सनसनीखेज सुहैल हत्याकांड का नैनीताल पुलिस ने 48 घंटों में किया खुलासा

(अतुल अग्रवाल)

हल्द्वानी, जानकारी के मुताबिक विगत 3 अगस्त 2022 को वादी जुबैर सिद्दिकी द्वारा थाना रामनगर पर अपने भाई सुहैल सिद्दिकी के 2 अगस्त 2022 की रात्रि 9 बजे दुकान बन्द करने तथा वापिस घर न आने सम्बन्ध लिखित तहरीर दी गई।
प्राप्त तहरीर के आधार पर थाना रामनगर पर मुकदमा एफ.आई.आऱ.नं0-310/22, धारा 365 भा.द.वि. पंजीकृत कर विवेचना उ0नि0 विजयपाल सिंह के सुपुर्द की गयी। मुकदमा उपरोक्त में प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रामनगर, अरुण कुमार सैनी के दिशा निर्देशन में क्रमशः व0उ0नि0 प्रेमराम विश्वकर्मा , उ0नि0 नीरज चौहान, उ0नि0 विजयपाल सिंह के नेतृत्व में 03 टीमों का गठन कर गुमशुदा की तलाश प्रारम्भ की गयी तो चोरपानी में गुमशुदा सुहैल की स्टेशनरी की दुकान के बाहर लगे सीसीटीवी कैमरों से एक अल्टो कार द्वारा गुमशुदा की मोटर साइकिल नं0 UK 04 L 4832 में टक्कर मारना तथा गुमशुदा सुहैल सिद्दिकी को अल्टो कार में डालने का प्रयास करने की जानकारी प्राप्त हुयी |

मुकदमा उपरोक्त में बयान वादी व अन्य साक्ष्यों के संकलन से ज्ञात हुआ कि गुमशुदा सुहैल सिद्दिकी का उसकी चोरपानी स्थित स्टेशनरी की दुकान के पास ही रहने वाले हरीश राम की लड़की के साथ कई वर्ष पूर्व प्रेम प्रसंग होने तथा इसी प्रेम प्रसंग के कारण हरीश राम की लड़की द्वारा आत्महत्या करने तथा हरीशराम के परिवार द्वारा सुहैल से रंजिश रखने की जानकारी प्राप्त हुई। संदिग्धता के आधार पर हरीशराम के लड़के भरत आर्या को पूछताछ हेतु थाने लाया गया तो सख्ती से पूछताछ में उसने बताया कि मेरे पिताजी की चोरपानी कमल जनरल स्टोर के पीछे लोहार की दुकान है। हमारे पिताजी की दुकान के बगल में ही सुहैल सिद्दीकी, पुत्र-पुत्र नासिर सिद्दिकी, निवासी-नन्दा लाईन रामनगर, जिला नैनीताल की स्टेशनरी की विगत 10 सालों से दुकान है। नौकरी में लगने से पहले मैं सुहैल सिद्दीकी की दुकान में कभी कभार बैठ जाता था और उनके छोटे मोटे काम कर दिया करता था। सुहैल सिद्दीकी मुझे उस समय बहुत पसन्द करता था, मेरी बजह से मेरे घर में भी उसकी अच्छी बोलचाल थी मेरे दोस्ताने की बजह से मेरी छोटी बहन सुहैल की दुकान में उसके कुत्तों के लिए रोटी आदि बना दिया करती थी और कभी कभार झाड़ु-पोंछा कर दिया करती थी। सुहैल सिद्दिकी ने इस बात का फायदा उठाकर मेरी नाबालिग बहन को अपने प्यार के जाल में फंसाकर उसे अपने विश्वास में ले लिया और आये दिन उसके साथ गलत काम करने लगा। उस समय हम लोग बहुत गरीब थे इसलिए मैने सुहैल सिद्दीकी से इस बारे में कोई बात नहीं की। मेरी बहन को सुहैल सिद्दीकी ने इस कदर अपने प्यार के जाल में फांस लिय़ा था कि मेरी बहन सोहेल सिद्दिकी को नहीं भूल पा रही थी, उन्ही दिनों सुहैल सिद्दिकी के अन्य प्रेम प्रसंग के बारे में मेरी बहन को पता चला तो उसने सोहेल सिद्दिकी से अपने प्यार का वास्ता देकर और अपने साथ किये गलत काम का वास्ता देकर शादी करने को कहा तो सुहैल सिद्दिकी ने साफ साफ शब्दों में इन्कार कर दिया।
इसी दुःख में मेरी बहन ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली तथा सुहैल सिद्दिकी जब भी मेरे सामने आता था तो अक्सर घुमा फिराकर मुझे मेरी बहन को लेकर टोन्टबाजी करता था तब मेरा खून खौल जाता था परन्तु उस समय घर की आर्थिक स्थिति अत्यधिक खराब थी और उन दिनों मेरी नौकरी लगी थी तथा मैं ट्रेनिंग पीरीयड में था। इस कारण में सुहैल को कुछ नहीं कह पाता था। परन्तु मैने मन ही मन उसे एक न एक दिन जान से मारने की ठान ली थी। इस बार 14 जुलाई 2022 को मैं एक महीने की छुट्टी पर अपने घर आया था जिस दिन मैं छुट्टी पर आया उसके 3-4 दिन बाद मैं अपनी पिताजी की दुकान पर गया था तो सुहैल सिद्दिकी ने मुझे उपहास भरी नजर देखकर मुझ पर कमेन्ट किया तो मेरे तन बदन में आग लग गयी तथा मुझे अपनी बहन की याद आ गयी मैने उस दिन मन में ठान लिया कि इस बार मैं सुहैल को मौत के घाट उतारकर ही दम लुंगा। इसलिए मैने अपने करीबी दोस्त दिनेश टम्टा, पुत्र भोपाल राम, निवासी नारायणपुर मूल्या रामनगर, नैनीताल से सम्पर्क कर उसे अपने पास बुलाया और सुहैल को रास्ते से हटाने की पूरी योजना बनायी। दिनेश भी तैयार हो गया और हमने दिनांक 02.08.22 को सुहैल को खत्म करने की योजना बनाई, योजना के तहत रात को करीब 08.30 बजे हम दोनों अपनी अल्टो कार से सुहैल की दुकान से कोटद्वार रोड की तरफ करीब 200 मीटर मोड़ पर नहर के किनारे पहुंचे अल्टो कार वहीं पर खड़ी कर हम दोनों सुहैल के आने का इन्तजार करने लगे। मैने सुहैल की रैकी करने के लिए दिनेश को उसकी दुकान के आस पास भेजा कुछ समय बाद दिनेश रैकी कर वापस आया तथा कहा कि तैयार हो जाओ सुहैल आ रहा है हम दोनों अल्टो स्टार्ट कर सुहैल के आने का इन्तजार करने लगे कुछ समय बाद सोहेल अपनी मोटर साइकिल प्लेटिना से जैसे ही हमारे पास पहुंचा तो हमने सुहैल की मोटर साइकिल पर टक्कर मार दी जिससे सुहैल नहर पटरी पर गिर गया उसके सिर पर चोट आ गयी सुहेल खडे होने का प्रयास करने लगा तो हमने गाड़ी में रखे लोहे के रोडों से उसके सिर पर तेज प्रहार किये जिससे मौके पर ही सुहैल की मौत हो गयी। फिर हम दोनों ने सुहैल की लाश को मेरी अल्टो कार में रख दिया। मैं कार चला कर ले गया और सुहैल की मोटर साइकिल नं0 UK 04 L 4832 दिनेश चलाकर ले गया, मैने घटना में प्रयुक्त रॉड रास्ते में फैक दिया औऱ सुहैल का मोबाइल फोन आधार कार्ड पर्स नहर के तेज बहाव में फैक दिये। हम दोनों सुहैल की लाश को लेकर कानिया चौराहे से मालधनचौड़ होते हुए काशीपुर के रास्ते मुरादाबाद काठ रोड में छजलेट थाना क्षेत्र में सड़क के किनारे पहुंचे वहाँ पर हमने सुहैल की मो0सा0 चाबी सहित सड़क के किनारे झाड़ियों में फैक दी औऱ अल्टो में बैठकर सुहैल की लाश को मो0सा0 रखने की जगह से करीब 500 मी0 आगे जाकर मैन रोड से बायी तरफ जाने वाले रास्ते में करीब 200 मी0 अन्दर जाने के बाद गन्ने के खेत में फैक दिया औऱ लाश की पहचान छुपाने के लिए अपने पास प्लास्टिक की बोतल में रखे पैट्रोल को लाश के चेहरे पर छिड़ककर आग लगा दी औऱ उसके बाद हम दोनो वापस रामनगर आ गये ।
अभियुक्त भरत आर्या की निशानदेही पर मृतक सुहैल सिद्दिकी की हत्या किये जाने में प्रयुक्त अल्टो कार, आलाकत्ल रामनगर क्षेत्रान्तर्गत से तथा मृतक सुहैल की मोटर साइकिल प्लेटिना व मृतक सुहैल का शव जनपद मुरादाबाद के थाना छजलैट क्षेत्र से बरामद किया गया। उक्त सनसनीखेज हत्याकांड का अनावरण आज श्री जगदीश चंद्र, श्रीमान पुलिस अधीक्षक अपराध/यातायात नैनीताल द्वारा श्री हरवंश सिंह एसपी सिटी हल्द्वानी, श्री बलजीत सिंह भाकुनी क्षेत्राधिकारी रामनगर, श्री अरुण कुमार सैनी प्रभारी निरीक्षक कोतवाली रामनगर सहित अधीनस्थ पुलिस बल की उपस्थिति में कोतवाली रामनगर परिसर में उपरोक्त सनसनीखेज हत्याकांड का प्रेस वार्ता के माध्यम से खुलासा किया गया |
अभियुक्त उपरोक्त को आज न्यायिक अभिरक्षा में भेजा जा रहा है ।
बरामदगी 1- हत्या में प्रयुक्त वाहन अल्टो कार नं0 UP 16 L 0115
2- मृतक की मोटर साइकिल नं0 UK 04 L 4832
3- हत्या में प्रयुक्त लोहे की रोड आलाकत्ल
गिरफ्तारी टीम में
1- एस.एच.ओ. रामनगर श्री अरुण कुमार सैनी -2- व0उ0नि0 प्रेम विश्वकर्मा -3- उ0नि0 नीरज चौहान -4- उ0नि0 विजय पाल सिंह
5- एचसीपी नन्दन सिंह नेगी – 6- कानि0 875 सीपी हेमन्त सिंह – 7- कानि0 836 संजय सिंह – 8- कानि0 904 गगन भण्डारी –
9- कानि0 297 भूपेन्द्र सिंह -10- कानि0 71 राजेश कुमार ,- 11- कानि0 618 जयवीर सिंह ,- 12- कानि0 455 दीवान सिंह
13- कानि0 SOG अनिल गिरी

 

 

फोन पर अश्लील बातें की फिर घर में घुसकर की छेड़छाड़, युवती की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा किया दर्जयुवती ने फोन कर मांगे 11 हजार रुपए, न देने पर अश्लील वीडियो वायरल करने की  दी धमकी | The girl called and asked for 11 thousand rupees, threatened to  make the

सितारगंज, यूएस नगर के सितारगंज में एक युवक ने युवती से फोन पर अश्लील बातें की और फिर उसके बाद घर में घुसकर छेड़छाड़ की। युवती की शिकायत पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। क्षेत्र के एक गांव की रहने वाली युवती ने पुलिस को तहरीर देकर बताया कि कफील अहमद निवासी ग्राम मिटौरा थाना सितारगंज कई बार फोन करके अश्लील बाते कर परेशान करता रहता है। वह कुछ दिन तक इन बातों को नजरअंदाज करती रही। लगभग एक माह पूर्व कफील मेरे घर में घुस आया। जिसकी शिकायत अपने परिवार वालों से की। इस पर युवती के पिता ने पिता आरोपी के घर समझाने गए। लेकिन आरोपी के घर वालों ने उसे कुछ नहीं कहा।

29 जुलाई की रात दो बजे कफील अहमद अपने हाथ में चाकू लेकर पुनः युवती के घर में घुस गया, वह युवती के कमरे में पहुंच कर उसे चाकू के बल पर घमकाने लगा और उसके साथ छेड़खानी करने लगा।
युवती के चीखने चिल्लाने पर उसका भाई जाग गया। आवाज सुनकर वह युवती के कमरे की तरफ आया और उसने कफील को पकड़ लिया। दोनों में हाथापाई मारपीट भी हुई। बाकी घरवालों के जागने पर कफील भाग गया।

युवती का कहना है कि परिवारजनों को कफील अहमद के जान माल का खतरा पैदा हो गया है। युवती के मुताबिक कफील अहमद के घर वालों और अन्य लोगों से जब यह बात बताई गई तो उन्होंने इज्जत का मामला होने की बात कहकर कफील अहमद के खिलाफ रिपोर्ट न करने की सलाह दी।
अब पता चला है कि कफील अहमद व उसके पिता द्वारा एक झूठी रिपोर्ट युवती के परिवारजनों के खिलाफ दी गई है। जबकि युवती व उसके परिजन लोक लाज व लोगों के कहने पर कफील अहमद के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज नहीं करवा सके। युवती की शिकायत पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है |

 

ठाकुर सुंदर सिंह चौहान वृद्धाश्रम करायेगा गरीब कन्या का विवाह

कोटद्वार, सतपुली नगर के प्रसिद्ध समाज सेवी और कर्मयोगी ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी अपने समाज हित के कार्यों के लिए प्रसिद्ध हैं , हर जरूरतमंद की मदद के लिए ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी अग्रिम रहे हैं सरल हृदय के ठाकुर सुंदर सिंह चौहान ने गरीब विधवा महिलाओं की दो कन्याओं के विवाह का दायित्व भी ले रखा है अपनी सरलता उदारता के लिए ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी उत्तराखण्ड ही नही पूरे देश में जाने जा रहे हैं ठाकुर सुंदर सिंह चौहान वृद्धाश्रम में तमिलनाडु राज्य से भी वृद्धजन आ रहे हैं ।इसी क्रम में जब एक कन्या के पिता ने अपनी पुत्री का विवाह आश्रम से सम्पन्न करवाने की इच्छा जाहिर की तो वे सहर्ष तैयार हो गये ।

इसी माह 3 अगस्त को ठा0 सुन्दर सिंह चौहान वृद्ध आश्रम मलेठी सतपुली पौड़ी गढ़वाल उत्तराखंड में बंधुवर्ग सेवा समिति की बैठक का आयोजन किया गया। जिसमें श्री गजे सिंह नेगी जी के आवेदन पर खुल कर चर्चा की गई जिसमें उन्होंने अपनी पुत्री का विवाह आयोजन आश्रम में कराने की इच्छा जताई है। विवाह आयोजन को सफलता पूर्वक सम्पन्न कराने हेतु सभी सदस्य जनों ने अपने-अपने स्तर की जिम्मेदारी को खुले दिल से लिया।और तय किया की विवाह कार्यक्रम हमारे पारंपरिक तौर तरीकों से सम्पन्न कराया जाएगा। जिसमें हमारे संस्कृति की झलक मिले जो विलुप्त होती जा रही है।साथ ही तय किया गया की कार्यक्रम स्थल पर कोई भी व्यक्ति मंदिरा पान किये हुए न हो।जो कोई भी इस रूप में पाया गाया उसे उसी समय गेट से बाहर कर दिया जाएगा। बैठक की अध्यक्षता श्री रणधीर सिंह रावत जी द्वारा की गई। बैठक में समिति के संरक्षक ठा0 सुन्दर सिंह चौहान अध्यक्ष श्रीमती माया देवी, कोषाध्यक्ष श्रीमती नीतिका चौहान, श्री गंगा सिंह बिष्ट, श्री त्रिलोक सिंह नेगी, श्री विक्रम सिंह रावत, श्रीमती नीलम चौहान, श्री राजेन्द्र प्रसाद नैथानी, श्री प्रमोद रौथान, श्री सरितानन्दन डुकलान, श्री गोतम सिंह बिष्ट, श्री जगमोहन सिंह ड़ागी, देवेन्द्र सिंह, श्री जनार्दन बुडांकोटी, श्रीमती जसोदा बुड़ाकोटी आदि उपस्थित रहे। इसके पश्चात ठाकुर सुंदर सिंह चौहान जी ने आश्रम के पास फलदार वृक्षों का रोपण किया उन्होनें कहा कि वृक्ष पृथ्वी और जीवन को बचाने में सबसे महत्वपूर्ण हैं पृथ्वी तथा जीवन को बचाने के लिए हर व्यक्ति को वृक्ष लगाने चाहिए।