उत्तराखंड में पूरे देश और दुनिया की श्रद्धा के केंद्र चारधाम हैं, इसलिए उत्तराखंड का विकास जरूरी है : अमित शाह

रुद्रप्रयाग, उत्तराखंड़ में दोबारा सत्तॎ में काबिज होने के लिये भाजपा पूरी ताकत के साथ मैंदान में उतर गयी, आज शुक्रवार को उत्तराखंड़ पधारे केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने रुद्रप्रयाग में घर-घर जाकर लोगों से भारतीय जनता पार्टी को वोट देने की अपील की। घर-घर जनसंपर्क अभियान की शुरुआत से पहले अमित शाह ने बाबा रुद्रनाथ मंदिर, रुद्रप्रयाग में पूजा अर्चना की। इसके बाद अमित शाह ने घर-घर जनसंपर्क अभियान के तहत लोगों से बीजेपी के लिए वोट मांगे।

 

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने घर-घर जनसंपर्क करने के बाद रुद्रप्रयाग में उत्तराखंड में पूर्व सैनिकों के साथ संवाद किया। इस दौरान अमित शाह ने कहा- पांच साल पहले मैं उत्तराखंड में आया था तब मैंने देवभूमि की जनता को कहा था कि अगर हमें पूर्ण बहुमत की सरकार वीरभूमि की जनता देती है तो हमारा वादा है कि जो काम 70 साल में नहीं हुए हैं वो हम पांच साल में करके दिखाएंगे।

गॄह मंत्री शाह ने कहा- वर्षों तक उत्तराखंड के लोगों ने राज्य की रचना के लिए संघर्ष किया। कांग्रेस के दमन को सहा। आज रामपुर तिराहे की घटना को कोई भुला नहीं सकता, उत्तराखंड के नौजवान अपने अधिकार के लिए लड़ते हुए शहीद हुए थे। श्रद्धेय अटल जी की सरकार आई तब उन्होंने उत्तराखंड की रचना की। उत्तराखंड में पूरे देश और दुनिया की श्रद्धा के केंद्र चारधाम हैं, इसलिए उत्तराखंड का विकास जरूरी है।
शाह ने कहा- देश का कोई भू-भाग ऐसा नहीं होगा, जहां से लोग चारधाम में नहीं आते होंगे। देश में कोई ऐसा छोर भी नहीं होगा, जिसकी सुरक्षा के लिए उत्तराखंड का जवान तैनात न हो।
शाह ने कहा कि मैं आज यहां भाजपा की ओर से, पूर्व सैनिकों और उत्तराखंड के निवासियों को धन्यवाद देने आया हूं कि आपने जिस तत्परता और वीरता के साथ देश की सुरक्षा की है इसी के कारण आज हमारे देश की सीमाएं सुरक्षित हैं। मैं जब जनरल बिपिन रावत जी को अंतिम श्रद्धांजलि देने गया था, तो उनके घर में वीरता औऱ हौसले का माहौल देखकर हैरान था। किसी के मन में किसी भी तरह की ग्लानि नहीं थी, सबके मन में यही भाव था कि जनरल साहब देश के लिए काम करते-करते शहीद हुए हैं।

शाह ने आगे कहा- भाजपा की स्थापना से ही देश की सुरक्षा, सैन्य बलों का आधुनिकीकरण, सैनिकों को सुविधा और रिटायर्ड सैनिकों की सुविधाओं में बदलाव करने के लिए भाजपा हमेशा कटिबद्ध रही है। 50 के दशक से आज तक हमारा कोई भी चुनावी घोषणा पत्र निकाल कर देख लीजिए, अनेक ऐसे काम भाजपा ने किए हैं जिससे देश की सेना का सम्मान बढ़ने का काम हुआ है।
अमित शाह ने कहा- मोदी जी ने 2015 में वन रैंक-वन पेंशन को लागू किया है। यही बताता है कि भाजपा की प्राथमिकता क्या है। 2013-14 में रक्षा बजट 2 लाख करोड़ रुपये रह गया था। 2021-22 में रक्षा बजट को बढ़ाकर 4 लाख 78 हजार करोड़ रुपये करने का काम मोदी सरकार ने किया है। सेना के आधुनिकीकरण और देश को शस्त्रों के उत्पादन में आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में भी मोदी सरकार ने ढेर सारे काम किये हैं। सैनिकों को आधुनिक रक्षा सामग्री मिले, क्वालिटी में कोई कॉन्प्रोमाइज न हो, ये भाजपा सरकार ने तय किया है। भाजपा सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता में सेना और सेना के जवान हैं। नरेन्द्र मोदी जी ने इसे भाषणों में नहीं, सरकार की योजनाओं में चरितार्थ किया है

अमित शाह ने कहा- कांग्रेस की सरकारों को ‘फेल सरकार’ को उपमान दिया जाता है। भाजपा की सरकारों को ‘डबल इंजन’ की सरकार का उपनाम दिया जाता है। आने वाले समय में देवभूमि के युवाओं को पलायन न करना पड़े इस प्रकार की सरकार हम उत्तराखंड को देंगे।