरा ने साफ कहा कि यदि यूसीसी में किसी के अधिकारों का हनन नहीं हुआ तो कांग्रेस इसका समर्थन करेगी और यदि किसी के अधिकारों का हनन हुआ तो कांग्रेस इसका पूरजोर विरोध भी करेगी।

 

श्रद्धा पूर्वक मनाया गया बीबी भानी जी का जन्म दिवस

देहरादून, प्रात: नितनेम के पश्चात हज़ूरी रागी भाई कवरपाल सिंह जी ने आसा दी वार का शब्द “आगै सुख मेरे मीता,पाछे आनद प्रभ कीता” का गायन किया एवं बीबी भानी जी स्त्री सत्संग सभा के द्वारा रखे गये श्री अखण्ड पाठ साहिब के भोग डाले गए।
भाई शमशेर सिंह जी हैंड ग्रंथी ने कहा कि बीबी भानी जी का जीवन सभ गुणों से भरपूर- प्यारे सुभा – मिलनसार – सेवा सिमरन की मुर्ति – सहनशील – सभर संतोख – निमरता – आज्ञाकारी और परउपकारी रहा और गुरु पुत्री, गुरु पत्नी, गुरु माता, गुरु दादी और गुरु पडदादी होने के साथ शहीदों का परिवार से होने का मान प्राप्त हुआ, कार्यक्रम में विशेष रूप से गुरुद्वारा साहिब जी के हजूरी रागी जत्थे भाई नरेन्द्र सिंह जी ने ‘गुरसिखा मनि वाधाईआ जिन मेरा सतगुरू डिठा राम राजे’ व ‘ बैठा सोढी पातिसाहु रामदास सतगुरू कहावै’ का शब्द गायन किया।
हैंड ग्रंथी भाई शमशेर सिंह जी ने सरबत के भले के लिए अरदास की, प्रधान, गुरबख्श सिंह राजन जी व जनरल सेक्रेटरी गुलज़ार सिंह जी द्वारा संगतों व बीबी भानी जी स्त्री सत्संग सभा को बीबी भानी जी के जन्म दिवस की बधाई दी । बीबी महिंदर कौर, बीबी कंवलजीत कौर व बीबी रनजीत कौर जी को सिरोपा भेंट कर सम्मानित किया गया।मंच का संचालन सतनाम सिंह ने किया।

कार्यक्रम के पश्चात संगत ने सत्संग सभा के द्वारा तैयार किया गुरु का लंगर व प्रशाद ग्रहण किया।
इस अवसर पर सरदार गुरबख्श सिंह जी राजन अध्यक्ष, गुलज़ार सिंह महासचिव,सरदार जगमिंदर सिंह छाबड़ा,चरणजीत सिंह उपाध्यक्ष,मनजीत सिंह,गुरप्रीत सिंह जौली,अमरजीत सिंह छाबड़ा,सतनाम सिंह,राजिंदर सिंह राजा,अविनाश सिंह, अरविंदर सिंह आदि उपस्थित रहे।

 

बेरोजगारी व अनिश्चित भविष्य युवाओं को अवसाद व नशे की ओर धकेल रहा : पीसी तिवारी

अल्मोड़ा, नशा नहीं रोजगार दो आंदोलन की 40 वीं वर्षगांठ पर इस आंदोलन के संयोजक पी. सी. तिवारी ने कहा कि ये आंदोलन सामाजिक बदलाव का आंदोलन है उन्होंने जनता से हर तरह के मफियाराज के खिलाफ संगठित रूप से संघर्ष करने की अपील की। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी व अनिश्चित भविष्य युवाओं को अवसाद व नशे की ओर धकेल रहा है इसलिए सरकार को रोजगार को मौलिक अधिकार बनाने की पहल करनी चाहिए।
पूर्व ब्लॉक प्रमुख लक्ष्मण सिंह मनराल ने कहा कि नशा नहीं रोजगार दो आंदोलन की लगातार निरंतरता सामाजिक बदलाव को एक नई दिशा दे रही है। इस गोष्ठी में स्थानीय तथा विभिन्न स्थानों से आए लोगों ने हिस्सेदारी की साथ ही नशा मुक्ति केंद्र ‘निर्मल दर्शन ‘ हल्द्वानी द्वारा दो नुक्कड़ नाटकों का भी प्रदर्शन किया गया।
उत्तराखंड में फल फूल रहे नशे के बढ़ते व्यापार पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए उत्तराखंड राज्य की अस्मिता व अवधारणा के लिए घातक बताया गया। जिस हेतु नशा नहीं रोजगार दो आंदोलन आज भी 40 वर्ष पूर्ण होने पर भी अपनी प्रासंगिक्ता बनाए हुए है। आज उत्तराखंड राज्य की अस्मिता और उसकी अवधारणा को वोट बैंक की राजनीति ने हाशिये पर धकेल दिया है, जो आने वाले पीढ़ियों के लिए शुभ नहीं है। राज्य में बढ़ते पलायन बेरोजगारी लचर शिक्षा एवं स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के लिए केंद्र व राज्य सरकार की नीतियों को दोषी ठहराते हुए व्यापक जनआन्दोलन की बात की गई। राज्य सरकार जहां समान नागरिकता लागू करने के लिए प्रतिबद्ध दिख रही है वहीं वक्ताओं ने प्रश्न किया कि न समान शिक्षा न समान रोजगार न समान स्वास्थ्य भू कानून और मूल निवास के प्रश्न अपनी जगह फिर कैसी समान नागरिक्ता ?
गोष्ठी में नशे और रोजगार के सवाल पर गंभीर चिंतन मनन के साथ उत्तराखंड की ज्वलंत समस्याओं पर सामूहिक विचार विमर्श का क्रम निरंतर जारी रखने पर आम सहमति व्यक्त की गर्ई। गोष्ठी के अंत में इस अवसर पर एक रैली भी नकली गई।
इस गोष्ठी में बालादत तिवाड़ी (पूर्व जिला पंचायत सदस्य ) उप पा की केंद्रीय महासचिव आनंदी वर्मा मोहन सिंह किरौला , महिला एकता परिषद की मधुबाला कांडपाल , दिशा कॉन्वेंट इंटरमीडिएट स्कूल के संस्थापक और वरिष्ठ सामाजिक कार्यकर्ता आनंद किरौला, खीड़ा क्षेत्र के समाजिक कार्यकर्ता कैप्टन माधो सिंह बिष्ट , रामसिंह , त्रिलोक सिंह , उप पा के जिला अध्यक्ष महेश फुलारा (अल्मोड़ा ) , उपपा के ब्लाक अध्यक्ष जमन सिह मनराल , प्रकाश जोशी जिला महामंत्री , एडवोकेट डिगंबर नेगी , उछास की भावना पांडे, दिनेश उपाध्याय , पाटिया के हेम पांडे , द्वाराहाट के सामाजिक कार्यकर्ता यतीश जोशी , पूर्व ब्लॉक प्रमुख डा. लक्ष्मण सिंह मनराल , जगदीश ममगई , स्थाई राजधानी गैरसैण संघर्ष समिति के अध्यक्ष नारायाण सिंह, सामाजिक कार्यकर्ता परमानंद कांडपाल , पूर्व प्रधान बसभीड़ा धीरज तिवाड़ी ने संबोधित किया।
गोष्ठी में एडवोकेट गोपाल राम , एडवोकेट मनोज पंत , किरन आर्या , राजू गिरि , उछास के दीपांशु पांडे, राकेश कुमार, भानु, सुमित, मंजू देवी , रुकमा देवी, राकेश , मनोज सिंह बिष्ट , हर सिंह बिष्ट नरेन्द्र सिंह, राम लाल, मनीष , निशांत आदि उपस्थित रहे । सभा की अध्यक्षता आनंदी वर्मा, बालादत्त तिवारी तथा संचालन बाल प्रहरी के संपादक उदय किरौला ने किया ।

 

उत्तरांचल प्रेस क्लब को कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने भेंट किये चार एसी

देहरादून, कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने वर्ल्ड फोटोग्राफी दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में ए.सी. (वातानुकूलक) की घोषणा को पूर्ण करते हुए उत्तरांचल प्रेस क्लब को 04 एसी (वातानुकूलक) को भेंट किये।
शुक्रवार को कैंप कार्यालय में ए.सी. वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर उत्तरांचल प्रेस क्लब के अध्यक्ष अजय राणा और क्लब के सदस्यों ने कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी का आभार प्रकट किया। यह एसी पंजाब नेशनल बैंक के सीएसआर मद के द्वारा प्रदान किये गये।
इस अवसर पर प्रेस क्लब के अध्यक्ष अजय राणा, पीएनबी के एजीएम अजीत उपाध्याय, सर्कल हैड विराज डोगरा, मैनेजर सर्वेश सिंह, राजेश बड़थ्वाल, उपाध्यक्ष रश्मि खत्री, सचिव मंगेश कुमार, कनिष्ठ उपाध्यक्ष दरबान सिंह सहित क्लब के अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
MDDA ads

Most Popular

Recent Comments