सल्ट की हार गलत टिकट वितरण का नतीजा : नेगी

“कार्य कर्ताओं की जीतोड़ मेहनत भी नहीं दिला पाई जीत, बड़े नेताओं का गलत आकलन बना काग्रेस के लिये निराशा का कारण”।

रुद्रप्रयाग- हाल ही में उत्तराखंड की सल्ट विधानसभा उपचुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी की हार पर भितरघात जैसी अफवाहों को खारिज करते हुए उत्तराखंड कांग्रेस के निवर्तमान प्रदेश प्रवक्ता सूरज नेगी ने कहा कि यह कांग्रेसी पार्टी का गलत टिकट टिकट वितरण का नतीजा रहा है उन्होंने कहा कि भाजपा को वाक ओबर देने में कांग्रेश के बड़े नेताओं का गलत आकलन भी रहा है

श्री नेगी ने कहा कि सल्ट सीट पर 10 वर्ष तक पार्टी के वरिष्ठ नेता रणजीत सिंह रावत विधायक के रुप में जनता के बीच कार्य कर चुके हैं ऐसे में बिना उनकी मदद के सल्ट सीट को भेद पाना कांग्रेस के लिए असंभव था परंतु उसके विपरीत बिना रंजीत रावत को विश्वास में लिए पार्टी ने ऊपर ही ऊपर टिकट का बंटवारा कर डाला जिसका खामियाजा भी पार्टी को इस सीट पर हार के रूप में चुकाना पड़ा

श्री नेगी ने कहा कि उत्तराखंड के कोने कोने से कांग्रेस के नेता शर्ट में चुनाव प्रचार में घूम रहे थे मगर सब 2022 के लिए अपने अपने टिकट की पैरवी में प्रदेश प्रभारी के समक्ष अपनी उपस्थिति लगाकर घरों को लौट आए परंतु जमीनी सच्चाई तो कुछ और ही थी भाजपा के मुख्यमंत्री की गलत बयान बाजी का फायदा भी कांग्रेस पार्टी उठाने से चूक गई सल्ट में जमीनी स्तर पर पूर्व विधायक रणजीत रावत की पकड़ का एहसास कांग्रेस हाईकमान को नहीं हो पाया और पार्टी ने एक बार फिर अपनी भूल को दोहराया अब अगर अपनी गलती पर पर्दा डालने के लिए कोई इस हार का ठीकरा पूर्व विधायक रणजीत रावत के ऊपर डाल कर अपनी गलती को छिपाने का प्रयास करेगा तो पार्टी 2022 में और कमजोर पड़ सकती है श्री नेगी ने कहा कि पार्टी में आत्ममंथन और चिंतन की आवश्यकता है पार्टी को अपने खोए जनाधार को वापस लाने के लिए जमीनी पकड़ रखने वाले नेताओं पर भरोसा करना ही होगा जिससे कार्यकर्ताओं के मनोबल को बढ़ाया जा सके