टेरर फंडिंग केस में NIA की बड़ी कार्रवाई, जम्मू-कश्मीर में 40 से ज्यादा ठिकानों पर की छापेमारी

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) 40 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। लश्कर-ए-मुस्तफा के कमांडर हिदायतुल्लाह मलिक की गिरफ्तारी और जम्मू में बरामद हुई पांच किलो आईईडी के मामले में ये छापेमारी हो रही है। सूत्रों के अनुसार शोपियां, अनंतनाग, बनिहाल सुंजवां और जम्मू में एनआईए की छापेमारी चल रही है। बताया जा रहा है कि एनआईए का टेरर फंडिंग केस में ये अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है।

जानकारी के अनुसार, एनआईए ने प्रतिबंधित जमात ए इस्लामी (जेईआई) के ठिकानों पर जम्मू-कश्मीर में कई जगह छापे मारे हैं। सूत्रों का कहना है कि एजेंसी ने नया मामला दर्ज किया है। सीआरपीएफ के साथ 40 से ज्यादा ठिकानों पर एनआईए छापेमारी कर रही है। जिसमें जेईआई के वरिष्ठ सदस्य शामिल हैं |
नौगाम में फलाह-ए-आम ट्रस्ट पर भी छापेमारी की बात कही जा रही है। बता दें कि केंद्र सरकार ने 2019 में जमात ए इस्लामी संगठन पर पांच साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया था, लेकिन इसके बाद भी जम्मू-कश्मीर में संगठन की गतिविधियां चल रही थीं।

बता दें कि इससे पहले 31 जुलाई को भी आतंकवाद से जुड़े दो मामलों में एनआईए ने जम्मू-कश्मीर में 15 ठिकानों पर छापे मारे थे। यह कार्रवाई लश्कर-ए-मुस्तफा सरगना हिदायतुल्लाह मलिक की गिरफ्तारी और जम्मू एयरफोर्स स्टेशन पर हमले से पहले पांच किलो आईईडी की बरामदगी से जुड़े मामलों में की गई थी।

छापों के दौरान एक आरोपी की गिरफ्तारी के साथ ही डिजिटल उपकरण, मोबाइल, हार्ड डिस्क, मेमोरी कार्ड, पेन ड्राइव, लैपटॉप, गोलियों के खोखे, पथराव के दौरान पहचान छिपाने के लिए इस्तेमाल होने वाली प्लास्टिक फेस मास्क, हस्तलिखित जिहादी पर्चे तथा अन्य आपत्तिजनक सामग्री बरामद की गई थी।