संसद से लेकर राष्ट्रपति भवन तक कांग्रेस का प्रदर्शन, सरकार के खिलाफ काले कपड़े पहनकर लगाये नारे

नयी दिल्ली, कांग्रेस ने महंगाई, बेरोजगारी, जीएसटी जैसे विभिन्न मुद्दों को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए संसद से लेकर सड़क तक विरोध प्रदर्शन का आयोजन किया। ऐसे में संसद परिसर में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्षा सोनिया गांधी के नेतृत्व में पार्टी सांसदों ने विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान तमाम कांग्रेसी सांसद काले कपड़ों में दिखाई दिए।

कांग्रेस सांसदों के विरोध प्रदर्शन का वीडियो सामने आया। जिसमें कांग्रेस सांसद ‘जीएसटी वापस लो, वापस लो’ के नारे लगाते हुए दिखाई दे रहे हैं। कांग्रेस ने ट्वीट किया कि महंगाई के खिलाफ आवाज़ उठाने…आओ मिलकर साथ चलें। संसद से सड़क तक…भाजपाई नाकामी के खिलाफ।

इसके बाद कांग्रेस सांसदों ने संसद से लेकर राष्ट्रपति भवन तक विरोध मार्च निकाला। इस मार्च में राहुल गांधी ने भी हिस्सा लिया। इसी बीच कांग्रेस सांसद राजीव शुक्ला ने कहा कि हम राष्ट्रपति भवन तक मार्च करने की कोशिश कर रहे थे लेकिन पुलिस ने हमें रोक दिया। उनका कहना है कि धारा 144 सीआरपीसी लगाई गई है और वे हमें विरोध करने की अनुमति नहीं दे रहे हैं। सभी सांसद खुद को गिरफ्तारी के लिए पेश करेंगे। हम आगे बढ़ने की कोशिश कर रहे हैं। हम लोगों के मुद्दों के लिए लड़ रहे हैं।

कांग्रेस सांसद पी चिदंबरम ने कहा कि यह विरोध महंगाई और अग्निपथ को लेकर है। मूल्य वृद्धि सभी को प्रभावित करती है। एक राजनीतिक दल के रूप में और निर्वाचित प्रतिनिधियों के रूप में हम लोगों के बोझ और भय की शिकायतों को आवाज देने के लिए बाध्य हैं। हम यही कर रहे हैं।

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने कहा कि आज लोग महंगाई से कुचले जा रहे हैं, देश में संकट है। लेकिन सरकार को कोई फर्क नहीं पड़ता है।
कांग्रेस नेता और वायनाड सांसद राहुल गांधी ने कहा कि इस तानाशाह सरकार को डर लग रहा है। भारत की हालत से, कमरतोड़ महंगाई और ऐतिहासिक बेरोज़गारी से, अपनी नीतियों से लायी बर्बादी से। जो सच्चाई से डरता है, वो ही आवाज़ उठाने वालों को धमकाता है |