त्योहारी सीजन खत्म होने से बिकवाली का दौर, सराफा बाजार में औंधे मुंह गिरा चांदी का भाव

पटना , जेएनएन। सराफा बाजार में गुरुवार को चांदी औंधे मुंह गिर गई। इसका भाव 900 रुपये प्रति किलो नीचे आकर 63,200 रुपये पर ठहरा। हालांकि, सोना का भाव 52,600 रुपये प्रति दस ग्राम पर स्थिर रहा। सराफा कारोबारियों का कहना है कि त्योहारों का मौसम अब खत्म हो चला है। इसे देखते हुए सटोरिया बिकवाली का दौर शुरू हो गया है।

सोना और चांदी का भाव उच्च स्तर पर

अनुमान लगाया जा रहा है कि सोना और चांदी का भाव उच्च स्तर पर है। इसलिए मुनाफावसूली शुरू हो गई है। बिकवाली बढऩे से चांदी के भाव तीव्र गिरावट देखी जा रही है। हालांकि, कारोबारियों का एक तबका मान रहा है कि अभी लग्न की मांग अच्छी निकल रही है। वैवाहिक सीजन की वजह से बाजार में अधिक राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। त्योहारी मांग अब सुस्त हो गई है इसलिए थोड़ी राहत जरूर मिल सकती है।

सराफा बाजार अंदरखाने से अभी भी मजबूत

लग्न की मांग निकलने की वजह से सोना का भाव अभी भी उच्च स्तर पर टिका हुआ है। सराफा व्यवसायी बिमल राय का कहना है कि सराफा बाजार अंदरखाने से अभी भी मजबूत है। अप्रैल से लेकर जुलाई के बीच लग्न का मुहूर्त नहीं था। इसलिए सभी शादियों की तिथियां नवंबर और दिसंबर में ही हैं। इसलिए सराफा बाजार में खास तौर से सोना का मूल्य अभी उच्च स्तर पर बना रह सकता है। चांदी में थोड़ी और राहत मिल सकती है।

धनतेरस पर बिहार में हुई थी दो हजार करोड़ की खरीदारी

इसके पहले धनतेरस पर बाजारों में रौनक देखी गई थी। त्योहार पर सराफा बाजार में नया रिकॉर्ड बना था। पटना में 25 लाख रुपये का एक हार बिका। पिछले साल की बात करें तो यह आंकड़ा 15 लाख रुपये पर था। इसी तरह 5.5 लाख रुपये का टीवी सेट भी बिका। हालांकि, पिछले साल 11 लाख रुपये का टीवी सेट बिका था। प्रदेश भर में महंगी खरीदारी रोमांचित करने वाली रही। 40 से 42 लाख रुपये वाली 60 से अधिक कारों की बिक्री हुई है। बिहार में दो हजार करोड़ से अधिक का कारोबार हुआ था।