“सिद्धबली बाबा अनुष्ठान” हुआ शुरू, कन्याओं ने खोह नदी से जल लेकर की परिक्रमा

कोटद्वार, शुक्रवार को ब्रह्म मुहूर्त में मुख्य पुजारी पंडित देवी प्रसाद भट्ट के दिशा-निर्देशन में मुख्य यजमान व लैंसडाउन के विधायक महंत दिलीप रावत ने खोह नदी के तट पर संकल्प लेने के साथ ही सिद्धबली बाबा का अनुष्ठान प्राण प्रतिष्ठा के साथ शुरू हुआ । इसके बाद कन्याओं ने खोह नदी से जल लेकर यज्ञ स्थल तक कलश यात्रा निकाली। खोह नदी के पवित्र जल से श्री सिद्धबाबा का महाभिषेक किया गया।

इसके बाद श्रद्धालु गण सिद्धबली डांडा में पूजा अर्चना करने गए व सिद्धबाबा की ध्वज पताका फहराई गई फिर एकादशीय कुंडीय यज्ञ को शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर मुख्य रूप से विधायक महंत दिलीप रावत, मेयर हेमलता नेगी और पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी समेत अनेक गणमान्य लोगों ने यज्ञ में शिरकत की। एकादश कुंडीय यज्ञ में प्रथम दिवस पर डाली गई आहुतियों के बाद सुंदर कांड पाठ किया गया।

इसके बाद शाम को कोरोना महामारी को देखते हुए हर वर्ष की भांति शोभा यात्रा में झांकियां नहीं निकाली गई केवल सिद्धबाबा की डोली को मुख्य मार्गो बद्रीनाथ मार्ग, झंडा चौक, लाल बत्ती चौक से होते हुए गोविंद नगर स्थित गुरुद्वारे तक निकाली जाएगी । इस मौके पर श्री सिद्धबली मंदिर समिति के अध्यक्ष कुंजबिहारी देवरानी, प्रमोद रावत, रवीन्द्र जजेड़ी, रवीन्द्र नेगी, जीत सिंह पटवाल, विवेक अग्रवाल, शुभम रावत, दीपू पोखरियाल, ऋषभ समेत कई लोग उपस्थित रहे।