भूमाफिया यशपाल तोमर से जुड़ी हाईवे से लगी विवादित 56 बीघा जमीन कुर्क

हरिद्वार, जनपद के ज्वालापुर में हाईवे से लगी विवादित 56 बीघा जमीन को कुर्क करते हुए पश्चिमी उत्तर प्रदेश के भूमाफिया यशपाल तोमर पर शिकंजा कस गया है। उसके खिलाफ हरिद्वार पुलिस की ओर से गैंगस्टर की कार्रवाई करने के बाद बुधवार को कानपुर से पहुंची आयकर विभाग की बेनामी निषेध इकाई ने यशपाल तोमर से जुड़ी विवादित 56 बीघा जमीन को कुर्क कर दिया। भूमि को बेनामी घोषित कर खरीद फरोख्त और हस्तांतरण पर प्रतिबंध लगा दिया। नोटिस चस्पा कर मुनादी भी कराई गई।
करीब सात माह पहले ज्वालापुर में हाईवे से सटी जुर्स कंट्री के पीछे 56 बीघा जमीन को लेकर दिल्ली के प्रॉपर्टी डीलर भारत चावला ने अपने सगे भाई गिरधारी लाल चावला, भतीजे सचिन, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के भूमाफिया यशपाल तोमर और एक अन्य के खिलाफ ज्वालापुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज कराया था। आरोप लगाया था कि यशपाल तोमर दबाव बनाया कि इस जमीन में से 20 बीघा का बैनामा गिरधारी लाल चावला के नाम करने को कहा। ऐसा नहीं करने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी थी।
यशपाल तोमर के खिलाफ ज्वालापुर कोतवाली में डीजीपी के निर्देश पर मुकदमा दर्ज होने के बाद एसटीएफ ने इस मामले की जांच की थी। एसटीएफ ने करीब सात महीने पहले नोएडा से यशपाल तोमर को गिरफ्तार किया था। इसके बाद जिलाधिकारी के निर्देश पर यशपाल तोमर की करीब 150 करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली गई थी।

यशपाल तोमर इन दिनों जिला कारागार रोशनाबाद में बंद हैं। हाल में ही पुलिस ने उसके खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में मुकदमा दर्ज किया था। अब बुधवार को कानपुर से आयकर विभाग की बेनामी निषेध इकाई के डिप्टी कमिश्नर विक्रम मणि की अगुवाई में एक टीम ने ज्वालापुर पहुंचकर पुलिस फोर्स के साथ 56 बीघा जमीन को बेनामी घोषित कर कुर्क कर लिया। नोटिस चस्पा करते हुए मुनादी भी कराई गई। एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार सिंह का कहना है आयकर विभाग ने जमीन कुर्क की है। पुलिस विभाग ने इसमें कोई कार्रवाई नहीं की है।
56 बीघा जमीन के कुर्क कर लिए जाने के बाद अब भूमाफिया यशपाल तोमर से जुड़े कई प्रॉपर्टी डीलर भी जांच के दायरे में आएंगे। पुलिस और एसटीएफ यशपाल तोमर से जुड़े कई अन्य प्रॉपर्टी डीलरों पर शिकंजा कस सकती है।