गंगा आरती के पश्चात ’पीएम नरेन्द्र मोदी बायोपिक’ फिल्म का प्रदर्शन

19

ऋषिकेश, ( ओम रतूड़ी) ।परमार्थ निकेतन गंगा तट पर राष्ट्र, पर्यावरण एवं जल संरक्षण, माँ गंगा सहित देश की सभी नदियों को समर्पित मानस कथा में आज परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती महाराज, मलूक पीठाधीश्वर राजेन्द्र दास महाराज, प्रसिद्ध फिल्म अभिनेता  विवेक ओबेराय, फिल्म प्रोडयूसर संदीप सिंह, महाराष्ट्र सरकार के मंत्री श्गिरीश महाजन, पूर्व केन्द्रीय मंत्री एवं वर्तमान सांसद राजीव प्रताप रूडी,  संत  मुरलीधर  महाराज, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल ,एम्स के निदेशक डाॅ रविकान्त  और अन्य पूज्य संतों ने सहभाग किया। मानस कथा व्यास श्री मुरलीधर के मुखारबिन्द से माँ गंगा के तट पर मानस की ज्ञान रूपी गंगा प्रवाहित हो रही है।


आज परमार्थ निकेतन में माँ गंगा जी की आरती के पश्चात ’पीएम नरेन्द्र मोदी बायोपिक’ का प्रदर्शन किया गया। भारत के विभिन्न प्रांतों और विश्व के अनेक देशों से आये लोगों ने मोदी की बायोपिक का आनन्द लिया। फिल्म की कहानी मोदी के चाय बेचने से लेकर अपने राष्ट्र की सेवा करने तक तथा फिल्म में मोदी  के प्रधानमंत्री बनने का सफर भी दिखाया गया है। फिल्म में विवेक ओबेराय, बोमन ईरानी, मनोज जोशी, राजेन्द्र गुप्ता, जरीना बाहव, बरखा सेनगुप्ता आदि की बेहतरीन अदाकारी है। यह फिल्म मोदी के कई अनछुये पहलुओं को रूबरू कराती है।

इस फिल्म में परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द भी मोदी को हिंसा कांड के पश्चात धीरज बंधाते नजर आ रहे है उन्होने उस समय प्रेरणास्रोत का कार्य किया था तथा मोदी  को प्रेरणा दी कि वे जनता से अपना सम्बंध मजबूत करे साथ ही सर्वधर्म सद्भाव का संदेश दिया । इस फिल्म को और  विवेक ओबेराय को स्वामी चिदानन्द सरस्वती का विशेष आशीर्वाद प्राप्त है।

स्वामी चिदानन्द सरस्वती ने कहा कि यशस्वी और ऊर्जावान, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक विचारधारा है, एक परिकल्पना है। लोकसभा चुनाव में उनकी ऐतिहासिक जीत इस बात का प्रमाण है कि पांच वर्षो तक के उनके कार्यकाल, नीति, निर्णय और नेतृत्व को भारत की जनता ने स्वीकार किया और पूरे दिल से उन्हे आशीर्वाद दिया। देश की जनता ने भारी बहुमत से मोदी जी को विजय दिलाकर अपना भरोसा फिर से जताया है। स्वामी चिदानंद ने कहा कि मोदी  ने पांच वर्षो तक राष्ट्र की सड़कों के साथ साथ अतीत का कचरा भी साफ किया मुझे विश्वास है कि आने वाला समय देश और देश की जनता के लिये बेहतर भविष्य और सुनहरे अवसर लेकर आयेगा। मुझे विश्वास है कि मोदी जी की दूसरी पारी में भारत फिर से सोने चिड़िया और विश्वगुरू का दर्जा हासिल करेगा। उन्होने कहा कि 21वीं सदी के भारत को ऐसे नेतृत्व और संगठन की आवश्यकता थी।

मानस कथाकार श्री मुरलीधर ने मानस कथा के प्रसंग में कहा कि राजा राम ने अपनी धरा को राक्षसों से मुक्त करने के लिये अपना सर्वस्व बलिदान कर राम राज्य की स्थापना की थी। एक राजा का यही कर्तव्य होता है कि वह अपने स्वार्थो से उपर उठकर परमार्थ के विषय में; जनता के विषय में सोचे।

विवेक ओबेराय ने कहा कि नरेन्द्र मोदी रियल हीरों है। उन्होने कहा कि इस फिल्म को पूरे परिवार सहित और विशेष तौर से बच्चों को देखना चाहिये क्योंकि यह फिल्म यह शिक्षा देती है कि जज़्बा हो तो एक चाय बेचने वाला बच्चा भी देश का प्रधानमंत्री बन सकता है, अमरीका के राष्ट्रपति से आंख में आंख मिलाकर बात कर सकता है और जापान के प्रधानमंत्री के साथ कंधे-कंधा मिलाकर चल सकता है।

स्वामी चिदानन्द सरस्वती  महाराज और कथाकार संत मुरलीधर ने पर्यावरण का प्रतीक रूद्राक्ष का पौधा सभी विशिष्ट अतिथियों को भेंट किया। सभी ने मिलकर विश्व शान्ति हेतु विश्व ग्लोब का जलाभिषेक किया। स्वामी चिदानंद ने भक्तों को भारत को स्वच्छ, स्वस्थ्य और समृद्ध बनाये रखने का संकल्प कराया। लोगों ने मोदी जी ऐतिहासिक विजय के मोदी का रोल करने वाले हीरो विवेक ओबेराय को अपने बीच पाकर अत्यंत प्रसन्नता व्यक्त की। लोग विवेक ओबेराय  के साथ सेल्फी लेने के लिये अत्यंत उत्साहित दिखे।