पौड़ी : विकास खंड कोट में दो दिवसीय क्षमता विकास प्रशिक्षण कार्यशाला का समापन

अभिलेखों को बेहतर बनाकर संरक्षित करना ग्राम प्रधानों का कर्तव्य : जिलाधिकारी

पौड़ी, जिलाधिकारी गढ़वाल डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने दो दिवसीय क्षमता विकास प्रशिक्षण कार्यशाला के समापन कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रशिक्षण में बताये गये सभी जानकारी को अपने कार्य कौशलता में लाने को कहा। उन्होंने जन प्रतिनिधियों को कोविड-19 संक्रमण से बचाव एवं सुरक्षा के प्रति लोगों को सावधानियां बरतने हेतु जागरूक करने को कहा। उन्होंने प्रशिक्षण में प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र वितरण कर विकास की बेहतर कार्य की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधानों के काम के बोझ को कम करने के लिए वार्ड सदस्यों के साथ मिलकर 6 अलग-अलग समितियां बनायी जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि ग्राम प्रधानों का कर्तव्य है कि अभिलेखों को बेहतर बनाकर संरक्षित करें और अपनी ग्राम पंचायत में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें।

शनिवार को विकास खंड कोट में आयोजित पंचायती राज मंत्रालय भारत सरकार द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण स्वरोजगार अभियान के अंतर्गत ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्यों एवं रेखीय विभागों के अधिकारियों, कार्मिकों का दो दिवसीय कार्यक्रम संपन्न हो गया है। जिलाधिकारी डॉ. जोगदण्डे ने आयोजित कार्यशाला को संबोधित करते हुए कहा कि भविष्य में इस तरह के प्रशिक्षण या कार्यशाला निर्वाचन के एक माह में किसी जिला स्तरीय अधिकारी की अध्यक्षता में आयोजित किया जाए, जिससे ग्राम प्रधानों को विभिन्न स्वरोजगार की जानकारी प्राप्त हो सकेगी। उन्होंने कहा कि 73वें संविधान संशोधन में अनुच्छेद 243 के अंतर्गत पंचायतों के लिए 29 बिंदु दिए गए हैं।

ग्राम प्रधानों को केंद्रीय वित्त, राज्य वित्त व ग्राम पंचायत निधि से विकास के अवसर दिए जाते हैं, जिनमें जानकारी के अभाव में ग्राम पंचायत निधि का उपयोग नहीं कर पाते हैं। आयोजित कार्यक्रम में जिला पंचायती राज अधिकारी एमएम खान ने कहा कि 14 अप्रैल से 12 मई तक हर न्याय पंचायतों के वार्ड सदस्यों का प्रशिक्षण शिविर आयोजित किया जाएगा। उन्होंने प्रशिक्षण में समस्त ग्राम प्रधानों को कहा कि अपने-अपने गांव को स्वच्छ रख कर स्मार्ट विलेज बनाये जिसके लिए पढ़ाई, कमाई व दवाई का मंत्र दिया। इस अवसर पर कोट प्रमुख पूर्णिमा नेगी, जेष्ठ प्रमुख प्रमिला नेगी, मास्टर प्रशिक्षक कुसुम घिल्डियाल, ग्राम प्रधान ललिता देवी, रीना रौथाण, सरोज देवी, शालिनी, राजेश्वरी देवी, रेखा देवी, अजय डोभाल, सुशीला देवी, गजपाल, राहुल, निधि, सामाजिक कार्यकर्ता सजंय बलूनी आदि जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।