Wednesday, April 17, 2024
HomeTrending Nowनामिक गांव में हुई घटना : प्रेम प्रसंग में दिया दोस्त ने...

नामिक गांव में हुई घटना : प्रेम प्रसंग में दिया दोस्त ने साथ और गंवानी पड़ी जान

पिथौरागढ़ (बेरीनाग), प्रेम प्रसंग किसी और का और जान गंवानी पड़ी किसी और को। ग्वीर गांव निवासी सचिन कुमार का नामिक गांव निवासी एक युवती से प्रेम प्रसंग चल रहा था। सचिन कुमार उससे मिलने जा रहा था और साथ में अपने दोस्त गांव निवासी अंकित कुमार को ले गया। अपने दोस्त का साथ देना अंकित के लिए जान गंवाने का कारण बना। नामिक गांव पिथौरागढ़ जिले में अभी सड़क मार्ग से 20 से 25 किमी की दूरी पर है। वहीं बागेश्वर जिले के गोगिना तक जाने वाली सड़क से लगभग छह किमी की दूरी पर है। सचिन और अंकित मोटर साइकिल से बागेश्वर जिले के गोगिना तक पहुंचे। जहां से पैदल चलकर नामिक गांव पहुंचे। इस मामले की जांच कर रही पुलिस के अनुसार ये दोनों युवती के घर पहुंच गए। जब स्वजनों ने इनको देखा तो आक्रोशित हो गए।

स्वजनों द्वारा इन पर पथराव किया गया। सूत्रों के अनुसार पथराव के दौरान सचिन कुमार गांव से ऊपर की तरफ भागा तो अंकित कुमार नीचे की तरफ दौड़ा था। जिससे वह खाई में गिर गया और उसकी मौत हो गई। मृतक अंकित कुमार पढ़ा लिखा युवक था। उसके पिता खाद्य विभाग में कार्यरत हैं और बड़ा भाई एलटी शिक्षक है। दरअसल, सात दिन पूर्व बेरीनाग से अपने एक साथी के साथ मुनस्यारी के दूरस्थ बागेश्वर जिले की सीमा पर स्थित नामिक गांव गए एक युवक की हत्या हो गई। युवक पर पथराव कर रामगंगा नदी किनारे खाई में फेंका गया। इस मामले में मृतक के पिता द्वारा नाचनी थाने में रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद घटना के सातवें दिन पुलिस ने हत्या के आरोप में एक महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। मृतक युवक के अनुसूचित जाति का होने से यह मामला गंभीर हो चुका है।

मुनस्यारी विकास खंड का आठ से नौ हजार फीट की ऊंचाई पर बसे बेहद शांत माने जाने वाले नामिक गांव गए बेरीनाग निवासी सचिन कुमार ने 13 मार्च को 112 से नाचनी थाने को सूचना दी। उसने सूचना में बताया कि वह 12 मार्च को बेरीनाग निवासी अंकित कुमार के साथ नामिक गांव घूमने गया था जहां पर उसका दोस्त अंकित गुम हो गया है। सूचना मिलते ही पुलिस ने पुलिस ने अंकित की खोजबीन प्रारंभ की। 15 मार्च को पुलिस ने अंकित कुमार का शव नामिक में रामगंगा नदी के ऊपरी हिस्से में 150 मीटर की दूरी पर घटन खाई से बरामद हुआ। पुलिस ने शव का पंचनामा और पोस्टमार्टम की कार्रवाई की। तब इसे एक हादसा ही माना जा रहा था।

सचिन कुमार जब अपने गांव लौटा तो उसने नामिक में हुए घटनाक्रम के बारे में बताया और अंकित की हत्या किए जाने की बात कही। जिस पर मृतक अंकित के पिता जसपाल राम द्वारा 17 मार्च को नाचनी थाने में आकर अपने पुत्र की हत्या की रिपोर्ट दर्ज कराई। पिता की तहरीर पर पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ भादवि धारा 302 व 3 (2)(वी)अनुसूचित जाति,जनजाति एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया। एसटी,एसटी का मामला होने से इसकी जांच पुलिस उपधीक्षक डीडीहाट /आपरेशन परवेज अली को सौंपी गई। सीओ के पर्यवेक्षण में शनिवार को पुलिस ने इस हत्या के आरोप में रिपोर्ट दर्ज होने के 24 घंटे के भीतर नामिक गांव से नामजद दो आरोपित खुशाल सिंह कन्यारी पुत्र प्रेम सिंह निवासी नामिक ,गोविंद सिंह कन्यारी पुत्र मोहन सिंह व विवेचना में प्रकाश में आयी महिला मोहिनी देवी पत्नी गोविंद सिंह निवासी नामिक को गिरफ्तार किया।

तीनों को पिथौरागढ़ लाकर न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है। पुलिस अधीक्षक लोकेश्वर सिंह ने बताया कि सचिन कुमार का नामिक गांव की एक लड़की से प्रेम प्रसंग चल रहा था। वह अपने दोस्त मृतक अंकित कुमार के साथ नामिक गांव पहुंचे। गांव में लड़की के स्वजनों ने उन्हें घर पर देख लिया और दोनों पर पथराव किया। पथराव करने पर दोनों भागे अंकित कुमार इस दौरान खाई में गिर गया और उसकी मृत्यु हो गई। पुलिस अभी विवेचना कर रही है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments