शक्ति पम्पस का वित्तीय वर्ष 2019 में लाभ 29 प्रतिशत से बढ़कर 45.08 करोड़ और ऑपरेटिंग लाभ 13 प्रतिशत बढकर 92.97 करोड़ पहुंचा

453

देहरादून। भारत के अग्रणी एनर्जी एफीशिएंट स्टेनलेस स्टील सोलर इंटीग्रेटेड पंप एवं पॉवर इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट जैसे वैरिएबल फ्रीक्वेंसी ड्राइव (वीएफडी), हाइब्रिड इनवर्टर, मोटर स्टार्टर बनाने वाली शक्ति पम्पस (इंडिया) लिमिटेड जो 125 देशो में अपने उत्पादों को निर्यात करती है, ने अपने वार्षिक वित्तीय नतीजों की घोषणा करते हुए बताया कि कंपनी ने बीते वर्ष के रुपये 440.10 करोड़ की तुलना में 31 मार्च 2019 को समाप्त हुए वित्तीय वर्ष में वार्षिक टर्नओवर रुपये 550.25 करोड़ रहा, यानि 25 प्रतिशत की वृद्धि हुई है तथा नेट लाभ में 29 प्रतिशत की बढ़त दर्ज की जो रुपये 45.08 करोड़ रहा।

कंपनी के प्रदर्शन पर टिप्पणी करते हुए दिनेश पाटीदार, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर, शक्ति पम्पस (इंडिया) लिमिटेड ने कहा “कम्पनी अपनी जिन नीतियों पर काम कर रही है वो इन परिणामो में दिख रहा है।

कंपनी ने अपनी बोर्ड मीटिंग में प्रति शेयर उसकी फेस वेल्यू का  50 प्रतिशत का डिविडेंड (लाभांश) देने की अनुशंसा की है (प्रति शेयर फेस वेल्यू 10 रुपए है ) जो प्रति शेयर 5 रुपए  है।

  जिसकी  शेयर होल्डर्स की  एनुअल जनरल मीटिंग में स्वीकृति लेकर घोषणा की जाएगी स”त्रैमासिक वित्तीय परिणामों और वार्षिक वित्तीय नतीजों में निम्नलिखित सब्सिडरी शामिल हैंरू शक्ति एनर्जी सोल्युशन प्राइवेट लिमिटेड, शक्ति पंप एफजेडई, आईजेएई, शक्ति पंप यू.एस.ए, एल एल सी, शक्ति पंप पीटीवाय लिमिटेड, ऑस्ट्रेलिया और शक्ति पंप (बांग्लादेश) लिमिटेड।