Wednesday, April 17, 2024
HomeStatesUttarakhandपंजाब नेशनल बैंक ने मनाया 74वां गणतंत्र दिवस

पंजाब नेशनल बैंक ने मनाया 74वां गणतंत्र दिवस

देहरादून- देश के प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक, पंजाब नैशनल बैंक, ने गुरुवार को हर्ष व उल्लास के साथ अपने नई दिल्ली स्थित प्रधान कार्यालय पर 74 वां गणतंत्र दिवस मनाया। समारोह की शुरुआत पीएनबी एमडी एवं सीईओ श्री अतुल कुमार गोयल के द्वारा पीएनबी के कार्यपालक निदेशकगण, सीवीओ, मुख्य महाप्रबंधकगण व वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में ध्वजारोहण के साथ हुई।

 

इस अवसर पर बोलते हुए पंजाब नैशनल बैंक के एमडी एवं सीईओ, श्री अतुल कुमार गोयल, ने कहा “26 जनवरी 1950 को संविधान को लागू करने के साथ ही गणतंत्र दिवस हमें अपने महान योद्धाओं के बलिदान को याद करने का एक और अवसर देता है, जिनके बलिदान के बिना हम आज अपनी आजादी और लोकतंत्र का आनंद नहीं ले रहे होते। बीते 74 सालों में हमारे देश ने वित्तीय सेवाओं, आईटी, इंफ्रास्ट्रक्चर आदि के क्षेत्र में बहुत प्रगति की है और हमारी गणना विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था के तौर पर की जाती है। कोरोना वायरस महामारी से ग्रस्त होने और भू-राजनैतिक तनावों के बाद भी हम धैर्यवान राष्ट्र के तौर पर उभर कर सामने आए हैं और निरंतर प्रगति की ओर हमारी यात्रा हमें जल्द ही 2030 तक तीसरी सबसे बड़ी आर्थिक महाशक्ति बनाएगी।“पीएनबी एमडी एवं सीईओ ने तिमाही के दौरान हासिल की गयी व्यावसायिक उपलब्धियों को रेखांकित किया और कर्मचारियों के लिए नई एचआर की पहल की घोषणा की |

 

समारोह के एक अन्य हिस्से में पीएनबी ने बैंक के सीएसआर प्रयासों को सहयोग देने व प्रोत्साहित करने के मूल उद्देश्यों के लिए गठित, बैंक की वरिष्ठ महिला अधिकारियों व वरिष्ठ अधिकारियों की पत्नियों के संगठन पीएनबी प्रेरणा के साथ मिलकर पश्चिम दिल्ली के उत्तम नगर में स्थित सर्वोदय बाल विद्यालय को बुक शेल्फ्स, वाटर डिस्पेंसर्स, वालीवाल व सीलिंग फैन्स वितरित किया। पीएनबी ने प्रेरणा सोशल डेवलपमेंट एंड वेलफेयर सोसायटी (एक स्वयंसेवी संस्थान) को विंटर जैकेट्स, स्वेटर्स, वाटर स्टीमर्स, इलेक्ट्रिक कैटिल्स और हीटिंग बैग्स भी वितरित किए।

 

कार्यक्रम का समापन देश की शांति, समृद्धि और साहस के प्रतीक के तौर पर तिरंगे गुब्बारों को आकाश में छोड़कर किया गया। इस अवसर पर पीएनबी परिवार की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति से पूरा परिसर गूंज उठा।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments