Sunday, February 25, 2024
Header Add UKDIPR
HomeTrending Nowमुनस्यारी आपदाग्रस्त : नाराज पंचायत प्रतिनिधियों और सामाजिक संगठनों किया उपवास,...

मुनस्यारी आपदाग्रस्त : नाराज पंचायत प्रतिनिधियों और सामाजिक संगठनों किया उपवास, तहसीलदार ने ज्ञापन लेने आने से किया मना

मुनस्यारी, ।
आपदाग्रस्त मुनस्यारी मुख्यमंत्री के भ्रमण की लिस्ट में नहीं होने से नाराज पंचायत प्रतिनिधियों,सामाजिक संगठनो ने दो घंटे उपवास में बैठकर अपना विरोध जताया. एसडीएम कार्यालय से बीस मीटर की दूरी पर बैठे तहसीलदार अबरार अहमद ने ज्ञापन लेने के लिए आने से मना कर दिया, इतना ही नहीं एसडीएम को बुलाने की नसीहत भी दे दी. इस व्यवहार से बौखलाए आंदोलनकारियों ने एसडीएम के दरवाजे पर ज्ञापन चस्पा कर दिया.
आपदाग्रस्त मुनस्यारी तहसील में 18 जुलाय से लगातार विनाशकारी आपदा की घटनाएं हो रही है. बीते गुरुवार को जब मुख्यमंत्री त्रिवेंन्द्र सिंह रावत के जिले के आपदा प्रभावित क्षेत्र में आने की सूचना मिली, जिसमें आपदाग्रस्त मुनस्यारी का कहीं भी उल्लेख नहीं था. इससे नाराज जिपं सदस्य जगत मर्तोलिया ने शुक्रबार को ही एसडीएम के माध्यम से मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर इस दौरे पर कडी़ आपत्ति जताई. मांग रखी थी कि सीएम साहब मुनस्यारी जरुर आएं.
जिपं सदस्य ने कहा था कि अगर सीएम नहीं आए तो वे उनके हवाई सर्वे के दिन विरोध दर्ज करने के लिए दो घंटे का उपवास किया जायेगा. आज इसी क्रम में एसडीएम कार्यालय के आगे ” मैं मुनस्यारी हूं” जिपं सदस्य जगत मर्तोलिया के नेतृत्व में पंचायत प्रतिनिधियों के अलावा व्यापार उद्योग मंडल, मल्ला जोहार विकास समिति, जोहार क्लब, मुनस्यारी महोत्सव समिति, महिला मंगल दल, किसान संगठन आदि संगठनो के प्रतिनिधियों सहित धापा के आपदा प्रभावितो ने दो घंटे सांकेतिक उपवास किया. ज्ञापन देने के लिए उपवास स्थल पर किसी भी अधिकारी के न आने पर गहरी नाराजगी व्यक्त किया गया.
जिपं सदस्य जगत मर्तोलिया ने कहा कि आपदा की पहली घटना के दो- चार दिन हवाई सर्वे की बात करना समझ से परे है. अब तो सीएम को धरती में उतरकर अपने आंखो से आपदा से हुए नुकसान का मंजर देखकर राहत, सुरक्षा व पुर्नवास पर ठोस पहल धरती में करना चाहिए.
मर्तोलिया ने कहा कि हम मुनस्यारी क्षेत्र की उपेक्षा पर चुप नहीं बैठेंगे. सीएम के हवाई दौरे को हवाई हवा का नाम दिया गया.
इस मौके पर धापा की ग्राम प्रधान इन्द्रा रिलकोटियां, श्रीराम सिंह धर्मसत्तू, खुशाल सिंह धर्मसत्तू,दीपू धप्वाल, पुष्कर नित्वाल, आर.एस.रावत,राजू पांगती, हरीश चिराल, गंगा सिंह रावत, शांति पंचपाल, दमयंती बृजवाल, भवानी टोलिया, चन्द्रा धप्वाल आदि मौजूद रहे.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
MDDA ads

Most Popular

Recent Comments