Wednesday, April 17, 2024
HomeStatesUttarakhandसोशल मीडिया पर दुष्प्रचार करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की मांग, कांग्रेसियों...

सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार करने वालों के खिलाफ कार्यवाही की मांग, कांग्रेसियों पुलिस अधीक्षक नगर को सौंपा पत्र

देहरादून, उत्तराखण्ड़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष एवं अखिल भारतीय कांग्रेस वर्किंग कमेटी (सी.डब्लू.सी.) के सदस्य गणेश गोदियाल ने कांग्रेसजनों के एक प्रतिनिधिमंडल के साथ एस.पी. सिटी, देहरादून प्रमोद कुमार से मुलाकात कर उन्हें वरिष्ठ अधीक्षक के नाम संबोधित पत्र सौंपते हुए उनके एवं कांग्रेस पार्टी के खिलाफ सोशल मीडिया पर दुष्प्रचार करने वालों के प्राथमिकी दर्ज करते हुए खिलाफ कार्रवाई की मांग की।
पुलिस अधीक्षक नगर, देहरादून प्रमोद कुमार को सौंपे पत्र में गणेश गोदियाल ने प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महामंत्री संगठन मथुरादत्त जोशी के पत्रांक संख्या पीसीसी/413/22 दिनांक 13 फरवरी, 2022 का हवाला देते हुए कहा कि इस प्रकार का दुष्प्रचार करने वालों के खिलाफ कांग्रेस पार्टी द्वारा पूर्व में भी थाना कोतवाली नगर में शिकायत की गई थी परन्तु कोई कार्रवाई नहीं हो पाई जिससे इस प्रकार के असामाजिक तत्वों के हौसले बुलंद हुए।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के नाम संबोधित पत्र मे गणेश गोदियाल ने कहा कि मैं प्रदेश कांग्रेस कमेटी का प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व में विधानसभा क्षेत्र थलीसैंण एवं विधानसभा क्षेत्र श्रीनगर से उत्तराखण्ड विधानसभा का निर्वाचित सदस्य रहा हूं। राष्ट्रीय राजनैतिक दल के सदस्य के रूप में प्रदेशभर में मेरी अपनी राजनैतिक एवं सामाजिक प्रतिष्ठा है। वर्तमान में मैं अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की वर्किंग कमेटी (सी.डब्लू.सी) का विशेष आमंत्रत सदस्य हूं तथा पार्टी एवं क्षेत्रीय जनता मुझे भविष्य की संभावना के रूप में देखती है। 2022 के विधानसभा चुनाव में कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा मेरी राजनैतिक एवं सामाजिक छवि को धूमिल करने की दृष्टि से मेरी राजनैतिक प्रतिद्वंदी पार्टी के साथ मिलकर मेरे फर्जी हस्ताक्षर कर एक झूठा पत्र सोशल मीडिया में वायरल कराया गया जिससे धार्मिक गोलबंदी कर विधानसभा चुनाव में मतों का ध्रुवीकरण कर मुझे व मेरी पार्टी को भारी नुकसान पहुंचाया गया।
उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी द्वारा थाना कोतवाली नगर, देहरादून को शिकायती पत्र के माध्यम से रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों के खिलाफ उचित कार्रवाई की मांग की गई थी, जिस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई न होने से उनके हौसले और अधिक बुलंद हुए, परिणामानुसार आगामी लोकसभा चुनाव 2024 को देखते हुए उन्हीं असामाजिक तत्वों द्वारा पुनः मेरी व मेरी पार्टी की छवि को धूमिल करने तथा धार्मिक उन्माद फैलाने की बदनीयती से उसी फर्जी हस्ताक्षर वाले पत्र को सोशल मीडिया पर प्रचारित एवं प्रसारित किया जा रहा है।
गणेश गोदियाल ने कहा कि इस प्रकार के असामाजिक तत्वों पर तत्काल नियमानुसार कार्रवाई करने की आवश्यकता है। उन्होंने यह भी कहा कि इसी प्रकार का एक पत्र उमेश नैथानी ने अपने मो0 नम्बर 9675301119 एवं रविन्द्र नाथ कौशिक नामक व्यक्तियों द्वारा सोशल मीडिया पर प्रचारित-प्रसारित कर लोगों की धार्मिक भावनाओं को भड़काने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने सोशल मीडिया पर प्रचारित फर्जी हस्ताक्षर वाले पत्र की क्लिपिंग भी पुलिस अधीक्षक को सौंपी।
पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने अपने पत्र में मांग की कि उमेश नैथानी एवं रविन्द्रनाथ कौशिक नामक व्यक्तियों द्वारा सोशल मीडिया पर डाली जा रही फर्जी हस्ताक्षर वाली पोस्ट का संज्ञान लेते हुए सम्बन्धितों के खिलाफ सक्षम धाराओं में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करते हुए मुकदमा दर्ज कर शीघ्र उचित कार्रवाई की जाय।
प्रतिनिधिमंडल में गणेश गोदियाल के अलावा प्रभुलाल बहुगुणा, प्रदेश महामंत्री राजपाल बिष्ट, रघुवीर सिंह बिष्ट, वीरेन्द्र पोखरियाल, मनीष नागपाल, कविन्द्र इष्टवाल, देवेन्द्र सिंह, प्रदेश प्रवक्ता राजेश चमोली, मोहन काला, प्रदेश युवा कांग्रेस उपाध्यक्ष विनीत कुमार, रितेश क्षेत्री, आदर्श सूद, पीयूष जोशी, उज्जैनवाल, गगन छाछर आदि अनेक कांग्रेसजन शामिल थे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments