इन शहरों में खूब बिक रहे इलेक्ट्रिक वाहन, जानिए किस वजह से बढ़ी है डिमांड

इलेक्ट्रिक वाहन (Electric vehicles) डिमांड में हैं. लोग अब इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric vehicles) को खूब खरीद रहे हैं. जस्‍ट डायल की ओर से हाल ही में किए गए एक सर्वे में ये बात सामने आई है.

सर्वे के मुताबिक, ई-स्कूटर और ई-कार दोनों की मांग में दिल्ली सबसे ऊपर है. ई-स्कूटर ई-वाहनों की भारत की सबसे लोकप्रिय पसंद के रूप में उभरे हैं. जबकि टियर-2 शहरों की तुलना में टियर-1 . में ई-मोटरसाइकिलों की मांग अधिक है. ईंधन की लगातार बढ़ रही कीमतों और बढ़ते प्रदूषण के स्तर ने इलेक्ट्रिक वाहनों की मांग को बढ़ा दिया है. इलेक्ट्रिक स्कूटर भारत में सबसे पसंदीदा पर्यावरण के अनुकूल वाहन के रूप में उभर रहे हैं. जस्ट डायल कंज्यूमर इनसाइट्स की रिपोर्ट के मुताबिक, टियर- I शहरों में दिल्ली में ई-स्कूटर और ई-वाहनों दोनों की सबसे अधिक मांग देखी गई है.

इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric vehicles) की मांग में वृद्धि वैकल्पिक ईंधन वाहनों पर सब्सिडी के माध्यम से प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए स्वच्छ ईंधन को अपनाने की दिशा में सरकार के जोर के अनुरूप है. इलेक्ट्रिक वाहनों में, ई-स्कूटर 220.7% की मांग में सबसे बड़ी वृद्धि देखी जा रही है. इसके बाद ई-कार (132.4%), ई-मोटरसाइकिल (115.3%), और ई-साइकिल (66.8%) का स्थान रहा है.

टियर- I शहरों में, दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु ई-स्कूटर की अधिकतम मांग के साथ सबसे ऊपर हैं. इसके बाद अहमदाबाद, हैदराबाद, पुणे, चेन्नई और कोलकाता का स्थान है. मैसूर, इंदौर, जयपुर, सूरत, आगरा, जोधपुर, सांगली, वडोदरा, नासिक और चंडीगढ़ में सबसे अधिक मांग वाले शीर्ष -10 टियर- II शहर हैं.

टियर-II शहरों से ई-मोटरसाइकिलों की मांग टियर-I से कहीं अधिक है. सूरत, राजकोट, अमरावती, नागपुर, विजयवाड़ा, सेलम, कोल्हापुर, पांडिचेरी, वाराणसी और भावनगर शीर्ष -10 टियर- II शहर थे, जहां ई-मोटरसाइकिल की अधिकतम मांग देखी गई. टियर- I शहरों में सबसे अधिक मांग मुंबई, पुणे और बेंगलुरु से थी, इसके बाद हैदराबाद, चेन्नई, दिल्ली, अहमदाबाद और कोलकाता का स्थान था.

इन शहरों में इलेक्ट्रिक कारों की डिमांड सबसे ज्‍यादा

इलेक्ट्रिक कारों के लिए, मुंबई, दिल्ली और बेंगलुरु शीर्ष -3 शहर हैं. इसके बाद हैदराबाद, पुणे, चेन्नई, अहमदाबाद और कोलकाता का स्थान रहा है. टियर- II शहरों में, नासिक, लखनऊ, नागपुर, कोयंबटूर, जयपुर, विजयवाड़ा, गोवा, सूरत, जबलपुर और विशाखापत्तनम में इस त्योहारी सीजन के दौरान सबसे अधिक मांग देखी गई है.