सुसाइड नोट लिख कर लापता हुए थे पूर्व विधायक

20

सिद्धार्थनगर जिले के कपिलवस्तु विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक विजय कुमार पासवान की सूचना मिल गई है। वो मंगलवार रात से घर से लापता हो गए थे। जिसके बाद से परिवारीजनों ने उनके लापता होने की एफआईआर दर्ज करवाई थी। वहीं मौके से पुलिस को सुसाइड नोट भी मिला था। जिसकी वजह से परिवारीजन काफी परेशान थे।

इंस्पेक्टर चिनहट के मुताबिक दो दिन पहले विजय मूल निवास से लखनऊ आए थे। मंगलवार रात अचानक घर से निकले और वापस नहीं लौटे। घरवालों ने फोन मिलाया, लेकिन संपर्क नहीं हो सका। इसके बाद पुलिस को मामले की जानकारी दी गई। पुलिस ने फ्लैट में जाकर छानबीन की तो उन्हें सुसाइड नोट पड़ा मिला। नोट में पूर्व विधायक ने बीमारी से परेशान होने की बात कही गई थी। इसके बाद से पुलिस पड़ताल में लग गई थी। वहीं विजय ने बुधवार देर शाम घरवालों को फोन करके कानपुर में होने की सूचना दी। जिसके बाद परिवारीजन कानपुर के लिए रवाना हो गए।

पुलिस को मिले सुसाइड नोट विजय ने बीमारी से परेशान होने का जिक्र किया था। जिसमें लिखा था कि मैं अपनी मौत का खुद जिम्मेदार हूं। सुसाइड पर पुलिस किसी को परेशान ना करे। वहीं पुलिस उनकी तलाश में लग गई है।

घर पर छोड़ दिया था मोबाइल फोन
पुलिस के मुताबिक पूर्व विधायक फ्लैट पर ही अपना मोबाइल फोन छोड़ गए थे। जिसकी वजह से उनकी लोकेशन का पता नहीं चल पाई। पुलिस ने सीसी कैमरे भी खंगाले गए थे।

पुलिस ने पूर्व विधायक के परिवारीजनों से जानकारी ली है। यह पता लगाया जा रहा है कि विजय बीमारी के अलावा किसी अन्य बात को लेकर तो परेशान नहीं थे। पुलिस पारिवारिक, राजनीतिक कारणों और रंजिश समेत अन्य विवादों के बारे में भी पता लगा रही है। हालांकि, विजय कुमार पासवान के बारे में अभी तक कोई स्पष्ट जानकारी नहीं मिल सकी है।

 

लगभग 24 घंटे के अंदर पूर्व विधायक का पता चला। सूचना के मुताबिक उन्‍होंने घरवालों को फोन करके बताया कि वो कानपुर बस अड्डे पर हैं। जिसके बाद सभी उनहें लेने के लिए कानपुर रवाना हो गए। वहीं विधायक की तलाश में पुलिस टीम ने परिचितों से भी पूछताछ की थी।

पूर्व विधायक विजय पासवान समाजवादी पार्टी से सिद्धार्थनगर जिले के कपिलवस्तु विधानसभा क्षेत्र से 2012 में विधायक चुने गए थे। और वे पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के बेहद करीबी रह चुके हैं।