सुप्रयास जैसी संस्थाएं आर्थिक सामाजिक अंधकार में जीवन जीने वाले व्यक्तियों के लिए प्रकाश की किरण: तन्मय वशिष्ठ

83

हरिद्वार जुलाई 15 (कुल भूषण शर्मा) सुप्रयास कल्याण समिति (रजि.) द्वारा एक “शैक्षिक प्रोत्साहन” कार्यक्रम श्री चेतन ज्योति संस्कृत महाविद्यालय के सभागार में एक साधारण समारोह में आयोजित किया गया,इस कार्यक्रम में शैक्षिक सत्र 2019-20 के लिये प्राप्त आवेदनों में से संस्था द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर किन्तु प्रतिभावान 57 चयनित छात्र छात्राओं के नाम की घोषणा की गई तथा उनको अवगत कराया गया कि उनका शैक्षिक शुल्क उनके विद्यालयों में संस्था द्वारा जमा कर दिया जाएगा।

उक्त कार्यक्रम मे मुख्य अतिथि ऋषिकुल आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य, परिसर निदेशक एवं मर्म चिकित्सा विशेषज्ञ डॉ सुनील जोशी जी , विशिष्ट अतिथि हरिद्वार की प्रमुख समाज सेवी संस्था श्री गंगा सभा के महामंत्री श्री तन्मय वशिष्ठ पतंजलि योगपीठ के सेवानिवृत्त मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ गौड़ एवम संस्था संरक्षक महंत शिवम थे उन्होंने छात्रों को संबोधित कर उनके उन्नत भविष्य की कामना की गई तथा संस्था के कार्यों की सराहना करते हुए सदैव सहयोग का आश्वासन दिया। अध्यक्षता राजेन्द्रनाथ जी गौस्वामी एडवोकेट जी द्वारा की गई।

इस अवसर पर सरदार परमजीत सिंह चावला दिनेश जोशी बलराम गैरोला कौशल किशोर मित्तल मुकेश वार्ष्णेय डॉ शिवम नारायण शर्मा गौरव सचदेवा योगेश चंद्रशेखर कौशिक अनिरुद्ध पोरवाल प्रियांशु दीक्षित जितेन्द्र बॉस रमेश रतूड़ी अजय जोशी हरनाम सिंह श्रीमती हर्ष कलर जी, कु. शालिनी सैनी, कु. प्रीति कंडवाल श्रीमती नीतू तिवारी श्रीमती रीतू गुरुरानी श्रीमती रेखा भट्ट श्रीमती बिन्दु बलूनी श्रीमती सुनीता शर्मा आदि द्वारा वर्ष 2018-19 में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले छात्रों को प्रतीक चिन्ह देकर पुरुस्कृत किया गया ।

सभा का प्रारंभ दीप प्रज्वलन से किया गया व अध्यक्ष शिक्षा समिति श्रीमती हर्ष कालरा द्वारा संस्था का संक्षिप्त परिचय प्रस्तुत किया गया।
अपने संबोधन में मुख्य अतिथि पद से बोलते हुए डॉ जोशी जी ने कहा कि यदि मनुष्य के पास सही स्वास्थ्य और सच्ची शिक्षा है तो उसके पास संसार की अन्य कोई वस्तु चाहे हो या नही उत्तम शिक्षा व स्वस्थ शरीर के बल पर वो सब कुछ प्राप्त कर सकता है तथा उनका उपभोग कर आनंदित हो सकता है। स्वास्थ्य और शिक्षा जीवन की अमूल्य निधियां हैं।

गंगा सभा के महामंत्री तन्मय वशिष्ठ ने अपने उद्बोधन में कहा कि सुप्रयास जैसी संस्थाएं आर्थिक सामाजिक अंधकार में जीवन जीने वाले व्यक्तियों के लिए प्रकाश की किरण है। इससे लाभ उठाकर आप भी धन सम्पन छात्रों से आगे निकल कर अपने सपनों को पूरा कर सकते हैं, सपनों को शिक्षा द्वारा ही साकार किया जा सकता है। मेरा व गंगा सभा का सहयोग संस्था को मिलता रहेगा।

महंत शिवम जी ने कहा कि आप किसी को भोजन करा दो, कुछ ही घंटों पश्चात उसे पुनः भूख लगेगी, किसी को धन दे दो वह भी कुछ ही समय मे समाप्त हो जाएगा किन्तु शिक्षा का दान उसके जीवन मे उसकी भूख प्यास , चाह और आकांक्षाओं को पूर्ण करती रहेगी, डॉ गौड़ ने भी संस्था द्वारा किये जा रहे कार्यों को सराहा।

सभा का संचालन महामंत्री डॉ सत्यनारायण शर्मा ‘पचभैया जी एवम सचिव शिक्षा समिति श्री सोमित डे जी द्वारा किया गया। 2018-10 में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले निम्न छात्रों को पुरस्कृत किया गया जिनमें वंश कुमार, सोनाक्षी ठाकुर, राखी ठाकुर, परी कश्यप,सौरभ सेमवाल,आस्था शर्मा, कोमल मेहरा पीहू जाटव अर्पिता शर्मा, वैष्णवी , निकिता पांडेय, अनामिका, ज्योति वर्मा, एकता कोरी, स्नेहा ंिसह, रिद्वि गंभीर संदीप कुमार, आरती चंदेल, हर्ष शर्मा, राजकुुुुुुुमार सहित अनेको छात्र ‘ाामिल रहे।