जनता कर्फ्यू शुरू, करें इन बातों का पालन

नई दिल्‍ली : देश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज (रविवार, 22 मार्च) जनता कर्फ्यू का आह्वान किया है, जो सुबह 7 बजे से शुरू हो रहा है। इसका उद्देश्‍य कोरोना वायरस के तेजी से हो रहे प्रसार को रोकना है। देश में शनिवार मध्‍यरात्रि तक कोरोना वायरस के मामलों की संख्‍या बढ़कर 315 हो गई है। ऐसे में ‘जनता कर्फ्यू’ की सफलता और भी आवश्‍यक हो गई है।

किन बातों का करना है पालन जनता कर्फ्यू के दौरान आपको कई बातों का पालन करना है, जिसकी अपील प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च को राष्‍ट्र के नाम अपने संबोधन में की थी। इसे 5 प्रमुख बिंदुओं में समझा जा सकता है :

कोरोना वायरस से बचने के लिए ‘जनता कर्फ्यू’ के दौरान जिन बातों का पालन करना है, उनमें सबसे पहला तो यही है कि आप घरों में ही रहें और बाहर न निकलें। यहां तक कि अपनी सोसाएटी, पार्क में भी न जाएं। न पड़ोसी या रिश्‍तेदार के घर जाएं, न किसी को अपने घर बुलाएं।
शाम में 5 बजे सभी लोग अपने घरों के दरवाजे बालकनी या छत से ताली या थाली बजाकर ऐसे लोगों का अभिवादन करें, जो जोखिम के बावजूद अपनी सेवा दे रहे हैं। इनमें डॉक्टर, पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी, सफाईकर्मी, होम डिलीवरी करने वाले शामिल हैं। 5 मिनट तक ताली, थाली या घंटी बजाकर इनका आभार जताएं।
भले ही आप घर में हों और कहीं बाहर न जा रहे हों, पर समय-समय पर हाथ जरूर धोते रहें। शौच के बाद साबुन से हाथ अच्‍छी तरह से साफ करें तो खाने से पहले भी साबुन से अच्‍छी तरह से हाथ धुलें, भले ही आपने कुछ देर पहले ही हाथ क्‍यों न धोया हो। हाथ धोने के क्रम में इसका भी ध्‍यान रखें कि कम से कम 20 सेकेंड तक साबुन से अच्‍छी तरह से हाथ धोएं।
कम से कम 10 लोगों को फोन कर कोरोना वायरस से बचाव के बारे में बताएं। उन्‍हें इसकी भी जानकारी दें कि किस तरह की सावधानी बरतने की जरूरत है। लोगों को इस बीमारी की गंभीरता और इसके बचाव के बारे में जागरूक करें।
किसी मेडिकल इमरजेंसी की हालत में ही घर से बाहर निकलें। अगर संभव हो तो फोन पर ही डॉक्‍टर से सलाह लें। आप आस-पास दूध-ब्रेड की दुकानों पर जा सकते हैं, क्योंकि ये जरूरी चीजें हैं और इसके लिए कोई आपको रोकेगा नहीं। लेकिन अगर इसे भी टाला जा सकता हो तो टाल दें।
क्या है टाइमिंग जनता कर्फ्यू सुबह 7 से शुरू हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात 9 बजे तक लोगों से इसका अनुपालन करने की अपील की है। इस दौरान केवल पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी, चिकित्‍सक, मेडिकल स्‍टाफ और सफाईकर्मी ही घर से निकल सकते हैं, क्योंकि खुद प्रधानमंत्री ने कहा है कि पीएम मोदी ने कहा है कि इन लोगों पर बड़ी जिम्मेदारी है और उनका घर से निकलना जरूरी है।