देश में तीसरी लहर का संकेत है कोरोना के बढ़ते केस

नई दिल्ली । देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की बढ़ती संख्या से साफ संकेत मिल रहे हैं कि दूसरी लहर की तबाही के बाद तीसरी लहर को रोकना मुश्किल है। कोरोना के पिछले एक सप्ताह से लगातार चालीस हजार से दैनिक मामले तीसरी लहर को लेकर लोगों के लिए एक बड़ी चिंता के साथ भय पैदा कर रहे हैं। पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना संक्रमण के 42,618 नए केस सामने आए हैं। वहीं इस दौरान 330 मरीजों की मौत हुई है।

देश में 40 हजार से ज्यादा आ रहे कोरोना संक्रमण के दैनिक मामलों ने सरकार के साथ लोगों के लिए चिंता बढ़ा दी है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटों में देश में कोरोना संक्रमण के 42,618 नए केस 330 मरीजों की मौत एक दिन पहले से कम हैं, लेकिन इतनी बड़ी संख्या में नए मामले तीसरी लहर को लेकर डर पैदा कर रहे हैं। देश में अब तक संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,29,45,907 हो गई है। अभी भी देश में 4,05,681 सक्रीय मरीजों का इलाज चल रहा है। हालांकि 3.21 करोड़ से ज्यादा मरीज कोरोना को मात देकर अपने घर जा चुके हैं। बीते 24 घंटे में 29, 322 मरीज ठीक हुए हैं।

जबकि देश में अब तक 4,40,225 लोगों की कोरोना संक्रमण की वजह से मौत हो चुकी है।
केरल में हालात नाजुक
केरल में हालात अब भी नाजुक बने हुए हैं। राज्य में शुक्रवार को कोविड-19 के 29,322 नए मामले सामने आए और कुल मामले बढ़कर 41.51 लाख से अधिक हो गए। कोरोना से 131 लोगों की मौत होने से राज्य में मरने वालों की संख्या 21,280 हो गई. नए मामले के बाद राज्य में अब कुल मामलों की संख्या बढ़कर 41,51,455 हो गई है। इस बीच, शुक्रवार को 22,938 लोग इस बीमारी से ठीक हो गए, जिससे अब तक ठीक हो चुके कुल लोगों की संख्या बढ़कर 38,83,186 हो गई। वहीं, महाराष्ट्र में भी कोरोना की रफ्तार तेज है। राज्य में कोरोना के दैनिक मामले 5 हजार से ऊपर आ रहे हैं।

टीकाकरण में आई तेजी
देश में अब तक 67,72,11,205 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। पिछले 24 घंटे में 58,85,687 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक 10 मई के बाद से देश में कोरोना पॉजिटिविटी दर में कमी आई है, लेकिन केरल में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि देशभर में पिछले हफ्ते आए कोरोना के कुल मामलों में से 69 प्रतिशत मामले सिर्फ केरल से आए हैं। वहां फिलहाल एक लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं। अभी भी 42 जिलों में कोरोना के रोज 100 से ज्यादा नए मामले सामने आ रहे हैं।