03 फरवरी से 13 फरवरी तक चलाया जायेगा बच्चो व गर्भवती महिलाओ के लिए टीकाकरण अभियान

हरिद्वार जनवरी 31( कुल भूषण शर्मा)  अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के.के मिश्रा की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार रोशनाबाद में सघन मिशन इन्द्रधनुश अभियान की कोर कमेटी की बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी हरिद्वार डा0 एच.डी. शाक्य द्वारा अवगत कराया गया कि भारत सरकार के निर्देशानुसार सघन मिशन इन्द्रधनुष 2.0 देश के उन चिन्हित राज्यों एवं जनपदों में संचालित किया गया है जहाँ पर पूर्ण टीकाकरण से अधिकांश बच्चे छूटे हुये हैं। भारत सरकार द्वारा लिये गये निर्णयानुसार 27 राज्यों केन्द्रशासित प्रदेशों के अन्तर्गत 271 जनपदों में सघन मिशन इन्द्रधनुष गतिविधि की माह दिसम्बर 2019 से मार्च 2020 तक 04 चरणों में पूर्ण प्रतिरक्षण के लक्ष्य को प्राप्त किया जाने हेतु आयोजित किया जा रहा है। उत्तराखण्ड राज्य के 10 जनपदों में हरिद्वार जनपद भी इस अभियान में सम्मिलित किया गया है।
टीकाकरण से छूटने वाले बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं तक पहुचंने के लिये आगामी  03 से 13 फरवरी 2020 तक टीकाकरण अभियान चलाया जाएगा। जनपद में टीकाकरण से मना करने वाले लगभग 350 परिवार हैं, जिनके बच्चो को भी प्रतिरक्षित किया जाना है।
अपर जिलाअधिकारी द्वारा संबंधित समस्त अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि सघन मिशन इन्द्रधनुष अभियान के सफल संचालन हेतु सभी कर्मचारियोें को मोबालाईजेशन करने हेतु अपना सहयोग प्रदान करें। उन्होंने समस्त जनपद स्तरीय अधिकारीगणों को विशेष रूप से ऐसे परिवारों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित करने के निर्देश दिये जिन परिवारों ने अपने बच्चों को टीकाकरण से वंचित रखा हुआ है। उन्होंने कहा कि इसके लिए स्थानीय जनप्रतिनिधि, ग्राम प्रधान अथवा सम्मानित व्यक्तियों का सहयोग भी लिया जा सकता है।
उन्होंने सीएमओं को ऐसे परिवारों की सूची बनाकर क्षेत्रवार जनपद स्तरीय अधिकारियों को प्रेषित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि सभी विभाग आपसी समन्वय बनाकर कार्य करें।
शिक्षा विभाग को निर्देश दिये कि निजी स्कूलों द्वारा भी टीकाकरण हेतु जागरूकता अभियान चलायें जाएं। एएनएम, आशा, आंगनबाडी कार्यकत्री, सुपरवाईजर आदि अपने-अपने क्षेत्रों में समन्वय बनाकर अधिक से अधिक टीकाकरण का लक्ष्य रखें।
इस अवसर पर स्वास्थ्य शिक्षा पुलिस आईसीडीएस रेडक्रास जिला पंचायती राज आदि विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।