श्री बदरीनाथ धाम के सीसी टीवी कैमरा भी श्री केदारनाथ धाम की तरह वर्षभर लाइव रखने के निर्देश

चमोली, चारधाम यात्रा से पूर्व श्रद्धालुओं की सुविधाओं एवं पुलिस फोर्स की तैयारियों के दृष्टिगत पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड श्री अशोक कुमार आज श्रीबद्रीनाथ धाम पहुंचे l जहां उन्होंने श्री बदरीनाथ धाम में स्थित थाना बदरीनाथ एवं हनुमान चट्टी चौकी का निरीक्षण किया l उन्होंने विशेष रूप से श्री बद्रीनाथ धाम में सुरक्षा हेतु स्थापित सीसी टीवी कैमरों को साल भर लाइव रखने के निर्देश दिए l सीसी टीवी कैमरा को लाइव रखने के लिए सोलर लाइट एवं अन्य व्यवस्थाओं को पूर्ण करने के निर्देश दिए गए lMay be an image of 5 people, people standing and outdoors

आगामी चारधाम यात्रा के सुरक्षित एवं कुशल संचालन के लिए निम्न निर्देश दिए l

1. आगामी चारधाम यात्रा की तैयारियों की समीक्षा करते हुए यात्रियों की सुरक्षा एवं सुविधा हेतु निर्माणाधीन मंदिर परिसर में देख-रेख हेतु पुलिस चौकी एवं मंदिर सुरक्षा के लिए अलग से आवश्यक भवन की आवश्यकता पर बल देते हुए, शासन स्तर पर पत्राचार करने हेतु निर्देशित किया।

2. माणा में भी पर्यटकों की गतिविधि बढ़ जाने के कारण बद्रीनाथ मन्दिर परिसर के साथ ही माणा में भी एक देखरेख चौकी खोले जाने की आवश्यकता है।

3. बद्रीनाथ धाम में व्यापक स्तर पर निर्माण कार्य चल रहे हैं, जिनके मद्देनजर शीतकाल में मन्दिर एवं सुऱक्षा व्यवस्था हेतु तत्काल बद्रीनाथ थाना संचालित करने हेतु निर्देशित किया।

4. बद्रीनाथ धाम में सुरक्षा के दृष्टिगत स्थापित CCTV कैमरों के वर्षभर लाइव फीड प्राप्त करने हेतु कैमरों के अपग्रेडेशन का कार्य ए0डी0जी पुलिस टेलीकॉम के निर्देशन में किया जाए l धाम के महत्वपूर्ण क्षेत्र बस अड्डा, साकेत तिराहा, ग्रिफ तिराहा, बामणी गाँव आदि को भी सी0सी0टी0वी से कवर किए जाने हेतु निर्देशित किया।

5. मास्टर प्लान के चलते पुलिस जवानों की पूर्व निर्धारित आवासीय व्यवस्था में बदलाव के दृष्टिगत मंदिर सुरक्षा गार्द के लिए 100 जवानों हेतु आवासीय सुविधा बनाने हेतु निर्देशित किया गया।

इसी क्रम में पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड महोदय ने श्री बद्रीनाथ धाम में नियुक्त पुलिस कर्मचारियों की आवासीय, मैस व अन्य सुविधाओं का जायजा लिया l उन्होंने पुलिस कर्मियों से यात्रा के दौरान आने वाली समस्याओं के बारे में भी महत्वपूर्ण फीडबैक प्राप्त किया l उन्होंने कहा कि चारधाम यात्रा में आने वाले श्रद्धालु देश-विदेश में उत्तराखंड पुलिस से मिले पॉजिटिव फीडबैक को प्रसारित करते हैं, जिससे पुलिस कर्मचारियों का मनोबल बढ़ता है l भ्रमण के दौरान पुलिस महानिदेशक महोदय माणा स्थित आईटीबीपी कैम्प में पहुंचे और जवानों का उत्साहवर्धन किया। इसके अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड महोदय के द्वारा पांडुकेश्वर(श्री बद्रीनाथ जी का शीतकालीन घर )पहुंचे एवं आगामी चार धाम यात्रा के सफल एवं कुशल संचालन हेतु पूजा-अर्चना की l

इससे पूर्व उन्होंने दि0 17 मार्च 2023 को सीमान्त रिपोर्टिंग पुलिस चौकी मलारी का निरीक्षण कियाl जहां उन्होंने चौकी में सुरक्षा के दृष्टिगत नियमित रूप से पुलिस बल तैनात करने के लिए निर्देशित किया l सामरिक सुरक्षा के दृष्टिगत महत्वपूर्ण रिपोर्टिंग पुलिस चौकी मलारी में उन्होंने स्थानीय लोगों से मुलाकात कर पुलिस अधिकारियों को स्थानीय लोगों की हर संभव मदद करने के लिए निर्देशित कियाl

इस अवसर पर आईटीबीपी के कमाण्डेन्ट श्री अजय सिंह, पुलिस अधीक्षक चमोली श्री प्रमेन्द्र डोबाल, पुलिस उपाधीक्षक चमोली श्री प्रमोद कुमार, पुलिस उपाधीक्षक ऑपरेशन सुश्री नताशा सिंह तथा मन्दिर समिती के उपाध्यक्ष श्री केशर सिंह आदि महत्वपूर्ण व्यक्ति उपस्थित रहे।

 

समाज के विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 35 महिलाओं को महिला आयोग ने किया सम्मानित

 

देहरादून, उत्तराखंड राज्य महिला आयोग के द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष में विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली सशक्त महिलाओं को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर दून विश्वविद्यालय कुलपति डॉ. सुरेखा डंगवाल, बाल अधिकार संरक्षण आयोग की अध्यक्ष डॉ. गीता खन्ना, पूर्व विधायक केदारनाथ श्रीमती आशा नौटियाल, पूर्व विधायक बद्रीनाथ महेंद्र भट्ट व महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल व उपाध्यक्ष ज्योति शाह, सायरा बानो ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
महिला आयोग की अध्यक्ष कुसुम कण्डवाल ने कार्यक्रम में पहुंचे सभी प्रतिभागियों को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं दी तथा अतिथियों को पुष्प गुच्छ व उत्तराखंड की पहचान गौरा देवी की प्रतिमा भेंट कर स्वागत अभिनन्दन किया।
कार्यक्रम में पहुंची विभिन्न विभागों, सामाजिक संस्थाओं की महिलाओं को सम्बोधित करते हुए मुख्य अतिथि डॉ. सुरेखा डंगवाल ने कहा कि जहां-जहां महिलाओं ने नेतृत्व किया वहां-वहां विजय पताका फहराई है। आज हमें अपनी ताकत को पहचान कर देश की सामाजिकता और आर्थिकी को मजबूत करना है। उन्होंने कहा कि माननीय नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा महिलाओं को आज विभिन्न क्षेत्रों में नेतृत्व करने के लिए प्राथमिकता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि आज की महिला स्वतंत्रता की परिभाषा को पश्चिम की सभ्यता के आधार पर देखती है। जहाँ महिला को केवल एक वस्तु समझा जाता है। और अगर बात भारत की करे तो यहां महिला को देवी समझा जाता है हमे आज आवश्यकता है कि अपने संस्कारों और सभ्यता को भी पहचाने। उन्होंने कहा कि पश्चिम में जैसे-जैसे महिलाओं की उम्र बढ़ती है वैसे-वैसे उनकी इज्जत घट जाती है और भारत मे जैसे-जैसे महिलाओं की उम्र बढ़ती है वैसे-वैसे महिलाओं का सम्मान और इज्जत बढ़ती है उन्हें घर में सबसे ऊंचा दर्जा दिया जाता है।

विशिष्ट अतिथि महेंद्र भट्ट ने भी राज्य महिला आयोग के इस कदम को सराहनीय बताते हुए कहा कि महिलाए हमारी संस्कृति की धरोहर है। आज प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में महिलाएं समाज के हर पहलू में पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिला कर आगे आ रही है। आज सरकार महिलाओं के लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं ला रही है। जो कि महिलाओं के सशक्तिकरण में सहायक है। महिला आयोग आज नई ऊंचाइयों को छू रहा है ।

महिला आयोग द्वारा नारी शक्ति सम्मान कार्यक्रम के अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों में सराहनीय कार्य कर रही लगभग 35 महिलाओं को सम्मानित किया गया। जिसमें सरकारी विभाग, सामाजिक संस्थाओं, और समाज के विभिन्न क्षेत्रों में कार्य करने वाली उत्कृष्ट महिलाओं को आयोग द्वारा प्रशस्ति पत्र व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया।

कार्यक्रम में सांस्कृतिक कार्यक्रमों में दून विश्विद्यालय के छात्र छात्राओं ने एक स्वरचित व स्व लिखित नाटक – मिसाइल वुमन ऑफ इंडिया- डॉक्टर टेसी थॉमस का मंचन किया। इस नाटक का मुख्य उद्देश्य – जेंडर समानता एवं महिलाओं की टेक्नोलॉजी तक पहुंच थीम पर आधारित था।

प्रस्तुति के द्वारा उन्होंने डॉक्टर टेसी थॉमस के पूरी जीवन का वर्णन किया। उन्होंने संक्षिप्त में उपस्थित जनों को जानकारी दी कि कैसे बचपन से टेसी का रॉकेट साइंस की ओर रुझान ओर उनकी कड़ी मेहनत ने उन्हें मिसाइल वुमन ऑफ इंडिया की उपाधि दिलाई।

उन्होंने बहुत सुंदर तरीके से महिलाओं को प्रेरणा देने के संदर्भ मे एक नये नाम से अवगत करवाया। इसी के उपरान्त DAV कॉलेज की छात्रा कनिका द्वारा महिला सशक्तिकरण पर नृत्य व सांस्कृतिक विभाग की टीम द्वारा लोक नृत्य प्रस्तुत किया।कार्यक्रम का संचालन महिला आयोग की सदस्य सचिव कामिनी गुप्ता व मीनाक्षी मैठाणी द्वारा किया गया।

कार्यक्रम के अवसर पर मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार हरीश कोठारी, नीरू देवी, मधु भट्ट, साधना शर्मा, इंदुबाला, रजनी कुकरेती, सरिता गौड़, अनुराधा वालिया, माधवी गुप्ता व विभिन्न ग्राम प्रधान पूनम चौहान, पूजा पाल, सुमन ज्याला, प्रेमलता नंदन सहित महिला सशक्तिकरण व बाल विकास विभाग से DPO मोहित चौधरी, CDPO तरुणा चमोला, शिखा कण्डवाल अंजना गुप्ता, मीना बिष्ट, एस आई संगीता नौटियाल, दयाराम सिंह आदि उपस्थित रहे।

 

लायंस क्लब का प्रतिनिधि मंडल ने रेल समस्याओं का ज्ञापन स्टेशन अधीक्षक रवि शंकर सिंह को सौंपाMay be an image of 7 people and people standing

काशीपुर, यूएस नगर के काशीपुर क्षेत्र की आम जनता के हितो को ध्यान में रखते हुए मंडल रेल प्रबंधक रेखा यादव के नाम संबोधित रेलवे से संबंधित समस्याओं का ज्ञापन स्टेशन अधीक्षक रवि शंकर सिंह को सौंपा। स्टेशन अधीक्षक ने लायंस क्लब काशीपुर सिटी को आश्वस्त किया कि वह ज्ञापन के बारे मे मंडल रेल प्रबंधक एवं अन्य सम्बंधित वरिष्ठ रेल अधिकारियों को अवगत करा कर शीघ्र ही भेज देंगे और सभी मांगे उचित एवं रेल यात्राओं के हित में है।

 

क्लब के अध्यक्ष सुरेश शर्मा ने बताया कि एक ज्ञापन एवं अनुरोध पत्र सीधे रेल मंत्री अश्वनी वैश्णव जी को भी सीधे भेजा गया है। भेजे गए पत्र में काशीपुर से वाया लखनऊ गोरखपुर तक सीधी ट्रेन चलाई जाए, रामनगर से नई दिल्ली तक प्रातः कालीन जन शताब्दी ट्रेन चलाई जाए जो कि सुबह 5 बजे चलकर 10 बजे तक नई दिल्ली पहुंचे वापसी मे सांय 5 बजे नई दिल्ली से चलकर काशीपुर रात्रि दस बजे तक काशीपुर पहुंचे। रामनगर से काशीपुर से एक ट्रेन सुबह 5 बजे सीधी हरिद्वार देहरादून के लिए चलाई जाए जो सांय 5 बजे देहरादून से चलकर रात्रि दस बजे काशीपुर पहुंच सके।

 

रामनगर से हरिद्वार जाने वाली ट्रेनें संख्या 15034/15033 को फिर से शुरू किया जाए। तीर्थ स्थल अयोध्या एवं वाराणसी के लिए सीधी ट्रेन चलाई जाए, रामनगर से मुरादाबाद के बीच कोरोना काल में बंद की गई सभी ट्रेनों को शीघ्र ही शुरू किया जाए, 22 मार्च से शुरू हो रहे चैती मेले में आने वाले हजारों यात्रियों के लिए अतिरिक्त कोच लगाए जाए, काशीपुर स्टेशन के तीनो प्लेटफार्मो को हाई लेबल किया जाए जिससे कि यात्रियों को ट्रेनें मे चड़ने उतरने मे दिक्कत न हो, सभी ट्रेनों का ठहराव 5 मिंट किया जाए, स्टेशन परिसर में पानी के जगह जगह ऑटोमैटिक मशीनें लगाई जाए |

 

अर्न्तराष्ट्रीय मिलेट वर्ष 2023 के अर्न्तगत ‘श्रीअन्न’ के विधिवत कार्यक्रम का शुभारम्भ

‘प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया उद्घाटन, केन्द्रीय कृषि मंत्री सहित कई अन्य देशों के कृषि मंत्री भी रहे उपस्थित’

देहरादून, प्रदेश के कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने शनिवार को नई दिल्ली कृषि मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा आयोजित अर्न्तराष्ट्रीय मिलेट वर्ष 2023 के अर्न्तगत श्रीअन्न के विधिवत शुभारम्भ कार्यक्रम में सम्मिलित हुए।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नई दिल्ली में दो दिवसीय ग्लोबल मिलेट्स सम्मेलन श्री अन्न का उद्घाटन किया। इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने श्रीअन्न पर किताब का विमोचन सहित सिक्का एवं पोस्ट टिकिट भी जारी किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री ने जनसभा को भी संबोधित किया। दो दिन के इस सम्मेलन में उत्पादकों, उपभोक्ताओं और अन्य हितधारकों के बीच मोटे अनाज के प्रचार और जागरूकता सहित संबंधित मुद्दों की एक विस्तृत श्रृंखला पर सत्र आयोजित होंगे।May be an image of 10 people and people standing
कृषि मंत्रियों के सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए सुबे के कृषि मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि प्रदेश में मण्डुवा का न्यूनतम समर्थन मूल्य 3578 रूपये प्रति कुन्तल निर्धारित किया गया है। उन्होंने कहा मोटा अनाज पौष्टिक रूप से धनी है क्योंकि इसमें उच्च मात्रा में प्रोटीन तथा विटामिन होते हैं। मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि प्रदेश सरकार मिलेट्स के उत्पादन तथा विपणन को प्रोत्साहित करने के लिए निरंतर कार्य कर रही है। उन्होंने कहा प्रदेश स्टेट मिलेट मिशन के अंतर्गत मिड-डे मील और सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से बच्चों और आम जनता को मोटा अनाज उपलब्ध कराया जाएगा। उन्होंने कहा राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में मिलेट्स के उत्पादन एवं विपणन को बढ़वा देने के लिए हरसंभव प्रयास कर रही है। मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि अमृत काल के इस बजट में मिलेट्स के लिए 15 करोड़ रुपए का अलग से भी प्रावधान किया गया है। मंत्री गणेश जोशी ने भरोसा जताते हुए कहा कि इससे निश्चित ही जो किसानों की आय दोगुनी करने का संकल्प है वह पूरा होगा। साथ ही प्रदेश की जनता को भी इसका लाभ अवश्य मिलेगा। सम्मेलन के समापन के बाद कृषि मंत्री ने प्रर्दशनी का भ्रमण किया और मिलेट्स के क्षेत्र में कार्य करने वाली संस्थाओं से भेंट की।
इस कार्यक्रम में केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर सहित अर्न्तराष्ट्रीय स्तर पर नाइजीरिया, गम्बिया, श्रीलंका, सूडान, गुयाना, सूरीनाम, मारीशस के कृषि मंत्री तथा उत्तर प्रदेश एवं देश के कई अन्य राज्यों के कृषि मंत्री उपस्थित रहे।