होमगार्ड्स ने अपनी सजगता से सड़क पर लहु-लुहान घायल व्यक्ति की बचाई जान

देहरादून, होमगार्ड जवान श्री प्रकाश आर्य ने पी.डब्लू.डी. तिराहा, मुनिकीरेती, ऋषिकेश पर ड्यूटी में तैनात थे, कि तभी ब्रहमानन्द मोड़ मुनिकीरेती की तरफ से आये किसी अज्ञात मोटरसाईकिल वाले ने होमगार्ड श्री प्रकाश आर्य को बताया कि पीछे की तरफ 100 मीटर दूर कोई व्यक्ति घायल अवस्था में लहु-लुहान होकर नाली में पड़ा हुआ है। जिस पर होमगार्ड श्री प्रकाश आर्य ने त्वरित कार्यवाही करते हुए घायल व्यक्ति के पास पहुचें तथा घायल व्यक्ति को उठाने हेतु अपने एक अन्य होमगार्ड साथी श्री विकास आर्य को बुलाया गया, जो ब्रहमानन्द मोड़ पर तैनात था। साथ ही एम्बूलेंस को काल की गई, परन्तु एम्बूलेंस दूर रानीपोखरी क्षेत्र में होने के कारण दोनो होमगार्ड्स जवानो द्वारा अपने निजी साधन के माध्यम से उक्त घायल व्यक्ति को त्वरित उपचार हेतु राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश पहुचाया गया। जहा पर घायल व्यक्ति का उपचार किया गया। बाद में घायल व्यक्ति की पहचान श्री जगदीश गुप्ता, चन्द्रभागा चन्द्रेश्वर नगर ऋषिकेश देहरादून के रूप में की गई। श्री जगदीश गुप्ता, द्वारा उपचार के उपरान्त होश में आने पर होमगार्ड्स जवानो को सहायता करने के लिए घन्यवाद किया गया।
होमगार्ड्स के उक्त कार्य से राष्ट्रीय राजमार्ग पर पडे़ लहु-लुहान व्यक्ति की सहायता हो पायी। सामान्यतः रास्ते से गुजरने वाले व्यक्तियों द्वारा अस्पताल पहॅुचाने से पहले सड़क दुर्घटनाओं की रिकार्डिंग कर सोशल मीडिया पर प्रसारित कर दिया जाता है, उक्त दोनों होमगार्ड्स ने उपरोक्त सड़क दुर्घटना में First Responder का कार्य किया, जो कि अन्य होमगार्ड्स एवं आम जनमानस के लिए एक सबक है।
पुलिस महानिरीक्षक/कमाण्डेन्ट जनरल, होमगार्ड्स श्री केवल खुराना (आई.पी.एस.) द्वारा होमगार्ड श्री प्रकाश आर्य एवं श्री विकास आर्य की सजगता, सूझबूझ एवं त्वरित प्रतिक्रिया की प्रशंसा करते हुए उक्त कार्य हेतु दोनो होमगार्ड्स को कमाण्डेन्ट जनरल, होमगार्ड्स डिस्क (CG HG DISC ) एवं प्रशंसा प्रमाण पत्र से सम्मानित करने की घोषणा की गयी है। श्री प्रकाश आर्य एवं श्री विकास आर्य के द्वारा किया गया उक्त कार्य सभी होमगार्ड्स के लिए प्रेरणादायक एंव होमगार्ड्स विभाग के लिए गौरान्वित कार्य है।