खराब मौसम के चलते एक बार फिर रोकी केदारनाथ धाम की यात्रा

रुद्रप्रयाग, प्रशासन ने केदारानाथ धाम की यात्रा को आज एक बार फिर रोक दिया गया। मंगलवार सुबह 7:00 बजे तक 6500 श्रद्धालुओं को धाम के लिए किया गया और सुबह 9:45 पर दस हजार श्रद्धालुओं को रवाना करने के बाद बारिश और बर्फबारी के चलते प्रशासन ने यात्रा रोक दी। जब तक यात्रा रोकी साढ़े दस हजार श्रद्धालु केदारनाथ धाम के लिए रवाना हो चुके थे। यात्रा में खराब मौसम प्रशासन के लिए चुनौती बनता जा रहा है।

केदारनाथ धाम यात्रा पर सोमवार को रोक लगाने के बाद मंगलवार सुबह 7 बजे प्रशासन ने केवल 6500 लोगों को सोनप्रयाग से केदारनाथ धाम के लिए रवाना किया। धाम में बारिश और बर्फबारी को देखते हुए प्रशासन सतर्क है। मौसम की स्थिति को देखते हुए बीच-बीच में यात्रियों को रोका जा रहा है। मौसम के कारण हेली सेवा प्रभावित भी है। सेक्टर मजिस्ट्रेट ने बताया फिलहाल केदारनाथ में अभी 3500 से अधिक यात्री मौजूद हैं।
केदारनाथ और यमुनोत्री धाम में बर्फबारी जारी है। वहीं सुबह से लगातार बारिश के कारण यमुनोत्री धाम के आस-पास ठंड होने लगी है। इसी कारण श्रद्धालुओं को भी अपने स्वास्थ्य को लेकर सतर्क रहने के लिए कहा गया है। यमुनोत्री घाटी में बर्फबारी बारिश के कारण जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

 

पहाड़ों पर बारिश, चोटियों पर बर्फबारी के बाद ठंडक बड़ी,Weather Update Mercury Down After Fresh Snowfall In Uttarakhand And  Himachal Pradesh | पहाड़ों पर बदला मौसम का मिजाज, उत्तराखंड और हिमाचल  प्रदेश में ताजा बर्फबारी के बाद लुढ़का ...

रुद्रप्रयाग, पहाड़ों पर झमाझम बारिश से जहां ठंड बढ़ गई वहीं यमुनोत्री धाम की चोटियों पर बर्फबारी से यात्रा पर आये श्रद्धालुओं को दिक्कतों का सामना करना पड़ा । उधर, श्रीनगर और आसपास के क्षेत्रों में रात से हल्की बारिश जारी है। नई टिहरी और आसपास के क्षेत्रों में भी बीती रात से झमाझम बारिश होने से मौसम में ठंडक आ गई है।

बारिश के चलते मौसम सुहाना हुआ, साथ ही जंगलों में लगी आग भी शांत हो गई है। मौसम के बदले मिजाज से सोमवार को कुमाऊं क्षेत्र के कुछ इलाकों में जहां भारी बारिश, वहीं दून समेत मैदानी क्षेत्रों में भी हल्की बारिश के साथ ही तेज आंधी की संभावना मौसम विभाग ने जताई थी।

पर्वतीय इलाकों में भारी बारिश, बिजली गिरने और 70 से 80 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाओें के चलने की भी संभावना जताई गई थी। भारी बारिश को देखते हुए मौसम विभाग ने येलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह के मुताबिक कुमाऊं क्षेत्र के कुछ इलाकों में भारी बारिश होगी। साथ ही तेज गर्जना के साथ बिजली गिरने की भी संभावना है।