पंजाब के CM ने इजराइल के राष्ट्रपति से की मुलाकात

मंगलवार को येरुशलम पहुँचे पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इजरायली राष्ट्रपति रूवेन रिवलिन से मुलाकात की और तकनीकी सहयोग, जल प्रबंधन, कृषि और गृह सुरक्षा प्रौद्योगिकी जैसे मुद्दों पर चर्चा की. इस संबंध में एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया कि वार्ता के दौरान राष्ट्रपति ने एक रेगिस्तान को कृषि देश में तब्दील करने संबंधी विवेकपूर्ण जल प्रबंधन पर इस्राइल का अनुभव साझा किया. वहीं, मुख्यमंत्री ने बेहतर जल प्रबंधन और संरक्षण के जरिए पंजाब में गिरते जल स्तर को रोकने के लिए तत्काल कदम उठाए जाने की आवश्यकता जताई.

राष्ट्रपति ने यह भी रेखांकित किया कि भारत की पानी संबंधी समस्या का मुद्दा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी इस साल के शुरू में तेल अवीव की अपनी यात्रा के दौरान उठाया था. रिवलिन ने पानी को पीने योग्य बनाने के लिए इसके विलवीकरण का सुझाव दिया जो इस्राइल द्वारा विभिन्न नवोन्मेषी प्रौद्योगिकियों के जरिए बड़े पैमाने पर किया जा रहा है.

सिंह ने पंजाब के पास स्थित शत्रु पड़ोसी का हवाला देते हुए सुरक्षा के क्षेत्र में इस्राइली ज्ञान और प्रौद्योगिकियां अपनाने की आवश्यकता को रेखांकित किया. राष्ट्रपति ने कहा कि इस्राइल पंजाब सहित भारत को आंतरिक सुरक्षा के क्षेत्र में हरसंभव मदद उपलब्ध कराने को उत्सुक है. सिंह इस्राइल की पांच दिन की यात्रा पर हैं जो सोमवार से शुरू हुई.

वह एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व कर रहे हैं जिसमें पंजाब के प्रधान सचिव तेजवीर सिंह और मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल शामिल हैं. मुख्यमंत्री ने रिवलिन से मुलाकात के बाद ट्वीट किया, ‘‘आज इस्राइल के राष्ट्रपति से मिलकर खुशी हुई. भारत और इस्राइल के बीच संबंधों को मजबूत करने पर चर्चा की. उन्हें इस्राइली जल प्रबंधन, कृषि और साइबर प्रौद्योगिकियों में अपनी रुचि से अवगत कराया. ’’