निर्माण कंपनी की लापरवाही से आवासीय भवन हुआ ध्वस्त, रोष व्याप्त

नई टिहरी। शनिवार को आलवेदर रोड निर्माण कार्य के चलते ऋषिकेश-गंगोत्री राजमार्ग 94 0 पर स्यासूँ गाव मे मार्ग के ऊपरी हिस्से की तरफ बना नत्थी सिंह का मकान आलवेदर रोड कटिंग के चलते पहाड़ी दरकने से क्षतिग्रस्त हो गया। जिससे प्रभावित परिवार में भारी रोष व्याप्त हो गया। ग्रामीण नत्थी सिंह का कहना है कि निर्माणी कंपनी ने उनके आस-पास कटिंग तो कर दी, लेकिन सुरक्षा दीवार नहीं लगाई। जिसका खामियाजा आज उन्हें भुगतना पड़ा है।

उनका भवन बुरी तरह से ध्वस्त हुआ है। शिकायत पर तहसीलदार शिप्रा वर्मा ने मौका मुआयना करते हुये कंपनी के प्रबंधकों का प्रभावित को मुआवजा देने के साथ ही अन्यत्र शिप्ट करने के निर्देश दिये। इसके अलावा स्यासूँ नकोटखोली के अन्य ग्रामीण परिवार भी आलवेदर रोड के कारण खतरे की जद में हैं। जिनके समाधान के तहसीलदार ने कंपनी के प्रबंधकों को तत्काल कार्यवाही को कहा। उनियाल गांव के लोगों ने भी कम्पनी प्रबंधकों के खिलाफ आक्रोश जताते हुये जमकर हंगामा काटते हुये कहा कि कंपनी के बेतरतीब कामों के चलते नालियां चौक होने से सडक़ निर्माण का मलबा उनके गांव व घरों में घुसने से भारी नुकसान झेलना पड़ रहा है।

कंपनी की मनमानी व प्रशासन की अनदेखी के चलते ग्रामीणों को आलवेदर सडक़ निर्माण का खामियाजा भुगतना पड़ रह है। मलबे के कारण कई जगह बिजली के पोल गिरने की संभावना है, लेकिन इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। तहसीलदार ने कहा कि लापरवाही पर कार्यवाही की जायेगी। इस मौके पर राजस्व कानूनगो प्रताप सिह भण्डारी , ब्लाक प्रमुख प्रभा बिष्ट, राजस्व उपनिरीक्षक सुरेंद्र रावत, बीआरओ के अवर अभियन्ता हसमुद्दीन खान, कम्पनी के डीपीएम राम अवतार गंगवार, भरोसा सिंह, मूर्ति सिंह, अतर सिंह, राय सिंह, बीरेन्द्र सेमवाल, गिरीश नौटियाल आदि मौजूद रहे।