रुद्रप्रयाग: विवाहिता की आत्महत्या मामले में पति गिरफ्तार, सास व ससुर फरार

रुद्रप्रयाग। महिला के आत्महत्या मामले में पुलिस ने मृतक के पति को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है, जबकि सास व ससुर फरार बताए जा रहे हैं। विवाहित के मायके पक्ष ने हत्या की आशंका जताते हुए पति और सास-ससुर के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था। जनपद के अगस्त्यमुनि थाना क्षेत्र के चंद्रापुरी में बीती पांच नवंबर को विजया भारती द्वारा फांसी लगाकर आत्महत्या का मामला सामने आया था। पुलिस उपाधीक्षक गणेश कोहली ने बताया कि सूचना पर पुलिस फांसी वाले स्थान पर पहुंची, महिला को फंदे से हटाया।

मामला संदिग्ध होने पर मायके पक्ष ने ससुरालियों पर हत्या का आरोप लगाया गया। इस संबंध में पुलिस में तहरीर दी। बताया कि पुलिस ने इस पूरे मामले की विवेचना की। विवेचना के दौरान कई साक्ष्य ऐसे पाए गए जिससे यह साफ संदेह होता है कि ससुराल में लगातार महिला का उत्पीड़न किया जा रहा था। सबूतों के आधार पर महिला के पति सुभाष चंद्र, ससुर शिवलाल टम्टा व महिला की सास सुदामा देवी के खिलाफ दहेज उत्पीड़न व हत्या का मामला दर्ज किया गया। मृतका के पति सुभाष चंद्र को उनके घर से गिरफ्तार किया गया। जबकि महिला के सास व ससुर अब फरार चल रहे हैं, पुलिस लगातार दोनों आरोपियों की ढूंढ खोज कर रही है। पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि मामले की निष्पक्ष जांच की जा रह है। जल्द अन्य दो आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

गोशाला जा रहे ग्रामीण पर भालू ने किया हमला

गोपेश्वर, गोशाला में मवेशियों को चारापत्ती देने गए ग्रामीण पर भालू ने हमला कर दिया। ग्रामीणों के चिल्लाने के बाद भालू जंगल की ओर भागा। ग्रामीणों ने वन विभाग से भालुओं के आतंक से निजात दिलाने की मांग की है। बताया गया कि दशोली विकासखंड(गोपेश्वर) के नैथोली गांव निवासी मनीष चंद्र खनेड़ा सुबह मवेशियों को घास देने जा रहे थे। गोशाला के निकट ही घात लगाए भालू ने उस पर हमला कर दिया। इस दौरान मनीष ने हो हल्ला किया। जिससे ग्रामीण भी जाग गए और ग्रामीणों द्वारा चिल्लाने व पत्थर, डंडे फेंकने के बाद भालू जंगल की ओर भागा। ग्राम प्रधान रोशन लाल खनेड़ा ने वन विभाग को शिकायती पत्र भेजकर भालू के आतंक से निजात दिलाने की मांग की है।