बड़े व्यवधानों के बाद आखिरकार मिल ही गया 12 गांवों के हजारों लोगों को 14 कि0मी का यातायात मार्ग

(हरीश पाण्डे) दन्या अल्मोड़ा। बताते चलें कि दन्या चलमोडीगाडा से कुलौरी,थली,पचैल,कोठाकूना,नैनोली, सीलिंग, खौडी,छनटाना,धनुवाछाना होते हुए कलौटा तक 12 गांव तोको को जोड़ने वाली 14 किलोमीटर की स्वीकृत मोटर मार्ग को राजनिति दरिंदगी से जुझते हुए न्यायालय की शरण में दो चार होना पड़ा।जिसके लिए क्षेत्रीय जनता के साथ साथ स्थानीय समाजिक कार्यकर्ता व अधिवक्ताओं को भी ऐड़ी चोटी का जोर लगाना पड़ा। तब जाके कई किलोमीटर पदयात्रा कर मुख्यमार्ग में पहुंचने वाले व्यक्तियों की राह उत्तराखंड हाईकोर्ट ने आसान की। ज्ञात रहे पिछले कई वर्षों से यह मार्ग ठेकेदारों की आपसी खींचतान कहें, या फिर सत्ता की दबंगई जो कि क्षेत्र में जनता की जुबां में चर्चा का विषय भी रहा। आखिरकार इस लम्बे खिंचतान में जानता की ही जीत हुई, कलौटा मोटर मार्ग से लाभान्वित होने वाली जनता के लिए 11अगस्त मंगलवार की शुबह शुभ घड़ी साबित हुई जब मंत्रोच्चार के साथ भूमिपूजन कर मोटर मार्ग का कार्य आरंभ हुआ।इस शुभ घड़ी में ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि नरेन्द्र बिष्ट, समाजिक कार्यकर्ता कृष्णा काण्डपाल, पूर्व प्रधान हरीश जोशी, पंडित बिपिन भट्ट सहित क्षेत्रीय लोग उपस्थित रहे