मजदूर व किसान विरोधी है सरकार : राजबीर

हरिद्वार 15 जुलाई (कुल भूषण) भेल मजदूर कल्याण परिषद इंटक भेल रानीपुर के कार्यालय पर सम्पन्न हुए एक दिवसीय कार्यकर्ता सम्मेलन में उपस्थित सैकड़ो मजदूर कार्यकर्ताओ ने केंद्र सरकार द्वारा किये जा रहे श्रम कानूनों में परिवर्तन  सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों विशेषत  भेल के निजीकरण के प्रयासों की भर्त्सना करते हुए इनके विरुद्ध संघर्ष का आह्वान किया।कायर्क्रम आयोजक इंटक के प्रदेश उपाध्यक्ष व अखिल भारतीय भेल इंटक फेडरेशन के राष्ट्रीय महामंत्री राजबीर सिंह चौहान ने उपस्थित मजदूरों साथियो को  संबोधित करते हुए कहा कि आज सरकार की नीतियां किसान ओर मजदूर वर्ग के खिलाफ है।अगर हमने डट कर इनका मुकाबला नही किया तो वर्षो की मेहनत ओर कुर्बानियों की बदौलत मिले अधिकारों की बलि चढ़ जाएगी।आज मजदूर ओर किसान वर्ग को अपने अस्तित्व को बचाने की लड़ाई लड़नी है सत्यम  कम्पनी के आंदोलनरत मजदूर साथियो की मांगों का समर्थन करते हुए

उन्होंने कहा कि इंटक लगातार इन साथियो के साथ उनके आंदोलन में सहभागिता कर रहा है सभा को संबोधित करते हुए मुख्य अथिति इंटक के प्रदेश अध्यक्ष ओर पूर्व काबीना मंत्री हीरा सिंह बिष्ट ने इंटक संगठन की कार्यनीति व उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि संगठन अपने उदभव कॉल से ही मजदूर वर्ग के अधिकारों की रक्षा के लिए संघर्ष करता आ रहा है इंटक देश का सबसे बड़ा मजदूर संगठन है जो अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष जीण्संजीवा रेड्डी के नेतृत्व में पूरे देश मे मजदूर हितों के लिए लड़ रहा है।

सरकार की किसान मजदूर विरोधी नीतियों पर बात करते हुए उन्होंने इंटक कार्यकर्ताओ से इसके विरुद्ध संघर्ष का आह्वान किया।सम्मेलन में एक सात सूत्रीय मांग पत्र पारित कर राष्ट्रपति महोदय को ज्ञापित किया गया।सभा को इंटक प्रदेश महासचिव ऐण् पीण्अमोली  प्रदेश यूथ इंटक अध्यक्ष संग्राम सिंह पुंडीर इंटक जिला जिलाध्यक्ष भगत सिंह रवि बहादुर एअमरदीप रोशन तेलू राम प्रधान जगदीश बहुगुणा ने भी सम्बोधित किया।कार्यक्रम में  दीपचंद मंजूर खान श्याम कुमार शर्मा अश्विनी चौहान अमित चौहान  विनोद चौहान रेशु चौहान आशुतोषएइफ्तेखार अहसन सुनील कुमार गुप्ता    सहित बडी संख्या में कार्यकत्र्ता  उपस्थित रहे।