रोते हुए बच्चे को चुप कराना नहीं आसान, इन बातों का रखें ध्यान

64

इसमें कोई शक नहीं कि भले ही पैरंट्स कितने भी शांत और धैर्य रखने वाले क्यों न हों, अपने बच्चे का रोना बर्दाश्त नहीं कर सकते। खासतौर पर तब जब आपको पता ही नहीं हो कि आपका बच्चा रो क्यों रहा है। जब नवजात बच्चा रोता है तो मां-बाप से लेकर घर का हर सदस्य सिर्फ इस बात में लग जाता है कि आखिर बच्चा रो क्यों रहा है? क्या बच्चा भूखा है, क्या उसका डायपर गीला है, क्या उसे रैशेज हो गए हैं, क्या उसे कहीं दर्द हो रहा है आदि…

कैसे कराएं बच्चे को चुप?
कई स्टडीज में भी इस बात का खुलासा हो चुका है कि बच्चे को रोता देख पैरंट्स का ब्रेन तुरंत ऐक्शन मोड में आ जाता है कि किस तरह से बच्चे की मदद की जाए और उसका रोना बंद हो जाए। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि रोते हुए बच्चे को चुप कराते वक्त आखिर हमें उसे क्या कहकर चुप कराना चाहिए?

बच्चे रोने की वजह नहीं बता पाते
छोटा बच्चा, अपने रोने की वजह को पूरी तरह से शब्दों में बयां नहीं कर पाता है और कई बार तो उसे खुद भी पता नहीं होता कि उसे कैसे महसूस हो रहा है और वह रो क्यों रहा है? ऐसे में तुरंत ऐक्शन में आकर बच्चे से यह पूछना कि उसे कैसे महसूस हो रहा है और वह क्यों रो रहा है, सही नहीं होगा। हो सकता है कि बच्चा गुस्सा, कन्फ्यूजन, निराशा या फिर बोरियत की वजह से रो रहा हो।

रोना बंद करो ऐसा न कहें
सबसे पहले तो टॉडलर से रोना बंद करो- ऐसा बिल्कुल न कहें। आपके ऐसा बोलने से बच्चे को लगेगा कि कि आप उसे समझ ही नहीं पा रहे हैं और वह पहले की तुलना में ज्यादा जोर-जोर से रोने लगेगा। साथ ही कई बार छोटे बच्चों को ऐसा भी महसूस हो सकता है कि उनके इमोशन्स की कोई कद्र ही नहीं है। लिहाजा सबसे पहला स्टेप यह है कि अगर आपका बच्चा रो रहा है कि तब सबसे पहले उससे सहानुभूति व्यक्त करें।

ध्यान भंग करने की कोशिश न करें
दूसरी गलती जो ज्यादातर पैरंट्स करते हैं वह यह है कि बच्चे का रोना बंद करवाने के मकसद से वे बच्चा का ध्यान भटकाने की कोशिश करते हैं। लेकिन ऐसा करने से हम मुख्य मुद्दे से भटक जाते हैं और वह यह है कि हमें बच्चे की मदद करनी है ताकि वह अपने इमोशन्स से डील करना खुद ही सीखे।

बच्चे से ये बातें कहें
तो आखिर एक रोते हुए छोटे बच्चे से हम क्या कहें? सबसे पहले तो खुद शांत रहें। आपकी बेचैनी और झुंझलाहट बच्चे की परेशानी और बढ़ाएगी। अपनी आवाज की पिच को धीमा रखें और फिर बच्चे से कहें..

मैं तुम्हारी मदद करूंगी
मैं समझ रही हूं कि तुम्हारे लिए ऐसा करना मुश्किल है
मैं समझ सकती हूं कि तुम्हें कैसा महसूस हो रहा है
तुम्हें एक ब्रेक की जरूरत है
तुम मेरे साथ सुरक्षित हो
क्या तुम मुझे यह समझा सकते हो कि आखिर तुम्हें ऐसा क्यों महसूस हो रहा है