पीएम किसान: किसानों को मिल रहा है ये दोहरा लाभ, जल्द करें 30 जून है फायदा उठाने की अंतिम तिथि

नई दिल्ली। पीएम किसान सम्मान निधि की आठवीं किस्त जारी हो चुकी है। पिछले महीने ही प्रधानमंत्री ने 9.5 करोड़ किसानों के खातों में 20 हजार करोड़ रुपये से अधिक का राशि ट्रांसफर की है। हालांकि अभी भी कई किसान हैं जिन्होने खुद को रजिस्टर नहीं कराया है। सरकार किसानों को 30 जून तक दोहरा फायदा पाने का मौका दे रही है।

जानिये क्या है दोहरा फायदे

अगर आपने अभी तक पीएम किसान योजना में खुद को लिस्ट नहीं कराया है, तो 30 जून तक योजना में लिस्ट कराने पर आपको दो किस्त मिल जायेगी। यानि अगर आप योजना में 30 जून तक अपना नाम लिखा देते हैं तो आपको 4000 रुपये की राशि प्राप्त होगी।

इसके साथ ही अगर किसी किसान ने किसान क्रेडिट कार्ड पर कर्ज उठाया है। तो उसे भी कर्ज को बिना पेनल्टी चुकाने का मौका 30 जून तक ही है।

यानि इस 30 जून तक किसान चाहें तो किसान सम्मान निधि योजना में लिस्ट होकर दो किस्त का फायदा उठा सकते हैं। वहीं इसी अवधि में किसान क्रेडिट कार्ड पर लोन का भुगतान कर पेनल्टी से भी बच सकते हैं।

क्या है किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत पात्र लाभार्थी किसान परिवारों को 6000 रुपये प्रति वर्ष का वित्तीय लाभ प्रदान किया जाता है, जो चार-चार महीने की अवधि में 2000 रुपये की तीन समान किस्तों में दिया जाता है। यह रकम सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में डाली जाती है। आज से पहले, इस योजना के तहत अब तक किसान परिवारों को 1.15 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की सम्मान राशि हस्तांतरित की जा चुकी है।

कैसे करे आवेदन

किसान राज्य सरकार द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारी या पटवारी के जरिए इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा कॉमन सर्विस सेंटर्स के जरिए भी आप इस स्कीम के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। इसके अलावा पीएम किसान पोर्टल के जरिए भी इस स्कीम के लिए आवेदन किया जा सकता है।

खुद कैसे कर सकते हैं आवेदन

1.PM Kisan की वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।

2.’Farmers Corner’ नाम से एक ऑप्शन दिखेगा।

3. इसमें नीचे’New Farmer Registration’ का ऑप्शन दिखेगा।

4.’New Farmer Registration’ ऑप्शन पर

5. नया पेज खुलेगा, जिसमें आपको Aadhaar number और Captcha भरना होगा।

6.Aadhaar नंबर भरकर कुछ व्यक्तिगत जानकारी भरनी होगी।

7. नाम पर दर्ज जमीन का ब्योरा भी देना होगा।