Friday, March 1, 2024
HomeTrending Nowसगी बहनों को बहला फुसला कर ले गए और खेत में रेप-हत्या...

सगी बहनों को बहला फुसला कर ले गए और खेत में रेप-हत्या करके पेड़ से लटका दिया, 6 गिरफ्तार

लखीमपुर, यूपी के लखीमपुर में बुधवार को नाबालिग दलित बहनों की हत्या मामले में पुलिस ने नया खुलासा किया है। जहां मां का आरोप था कि बाइक पर युवक आए और जबरदस्ती बच्चियों को अगवा कर ले गए। इसके बाद खेत में रेप किया और फिर हत्या कर डाली। वहीं लखीमपुर पुलिस ने गुरुवार सुबह सवा नौ बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस की।
एसपी संजीव सुमन ने कहा कि निघासन में हुई इस घटना में हमने अभी 6 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनमें एक हिंदू और बाकी युवक मुस्लिम हैं। एसपी ने कहा कि जबरदस्ती अगवा करने जैसा मामला नहीं है। लड़कियों को बहला.फुसलाकर ले जाया गया था। वहां उनके साथ जबरदस्ती संबंध बनाए गए। इसके बाद उनकी हत्या करके शव फंदे पर लटका दिया गया।

एसपी ने कहा ’पीड़ित परिवार ने तहरीर में छोटू नामक युवक का नाम जाहिर किया था ये आरोपी मृतका के पड़ोस में ही रहता था। इसके साथ तीन अज्ञात लोगों के नाम दिए। पुलिस ने मौके पर जाकर मुआयना किया। इसमें तीन लोगों के नाम सामने आए। इनके नाम जुनैद, और हफीजुल रहमान हैं। इसमें से देर रात पुलिस ने सोहेल और हफीजुल रहमान को गिरफ्तार कर लिया। जुनैद की गिरफ्तारी आज हुई है।
एक एनकाउंटर में उसके पैर में गोली लगी है।छोटू ने इन तीनों की दोस्ती दो बहनों से कराई थी। कुछ दिन से ये मामला इनके बीच चल रहा था। कल दोपहर बाइक से तीनों लड़के गांव आए थे। इसके बाद लड़कियों को बहलाकर ले गए। जहां खेत में इनके साथ रेप किया। इसके बाद चुन्नी से गला दबाकर हत्या कर दी।

इन लड़कों ने इसके बाद दो और लड़को को फोन करके बुलाया। इनके नाम हैं. करीमुद्दीन उर्फ डीडी और आरिफ। पहले तीन लड़के थे। इन दो के आने के बाद पांच हो गए। इसके बाद इन पांचों ने दोनों लड़कियों को पेड़ से फांसी का फंदा बनाकर लटका दिया।’

इसमें अब तक 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। इनके नाम छोटू गौतम, जुनैद, सुहैल, करीमुद्दीन, आरिफ, हफीजुल रहमान को गिरफ्तार किया गया है। अब पोस्टमार्टम की कार्रवाई की जा रही है। इसकी वीडियोग्राफी कराई जाएगी। यहां पर परिजन मौजूद रहेंगे। रिपोर्ट आ जाने के बाद इसका खुलासा किया जाएगा।

न्यूज अपडेट : दो बहनों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट : गला घोटकर हुई थी हत्या, गैंगरेप की पुष्टि

लखीमपुर, यूपी के निघासन क्षेत्र में बुधवार की देर शाम पेड़ से लटकी मिली दो सगी बहनों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट आ गई है। पीएम रिपोर्ट में कहा गया है कि दोनों लडकियों की हत्या गले में रस्सी काफंदा लगाए जाने से ुई है। हत्या से पहले दोनों के साथ सामुहिक बलात्कार भी किया गया था।
जिला मुख्यालय पर डा. राजेंद्र, डा. ओवैस अहमद और डा. अर्चना के पैनल ने दोनों शवों के पोस्टमार्टम किए। इस दौरान वीडियोग्राफी भी कराई गई। पोस्टमार्टम के दौरान सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर भारी पुलिस बल मौजूद रहा। एसपी संजीव सुमन और एडिशनल एसपी अरुण कुमार समेत कई सीओ और इंस्पेक्टर पूरे समय मौजद रहे |

समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के कई नेता भी पोस्टमार्टम हाउस पर डटे रहे। करीब साढ़े 11 बजे पूर्वाहन दोनों शवों को पोस्टमार्टम के बाद एंबुलेंस से निघासन भेज दिया गया।
बुधवार को दोपहर में दो सगी बहनों का बाइक सवार युवकों ने अपहरण कर लिया था। इसके बाद उनकी हत्‍या कर शव को एक पेड़ से लटका दिया था। क्षेत्र के एक गांव निवासी एक ग्रामीण के घर के आसपास गन्ने के खेत हैं। गांव की बाकी बस्ती थोड़ी दूरी पर है। बुधवार शाम करीब पांच बजे ग्रामीण धान काटने गया था। उसकी बीमार पत्नी घर पर थी।
ग्रामीण की पत्नी ने बताया कि उसकी दो बेटियां घर के बाहर लगी चारा मशीन पर जानवरों के लिए चारा काटने जा रही थी। तभी सफेद बाइक पर सवार तीन अज्ञात युवक वहां पहुंचे। इनमें से दो ने दोनों बेटियों को दबोच लिया और गन्ने के खेत में खींचकर ले जाने लगे। उनका तीसरा साथी बाइक लेकर रास्ते पर चला गया।
ग्रामीण की पत्नी ने शोर मचाते हुए उनका पीछा किया तो एक ने उसे लात मारकर गिरा दिया।
इसके बाद वे दोनों लड़कियों को लेकर वहां से खेत में होकर भाग गए। ग्रामीण की पत्नी के शोर मचाने पर गांव से तमाम लोग उसके घर पहुंचे और गन्ने के खेतों में लड़कियों की तलाश शुरू की। करीब 40 मिनट बाद गांव से करीब पौन किमी दूर एक ग्रामीण के गन्ने के खेत में लगे खैर के एक छोटे पेड़ में दोनों लड़कियों के शव उनके दुपट्टे से लटकते मिले।लखीमपुर खीरी कांड: दुष्कर्म के बाद की गई थी दलित लड़कियों की हत्या, जानें पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में और क्या-क्या है?

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments