व्हाट्सएप चैट से खुली पोर्नोग्राफी बिजनेस की गुत्थी! शिल्पा के पति राज कुंद्रा बुरे फंसे

मुम्बई, बॉलीवुड अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को कथित तौर पर पोर्न (अश्लील) फिल्मों का निर्माण करने और उन्हें कुछ ऐप के माध्यम से प्रसारित करने के मामले में मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया है। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने इस बारे में जानकारी दी। अधिकारी ने बताया कि कुंद्रा इस मामले के ‘‘मुख्य साजिशकर्ता’’ प्रतीत होते हैं। उन्होंने बताया कि कुंद्रा के खिलाफ सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज होने के बाद उन्हें अपराध शाखा ने सोमवार को गिरफ्तार किया है।

अश्लील फिल्म निर्माण मामले में मुख्य साजिशकर्ता है राज कुंद्रा?

मुंबई पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘‘अश्लील फिल्में बनाने और कुछ ऐप के माध्यम से उन्हें प्रसारित करने का मामला मुंबई अपराध शाखा में फरवरी 2021 में दर्ज किया गया था। हमने इस मामले में 19 जुलाई 2021 को राज कुंद्रा को गिरफ्तार किया, क्योंकि वह इसमें मुख्य साजिशकर्ता प्रतीत होते हैं। पुलिस ने अपने बयान में आगे बताया हमारे पास इस बारे में पर्याप्त सबूत हैं।’’ उपनगरीय मुंबई के मालवानी पुलिस स्टेशन में चार फरवरी को मामला दर्ज किया गया था। एक महिला ने पुलिस से संपर्क किया था और अपनी शिकायत में कुछ आरोप लगाए थे, जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

व्हाट्सएप से खुली पोर्नोग्राफी बिजनेस की गुत्थी!

क्राइम ब्रांच के सूत्रों के मुताबिक राज कुंद्रा ब्रिटेन में रहने वाले प्रदीप बख्शी के रिश्तेदार हैं। उनकी एक यूके स्थित कंपनी भी है जिसका नाम केनरिन प्रोडक्शन हाउस है। प्रदीप बख्शी अपने रिश्तेदार और इस कंपनी के चेयरमैन होने के अलावा राज कुंद्रा के बिजनेस पार्टनर भी हैं। कुंद्रा और बख्शी के बीच विस्फोटक व्हाट्सएप चैट से पता चलता है कि पैसे का लेन-देन कैसे किया गया और अश्लील सामग्री के माध्यम से बड़ी कमाई की गई। यह व्हाट्सएप पर एक समूह चैट है जिसमें अन्य नाम भी बातचीत में शामिल हैं।

सड़क हादसे में टक्कर मारकर फरार हुई ऑडी के मालिक निकले शिल्पा शेट्टी के पति  राज कुंद्रा, दो महीने पहले बेच दी थी कार - Entertainment News: Amar Ujala

 

राज कुंद्रा अप्रत्यक्ष रूप से हैं कंपनी के मालिक और निवेशक

कथित तौर पर, राज कुंद्रा अप्रत्यक्ष रूप से इस कंपनी के मालिक और निवेशक भी हैं। यह पता चला है कि राज कुंद्रा के पूर्व पीए (निजी सहायक) उमेश कामत भारत में केनरिन प्रोडक्शन हाउस के प्रतिनिधि के रूप में काम करते थे और इस कंपनी ने कई एजेंटों को पोर्न फिल्मों के लिए अनुबंध दिया और फंडिंग की सुविधा प्रदान की। विवादास्पद मॉडल-अभिनेत्री गहना वशिष्ठ और उमेश कामत ने केनरिन प्रोडक्शन हाउस द्वारा नियंत्रित पोर्न फिल्में बनाईं। एक ही कंपनी उन्हें अलग-अलग तरह की पोर्न फिल्म बनाने के लिए एडवांस पेमेंट देती थी।

अग्रिम भुगतान प्राप्त करने के बाद, गहना और कामत अश्लील फिल्में बनाने के अपने काम पर लग जाते थे और ईमेल आईडी के माध्यम से केनरिन प्रोडक्शन हाउस को ऐसी सामग्री भेजते थे। उनके द्वारा लिंक भेजे जाने के तुरंत बाद, क्रमशः उनके खातों में धन हस्तांतरित किया गया। इन अश्लील फिल्मों को सोशल मीडिया ऐप हॉटशॉट पर अपलोड किया गया था। इसी पोर्नोग्राफी मामले में जांच के दौरान मुंबई क्राइम ब्रांच को यह भी जानकारी मिली कि केनरिन प्रोडक्शन हाउस देश भर के विभिन्न एजेंटों के माध्यम से पोर्नोग्राफी और इस तरह की सामग्री के वित्तपोषण के कारोबार में शामिल है।


राज कुंद्रा की हुई गिरफ्तारी

मुंबई पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘‘अश्लील फिल्में बनाने और कुछ ऐप के माध्यम से उन्हें प्रसारित करने का मामला मुंबई अपराध शाखा में फरवरी 2021 में दर्ज किया गया था। हमने इस मामले में 19 जुलाई 2021 को राज कुंद्रा को गिरफ्तार किया, क्योंकि वह इसमें मुख्य साजिशकर्ता प्रतीत होते हैं। पुलिस ने अपने बयान में आगे बताया हमारे पास इस बारे में पर्याप्त सबूत हैं।’’ उपनगरीय मुंबई के मालवानी पुलिस स्टेशन में चार फरवरी को मामला दर्ज किया गया था। एक महिला ने पुलिस से संपर्क किया था और अपनी शिकायत में कुछ आरोप लगाए थे, जिसके बाद प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

फरवरी 2021 से ही हो रही हैं अश्लील फिल्म निर्माण करने की जांच

महिला की शिकायत के बाद इस मामले की जांच हुई। राज कुंद्रा पर इस आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गई और अपराध शाखा को मामला सौंपा दिया गया है। इससे पहले भी अश्लील फिल्म बनाने के संबंध में मामले दर्ज किए थे, जिनमें एक अभिनेत्री और कुछ अन्य लोगों को आरोपी बनाया गया था। अधिकारी ने अपने बयान में यह भी कहा, ‘‘हम राज कुंद्रा के खिलाफ मामले की जांच करेंगे और यह पता लगाएंगे कि क्या इस मामले और पहले दर्ज किए गए अश्लील फिल्म संबंधी मामलों में कोई संबंध है? कुंद्रा के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 420 (धोखाधड़ी), 34 (सामान्य इरादा), 292 और 293 (अश्लील विज्ञापन से संबंधित) और आईटी अधिनियम एवं महिलाओं के अश्लील चित्रण (निषेध) अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। अधिकारी ने बताया कि मामले की जांच जारी है।

राज कुंद्रा की गिरफ्तारी बताती है कि अब अपने देश में पोर्न एक इंडस्ट्री का रूप लेती जा रही है। दुनियाभर की पॉर्न इंडस्ट्री करीब 100 बिलियन डॉलर से कहीं ज्यादा की है। भारत में कोई पॉर्न इंडस्ट्री नहीं है लेकिन बावजूद इसके गैरकानूनी तरीके से फिल्में देखी जाती हैं। यदि कोई भी व्यक्ति भारत देश में इस तरह का कोई कृत्य करता हुआ पाया जाता है तो उसपर आईटी एक्ट और आईपीसी की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया जाता है। जिसके बाद अदालत उसे निर्णय सुनाती है और सजा होती है।

पिछले कुछ सालों में पोर्नोग्राफी का व्यापार खूब बढ़ गया है। इसके दायरे में ऐसे फोटो, वीडियो, ऑडियो और संदेश आते हैं जो कि यौन कृत्यों पर आधारित होते हैं और उनमें नग्नता दिखाई जाती है। ऐसी सामग्री को इलेक्ट्रॉनिक ढंग से प्रकाशित करने या किसी को भेजने पर एंटी पोर्नोग्राफी लॉ लागू होता है।
राज कुंद्रा विवादों से घिरे हुए व्यक्ति रहे हैं। पोर्न केस से पहले भी राज कुंद्रा धोखाधड़ी से लेकर सट्टेबाजी के मामले तक में विवादों में रह चुके हैं। अब राज कुंद्रा के कुछ आपत्तिजनक ट्वीट वायरल हो रहे हैं। इन ट्वीट्स में राज ने कुछ ऐसी बातें लिखीं हैं जो लोगों को रास नहीं आ रही,
राज के ये ट्वीट साल 2012 के हैं। एक ट्वीट में राज लिखते हैं, श्रीलंका की चियर करती हुई लड़कियों को देखकर आप रावण को सीता के हरण के लिए जिम्मेदार नहीं ठहरा सकते। यूजर्स इस ट्वीट पर आपत्ति जता रहे हैं और उन्हें सख्त सजा देने की मांग कर रहे हैं।
राज कुंद्रा ने एक ट्वीट में वेश्यावृत्ति और पोर्न की वैधता पर सवाल उठाया था। 29 मार्च 2012 के ट्वीट में, राज कुंद्रा ने सवाल किया कि किसी को कैमरे पर सेक्स के लिए भुगतान करना कानूनी क्यों? इस दौरान उन्होंने यह भी पूछा कि वेश्यावृत्ति पोर्न से अलग कैसे है?
एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा था, ‘एक्टर्स क्रिकेट खेल रहे हैं, क्रिकेटर पॉलिटिक्स के साथ खेल रहे हैं, नेता पोर्न देख रहे हैं जबकि पोर्न स्टार एक्टर्स बन रहे हैं।’ एक यूजर ने पुराने ट्वीट को शेयर करते हुए उन्हें शर्मनाक बताया है। साथ ही उनकी सोच पर भी सवाल उठाया है।