Sunday, February 25, 2024
Header Add UKDIPR
HomeStatesMaharashtraगुवाहाटी में शिवसेना के 35 बागी और 7 निर्दलीय विधायकों का शक्ति...

गुवाहाटी में शिवसेना के 35 बागी और 7 निर्दलीय विधायकों का शक्ति प्रदर्शन

नयी दिल्ली, महाराष्ट्र की सियासत एक बार फिर से जमकर सुर्खियां बटोर रही है। जहां एक तरफ महाविकास अघाड़ी गठबंधन यह समझने की कोशिश कर रहा है कि एकनाथ शिंदे के नेतृत्व में बागी एक दिन में एकत्रित नहीं हुए हैं और उनकी भनक उन्हें कैसे नहीं लगी। वहीं दूसरी तरफ शिंद कैंप ने शक्ति प्रदर्शन किया और एकनाथ शिंदे के प्रति अपनी निष्ठा प्रकट की और उद्धव ठाकरे को अलग थलग कर दिया।

बागी विधायकों ने लगाए नारे

गुवाहाटी के रेडिसन ब्लू होटल में मौजूद शिवसेना के बागी विधायकों का वीडियो सामने आया। इस वीडियो में दिखाई दे रहा है कि बागी विधायकों ने ‘शिंदे साहब तुम आगे बढ़ो, हम तुम्हारे साथ हैं’ के जमकर नारे लगाए। समाचार एजेंसी एएनआई ने बागी विधायकों का वीडियो जारी किया। जिसमें शिवसेना के बागी विधायकों और निर्दलीय विधायकों के साथ कुल 42 विधायक दिखाई दे रहे हैं।

रेडिसन ब्लू में मौजूद 42 विधायकों में शिवसेना के 35 और 7 निर्दलीय विधायक मौजूद हैं। जिन्होंने शक्ति प्रदर्शन किया। उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार गिराने के लिए एकनाथ शिंदे को शिवसेना के 37 विधायकों की जरूरत है। ऐसे में उन्होंने उम्मीद जताई है कि शिवसेना के और भी विधायक जल्द ही उनके गुट में शामिल होंगे।

लगातार बैठकें कर रही भाजपा

एकनाथ शिंदे के शक्ति प्रदर्शन को देखने के बाद भाजपा की महाराष्ट्र इकाई की बैठक हुई। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक, बैठक में सरकार गठन और आगे की प्रक्रिया को लेकर चर्चा हुई। कहा जा रहा है कि भाजपा ने एकनाथ शिंदे को एक प्रस्ताव दिया है। जिसके मुताबिक, भाजपा के साथ सरकार का गठन करने पर प्रदेश के 8 कैबिनेट मंत्रालय और 5 राज्य मंत्रालय उन्हें दिए जा सकते है।

उद्धव पर भारी पड़ा विधायकों का जवाब

एकनाथ शिंदे ने संजय शिरसाट के पत्र को जारी किया। जिसमें उद्धव ठाकरे को भावुकता भरा जवाब दिया गया। इस पत्र के माध्यम से उद्धव ठाकरे को शिवसेना के बागी विधायकों की राय से अवगत कराया गया। साथ ही शिवसेना के मूल मुद्दों का भी जिक्र किया गया। जिसमें हिंदुत्व, अयोध्या, राम मंदिर मुख्य मुद्दा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
MDDA ads

Most Popular

Recent Comments