उत्‍तराखंड़ : इस साल भी कावंड़ यात्रा पर रोक, पुलिस की समन्वय बैठक में लिया गया निर्णय

देहरादून, सावन के महीने में कांवड यात्रा करने वाले भक्तों की उत्तराखण्ड़ में भीड़ बढ़ जाती है, लेकिन कोरोना संक्रमण के चलते उत्‍तराखंड में इस साल कावंड़ यात्रा पर रोक लगाई गई है। कांवड़ यात्रा को लेकर आज मंगलवार को पुलिस मुख्यालय में समन्वय बैठक का आयोजन किया गया। पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार की अध्यक्षता में आयोजित अंतरराज्‍यीय बैठक में उत्तरप्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, चंडीगढ़, अभिसूचना ब्यूरो के अधिकारियों ने हिस्सा लिया।

उत्तराखंड सरकार की ओर से इस बार भी 2020 की तर्ज पर कोरोना महामारी के चलते कावड़ मेला प्रतिबंध करने के चलते श्रद्धालुओं के धर्मनगरी हरिद्वार आने पर प्रतिबंध लगाया गया है। इस संबंध में उत्तराखंड पुलिस मुख्यालय की ओर से आठ राज्यों के पुलिस अधिकारियों के साथ सामंजस्य बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में आइजी, एडीजी व इंटेलीजेंस स्तर के अधिकारी शामिल रहे, इस दौरान पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड अशोक कुमार ने सभी अधिकारियों से आग्रह किया कि वह अपने-अपने राज्यों में थाना स्तर पर इंटरनेट मीडिया का सहारा लेकर कांवड़ मेला प्रतिबंध करने के संबंध में जन जागरूकता बढ़ाएं |

उत्तराखंड से लगते बॉर्डर क्षेत्र में कांवड़ि‍यों के जबरन घुसने की सूरत पर उनके खिलाफ महामारी एक्ट और 14 दिनों के लिए क्‍वारंटाइन भी किया जा सकता है। पुलिस महानिदेशक ने बताया सबसे अधिक श्रद्धालु हरियाणा, पंजाब व राजस्थान से आते हैं। ऐसे में नारसन व मंडावली उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर अधिक सख्ती रखी जायेगी |