Wednesday, April 17, 2024
HomeTrending Nowदेहरादून : महन्त रमन गोवस्वामी ने पर्यावरण संरक्षण के रुप में मनाया...

देहरादून : महन्त रमन गोवस्वामी ने पर्यावरण संरक्षण के रुप में मनाया अपना 54वां जन्मदिन, सेवादारों और भक्तों के साथ जंगल में फेंके 54 सौ बीज बम

देहरादून, माँ डाटकाली मंदिर के महन्त श्री रमन प्रसाद गोस्वामी ने अपने जन्म दिन के 54 वर्ष में प्रवेश करने के उपलक्ष में बीज बम अभियान से प्रेरित होकर 5400 बीज बम मंदिर से जुड़े सेवादारों व भक्तों के साथ जंगल मे डाल कर पर्यावरण संरक्षण का सार्थक संदेश देकर मनाया।

अपने जन्मदिन के अवसर पर महंत रमन प्रसाद गोस्वामी ने कहा की मैं पहले जन्मदिन पर भंडारा किया करते थे लेकिन जाड़ी संस्थान के द्वारा मानव व वन्यजीवों के बीच बढे संघर्ष को कम करने को चलाए बीज बम अभियान के बारे में जानकारी मिली और बीज बम अभियान के प्रणेता द्वारिका प्रसाद सेमवाल टीम सहित इस अभियान के विचार व बीज बम बनाने के प्रशिक्षण देने हेतू मंदिर परिसर में आकर लोगों को इस सकारात्मक पहल से जुड़ने का आह्वान किया जिसके फलस्वरूप सभी इस नेक कार्य में आगे आये। इस अवसर पर महंत जी ने कुछ सार्थक निर्णय भी लिये जिसके अन्तर्गत मंदिर में दर्शन को आने वाले भक्तों को मानव व वन्यजीवों के संघर्ष को कम करने के लिये बीज बम अभियान से जुड़ने को प्रेरित करेगें, जो लोग बीज बम बना नही सकते व जंगल मे भी नही जा सकते वे मंदिर में अपनी श्रद्धा से बीज बम की रसीद काट सकते है तथा आने वाले समय मे मंदिर परिसर में बीज बम काऊंटर खोला जायेगा। बीज बम बनाने मे आस पास के गरीब लोगों को जोड़ा जायेगा ताकि बीज बम आर्थिकी का जरिया बन सके।
बीज बम अभियान के प्रणेता द्वारिका प्रसाद सेमवाल ने कहा की महंत जी ने बीज बम बरसा कर जन्मदिन मनाया जो कि एक अनोखी पहल है। समाज के पथ प्रदर्शक, प्रभावशाली लोग जब अपने जीवन के विशेष दिन को यादगार बनाने, इस तरह के नवाचार प्रयोग को अपनाते है तो निश्चित रूप से समाज व पर्यावरण को लाभ मिलता है।

मानव व वन्यजीवों के बीच बढे संघर्ष को कम करने के लिये उत्तरकाशी के कमद बागी गावँ से शुरू हुआ बीज बम अभियान आज देश के आठ राज्यों मे चल रहा है।हमारा प्रयास रहेगा की देश के लोगो की हैविट में बीज बम अभियान को जोड़ना है।
जन्मदिन के अवसर पर अरविन्द,प्रदीप भट्ट, मांगे राम, नीरज गोस्वामी,नारायण हरी , सुरेश माथुर, विकास पन्त, लोकेन्द्र आदि शमिल हुये।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments