होली पर दो पक्षों में बवाल चले लाठी-डंडे, मरीज को लेने जा रही एंबुलेस के कर्मी को लोगों ने पीटा

देहरादून, देश के साथ साथ उत्तराखण्ड़ में भी होली की धूम रही। होली के रंगों में मस्त नशेड़ियों ने कई जगहों पर जमकर बवाल मचाया है। ऋषिकेश के होली के दिन बीमार को एसपीएस राजकीय चिकित्सालय लेकर आए 108 सेवा के दो कर्मचारियों के साथ वहां पहले से मौजूद करीब एक दर्जन लोगों ने मारपीट कर दी। इतना ही नहीं यह लोग एंबुलेंस की चाबी लेकर भाग गए। वहीं दूसरी ओर होली के मौके पर श्यामपुर थाना क्षेत्र में दो समुदाय के लोगों के बीच रंग डालने को लेकर जमकर बवाल हुआ। देखते ही देखते हालात इतने बिगड़ गए की दोनों पक्षों के बीच जमकर लाठी डंडे व पत्थर चलने लगे। वहीं तीसरा मामला चमोली का है यहां होली पार्टी में रंग लगाने को लेकर दो पक्षों के बीच हुई लड़ाई में अवर अभियंता समेत दो लोग घायल हो गए। जिन्हें हायर सेंटर रेफर किया गया है |

मिली जानकारी के अनुसार ऋषिकेश में शुक्रवार की शाम करीब 7:00 बजे रायवाला क्षेत्र की 108 सेवा एंबुलेंस को दो घायल को चिकित्सालय लाने के लिए कॉल आयी। कॉल अटेंड करते हुए 108 सेवा के पायलट जयदेव और इएमटी अनिकेत वाहन लेकर निकलने लगे। इस बीच हॉस्पिटल के अंदर ही एंबुलेंस को रास्ता देने को लेकर विवाद हुआ था और हमलावर नशे में थे। इन्होंने इमरजेंसी मेडिकल टेक्नीशियन अनिकेत और पायलट जयदेव के साथ मारपीट की। मदद के लिए यह दोनों चिकित्सालय के अंदर भागे। बाद में सूचना पाकर चिकित्सालय के अन्य कर्मचारी मौके पर पहुंचे। हमलावरों की संख्या करीब एक दर्जन बताई गई है। इन्होंने एंबुलेंस का शीशा भी तोड़ दिया। वहीं हमलावर एंबुलेंस की चाबी लेकर मौके से भाग गए। बताया जाता है कि यह लोग ढाल वाला मुनिकीरेती क्षेत्र के रहने वाले हैं। एंबुलेंस कर्मियों ने कोतवाली पुलिस को सूचना दी, जिसके बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंची। पुलिस मामले की जांच में जुटी है। ॠषिकेश के श्यामपुर थाना क्षेत्र में होली के दौरान दोपहर बाद दो समुदाय के लोग रंग डालने को लेकर आमने सामने आ गए। मामला देखते ही देखते मारपीट तक बढ़ गया। दोनों पक्षों की ओर से लाठी डंडे चले और पत्थर बाजी हुई। जिसमें एक पक्ष के पांच जबकि, दूसरे पक्ष के चार लोगों को चोटें आई है। वहीं दूसरी ओर चमोली में ग्रामीण निर्माण विभाग गोपेश्वर में अपर सहायक अभियंता के पद पर कार्यरत संदीप राणा व जिला बचत अधिकारी अर्शित गोंदवाल अपनी पत्नी व अन्य लोगों के साथ मंडल स्थित लोनिवि गेस्ट हाउस में होली की पार्टी के लिये गए थे। जहां अचानक 4 से 5 अज्ञात लोग मौके पर पहुंचे और उनके साथ मौजूद महिलाओं को रंग लगाने की जिद्द करने लगे। वहीं, जब संदीप और अर्शित ने उनका विरोध किया तो अज्ञात लोगों द्वारा उनके सिर पर लोहे की रॉड से हमला कर दिया। जिससे संदीप और अर्शित लहूलुहान होकर जमीन पर गिर गए। वहीं, दोनों घायलों को विभागीय लोगों ने आनन-फानन में जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। जहां घायलों की हालत गंभीर देखते हुए चिकित्सकों ने उन्हें हायर सेंटर रेफर कर दिया है।