ब्रैकिंग : यात्रियों की बढ़ने वाली हैं मुश्किलें, उत्तराखंड रोडवेज की 31 जनवरी से अनिश्चितकालीन हड़ताल

देहरादून, प्रदेश में रोडवेज कर्मचारी संयुक्त मोर्चा ने निजीकरण के विरोध में आंदोलन करने को तैयार है, शनिवार को हुई बैठक में आंदोलन की रणनीति बनाई गई। इसके साथ ही मोर्चा के गढ़वाल संयोजक भी बनाए गए। कर्मचारी 31 जनवरी मध्यरात्रि से प्रदेश भर में अनिश्चितकालीन हड़ताल करेंगे। इससे प्रदेश में बसों के पहिए थम सकते हैं।

गांधी रोड स्थित मंडलीय कार्यालय में शनिवार को हुई बैठक में वक्ताओं ने कहा कि सरकार रोडवेज का निजीकरण करने में तुली है। निगम प्रबंधन कर्मचारियों की समस्याओं को लेकर गंभीर नहीं है। संविदा और विशेष श्रेणी कर्मचारियों के नियमितिकरण की मांग कई सालों से चल रही हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इससे आक्रोशित कर्मचारियों को एकजुट होकर संयुक्त मोर्चा बनाना पड़ा है।

बताया कि मोर्चा गढ़वाल मंडल में 27 जनवरी को आईएसबीटी में धरना देगा। इसके बाद भी मांगें नहीं मानी जाती है तो 31 जनवरी मध्यरात्रि से प्रदेशभर में अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार शुरू कर बसों का संचालन बंद किया जाएगा। इस मौके पर हरि सिंह, केपी सिंह, राकेश पेटवाल और जय प्रकाश को संयुक्त मोर्चा का गढ़वाल संयोजक बनाया गया। बैठक में प्रदेश संयोजक दिनेश पंत, रविनंदन कुमार, राम किशन राम, परमजीत आदि मौजूद रहे।