एम्स से लौटे डाॅ0 निशंक एक्शन में, हरिद्वार के लिए डेढ़ करोड़ दिए

हरिद्वार। कोविड-19 को पराजित कर केंद्रीय शिक्षा मंत्री और हरिद्वार सांसद डाॅ0 रमेश पोखरियाल निशंक पुनः एक्शन मोड में आ गए हैं। एम्स से डिस्चार्ज होने के बाद उन्होंने सबसे पहले अपने लोकसभा क्षेत्र की सुध लेते हुए जिलाधिकारी से कोरोना से सुरक्षा और बचाव कार्यों और सामान को लेकर रिपोर्ट मांगी। जिला प्रशासन की रिपोर्ट के आधार पर हरिद्वार सांसद ने इन कार्यों और सामान के लिए अपनी निधि से डेढ़ करोड़ की राशि जारी की है। इस पैसे को आॅक्सीजन प्लांट और आॅक्सीजन सिलेंडर जैसे महत्त्वपूर्ण कार्यों पर खर्च किया जाएगा।

केंद्रीय शिक्षा मंत्री और हरिद्वार सांसद डाॅ0 रमेश पोखरियाल निशंक कुछ दिन पहले कोविड-19 से संक्रमित हो गए थे। उन्हें दिल्ली स्थित एम्स में भर्ती रहकर उपचार कराना पड़ा। अब वे स्वस्थ हैं। एम्स से छुट्टी मिलते ही डाॅ0 निशंक ने फिर से मोर्चा संभाल लिया है। उन्होंने हरिद्वार लोकसभा क्षेत्र में कोविड-19 के संक्रमण की स्थिति और उससे बचाव तथा सुरक्षा के उपायों को लेकर अधिकारियों और विभिन्न संस्थाओं से बातचीत की। उन्होंने जिलाधिकारी से इस संबंध में रिपोर्ट तलब की थी। प्रशासन की रिपोर्ट के आधार पर हरिद्वार सांसद डाॅ0 निशंक ने अपनी सांसद निधि से डेढ़ करोड़ की राशि तत्काल प्रभाव से जारी की। इस राशि में से 48.50 लाख रुपये आॅक्सीजन प्लांट पर खर्च किए जाएंगे। इसके अलावा इस धनराशि को आॅक्सीजन सिलेंडर, मास्क इत्यादि पर भी खर्च किया जाएगा।

वहीं, डाॅ0 निशंक इससे पहले शांतिकुंज के प्रमुख डाॅ0 प्रणव पंड्या और पतंजलि प्रमुख स्वामी रामदेव भी से भी कोविड-19 के उपचार में सहयोग देने की अपील कर चुके हैं। डाॅ0 निशंक के अनुसार वे अपने लोकसभा क्षेत्र में कोरोना महामारी की स्थिति और प्रभावितों की परेशानियों पर लगातार नजर रखकर इसकी समीक्षा कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि अपने क्षेत्र के लोगों का स्वास्थ्य उनकी प्राथमिकता में है।