थाती पोस्ट ऑफिस गबन पर फूटा ग्रामीणों का गुस्सा, तहसील डुंडा पर किया प्रदर्शन

उत्तरकाशी, जनपद के थाती गांव के ब्रांच पोस्ट ऑफिस में हुये गबन की उच्चस्तरीय जांच की मांग लेकर डुंडा तहसील में ग्रामीणों के प्रदर्शन से ब्रांच पोस्ट ऑफिस थाती में हुए गबन से डाक विभाग की कार्यशैली पर सवाल उठने लगे हैं। गबन के आरोपी पोस्टमास्टर की गिरफ्तारी के बाद धोखाधड़ी का शिकार हुए खाताधारकों ने डुंडा तहसील मुख्यालय पर प्रदर्शन कर प्रशासन से मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने व गबन हुई धनराशि शीघ्र लौटाने की मांग की।

मिली जानकारी के मुताबिक थाती गांव के डाकघर में तैनात ब्रांच पोस्टमास्टर पर खाताधारकों द्वारा जमा रकम के गबन का आरोप है। प्रारंभिक जांच में गबन की पुष्टि होने पर पुलिस ने आरोपी पोस्टमास्टर धर्म सिंह शाह को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। मंगलवार को बड़ी संख्या में धनारी क्षेत्र के ग्रामीण तहसील मुख्यालय डुंडा में एकत्र हुए। यहां उन्होंने डाक विभाग के खिलाफ प्रदर्शन कर मामले की उच्चस्तरीय जांच कराने व गबन की गई धनराशि शीघ्र लौटाने की मांग की। ग्रामीणों ने डाक विभाग के अधिकारियों की लापरवाही से घोटाला होने का आरोप लगाया।

बताया जा रहा है कि पोस्टमास्टर ने खाताधारकों द्वारा जमा की गई धनराशि उनकी पासबुकों में तो दर्ज की, लेकिन फर्जीवाड़ा कर खातों में जमा नहीं की। इस तरह का फर्जीवाड़ा न हो इसके लिए डाक विभाग के अधिकारियों द्वारा समय-समय पर ब्रांच पोस्ट ऑफिसों की जांच का नियम है। लोगों का आरोप है कि यदि समय पर प्रभावी जांच होती, तो इतनी बड़ी धनराशि का गबन नहीं होता। उन्होंने मामले की उच्च स्तरीय जांच व शीघ्र गबन हुई राशि लौटाने की मांग को लेकर प्रशासन को ज्ञापन सौंपा। प्रदर्शनकारियों में जगवीर बुढेरा, धर्मेंद्र बिष्ट, राजेंद्र पाल परमार, शैलेंद्र, मनोज परमार, पवन नौटियाल, नरेंद्र, जसपाल, जयेंद्र आदि शामिल रहे।