सरकार द्वारा घोषित राशन और पेंशन नहीं मिलने से जरूरतमंद परेशान, एडीएम फिरमाल को सौंपा ज्ञापन

परिवर्तन पार्टी के नेतृत्व में महिलाओं ने दिया ज्ञापन
समस्याओं का समाधान न होने पर 22 सितम्बर को धरना प्रदर्शन

अल्मोड़ा। सरकार द्वारा घोषित राशन और पेंशन न मिलने से जरूरतमंद परेशान हैं। उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के नेतृत्व में महिलाओं ने डीएम के नाम संबोधित ज्ञापन एडीएम बीएस फिरमाल को सौंपा। पार्टी ने समस्याओं का समाधान न होने पर 22 सितंबर को धरना प्रदर्शन करने का एलान किया, पार्टी के कन्द्रीय अध्यक्ष पी सी तिवारी ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश के 80 करोड़ गरीबों को पांच किलो राशन, दाल और अन्य सामग्री प्रति यूनिट देने की घोषणा की थी लेकिन लाभार्थियों को राशन नहीं मिला है। इसके चलते गरीबी और बेरोजगारी के कारण सैकड़ों परिवारों के सामने भुखमरी की स्थिति आ गई है। लोग जब राशन की दुकान में पूछने जाते हैं, तब दुकानदार अगले महीने आने का आश्वासन देता है। दिव्यांगों, परित्यक्ता, विधवा, तलाकशुदा महिलाओं को जुलाई के बाद पेंशन का भुगतान नहीं हुआ है। इस कारण परिवारों को छोटी-छोटी चीजों के लिए तरसना पड़ रहा है। सरकार की घोषणाओं के लागू न होने से तमाम लोग गंभीर अवसाद का शिकार हो रहे हैं। पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने कहा कि प्रदेश सरकार और प्रशासन को समस्या का समाधान करना चाहिए। ज्ञापन देने के बाद हुई बैठक में तय हुआ कि यदि समस्याओं का शीघ्र समाधान नहीं हुआ तो 22 सितंबर को महिलाएं गांधी पार्क में धरना, प्रदर्शन करेंगी। ज्ञापन देने वालों में पार्टी की केंद्रीय सचिव आनंदी वर्मा, हीरा देवी, किरन आर्या, मीना आर्या, सरिता, अनीता बजाज, विमला देवी, सरोज, दीपा आर्या, भावना आर्या, रिजवाना परवीन, फिरदास परवीन, उमा देवी, शगुन आर्या, अनीसा बेगम, कमला, किरन, सरिता मेहरा, पूरन मेहरा आदि रहे।