Friday, March 1, 2024
HomeStatesUttarakhandहरिद्वार में दौड़ेगी भारत की पहली पॉड टैक्सी कार

हरिद्वार में दौड़ेगी भारत की पहली पॉड टैक्सी कार

(शहजाद अली)

हरिद्वार, उत्तराखंड की धामी सरकार ने हरिद्वार जिले को एक और बड़ी सौगात दी है। उत्तराखंड मेट्रो कॉरपोरेशन ने हरिद्वार में पॉड टैक्सी चलाने का प्रस्ताव तैयार किया है। मतलब हरिद्वार में पॉड टैक्सी चलाई जाएगी। पॉड टैक्सी के लिए यह 20.74 किलोमीटर लंबा ट्रैक होगा।

हरिद्वार में यातायात व्यवस्था को सुचारू रूप से चलने के लिए कुम्भ नगरी हरिद्वार में भारत की पहली पॉड टैक्सी चलाये जाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है।

धामी कैबिनेट की बैठक में उत्तराखंड सरकार ने एक बड़ा फैसला लेते हुए हरिद्वार जिले को एक बड़ी सौगात दी है। धामी कैबिनेट ने हरिद्वार में 20.74 किलोमीटर लंबे ट्रैक पर पर्सनल रैपिड ट्रांसिट सिस्टम के तहत पॉड टैक्सी चलाने को मंजूरी दे दी है। हरिद्वार पॉड टैक्सी प्रोजेक्ट को पीपीपी मोड पर तैयार किया जाएगा।
दरअसल हरिद्वार को कुंभ नगरी भी कहा जाता है। इसलिए यहां अत्याधुनिक यातायात के साधन विकसित करने के लिए उत्तराखंड मेट्रो कॉरपोरेशन ने यहां पर पॉड टैक्सी चलाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है।

हरिद्वार के ज्वालापुर के अंतिम छोर से भारत माता मंदिर और दक्ष प्रजापति मंदिर से लेकर लक्सर रोड तक कुल 4 कॉरिडोर बनाए जाएंगे। इन कॉरिडोर में 20.4 किलोमीटर लंबा ट्रैक होगा और यहां पॉड टैक्सी चलाई जाएगी।
उत्तराखंड मेट्रो कॉरपोरेशन ने इसके लिए डिटेल प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार कर दी है। कैबिनेट से मंजूरी मिलने के बाद इसके लिए टेंडर भी आमंत्रित किये जा चुके है। भारत में पॉड टैक्सी का यह पहला प्रयोग होगा। इसकी सफलता देश के बाकी शहरों के लिए भी उदाहरण का काम करेगी।

हरिद्वार पॉड टैक्सी रूट के प्रमुख स्टेशन :

पॉड टैक्सी के इस रूट पर जो प्रमुख स्टेशन होंगे, उनमें सीतापुर, ज्वालापुर, आर्य नगर, रामनगर, रेलवे स्टेशन, हरकी पैड़ी, खड़खड़ी, मोतीचूर, शांतिकुंज, भारत माता मंदिर, गणेशपुरा मंदिर, जगजीतपुर और लक्सर तो वही बीएचईएल, शिवालिक नगर सिडकुल रोशनाबाद को भी इस परियोजना में शामिल किए जाने पर विचार किया जा रहा है बताया जा रहा है कि डेढ़ साल के अंदर यह प्रोजेक्ट पूरा किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट में जमीन अधिग्रहण की प्रक्रिया भी जल्द शुरू की जाएगी |

पर्सनल रैपिड ट्रांसपोर्ट (पीआरटी) या पॉड कार या पोड टैक्सी एक ही तकनीकी कार का नाम है। पॉड कार को सौर ऊर्जा की मदद से चलाया जाता है। इसको पूरी तरह से स्वचालित बनाया गया है, इसके जरिए 3 से लेकर 6 तक यात्रियों को एक बार में ले जाया जा सकता है। दुनिया में पहली पॉड कार वेस्ट वर्जिनिया यूनिवर्सिटी में सन 1970 में चलाई गई थी।

 

गृहमंत्री अमित शाह के हरिद्वार दौरे को लेकर प्रशासन की तैयारी

(शहजाद अली)

हरिद्वार, केंद्रीय गृह और सहकारिता मंत्री अमित शाह के हरिद्वार दौरे में फेरबदल हो गया है। अमित शाह अब 30 मार्च को हरिद्वार आएंगे। पहले ये दौरा 31 मार्च को प्रस्तावित था। केंद्रीय गृह मंत्री के दौरे में सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर प्रशासन की तैयारियों में जुटा हुआ है। अमित शाह गुरुकुल कांगड़ी यूनिवर्सिटी के दीक्षांत समारोह में शामिल होंगे, साथ ही हरिद्वार के ऋषिकुल ग्राउंड में सहकारिता विभाग के उद्घाटन कार्यक्रम में शामिल होकर जनसभा को संबोधित भी करेंगे।
इस कार्यक्रम में हजारों की तादाद में लोग जमा होंगे। वहीं रामनवमी के मौके पर पतंजलि योगपीठ में चल रहे सन्यास दीक्षा कार्यक्रम में भी अमित शाह शिरकत करेंगे। उनके दौरे को लेकर प्रशासन द्वारा जोर-शोर से तैयारियां की जा रही है। हरिद्वार के डीएम विनय शंकर पांडे और एसएसपी अजय सिंह खुद निरीक्षण कर तैयारियों का जायजा ले रहे हैं। दोनों ही अधिकारियों ने अमित शाह के दौरे को लेकर सुरक्षा व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम करने का दावा किया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments