रुद्रप्रयाग में जीप-टैक्सी और बस की हड़ताल से लोग हुए परेशान

37

रुद्रप्रयाग। नए मोटर व्हीकल एक्ट के विरोध में बुधवार को जीप-टैक्सी और बसों की हड़ताल से रुद्रप्रयाग में लोग खासे परेशान हुए। सुबह से ही लोगों को बस अड्डे पर न तो टैक्सी मिली और न ही बसों में जाने का मौका मिल सका। हड़ताल के कारण लोगों को दिनभर परेशानी उठानी पड़ी।मुख्यालय सहित तिलवाड़ा, अगस्त्यमुनि, ऊखीमठ, गुप्तकाशी, जखोली, मयाली, भीरी, चन्द्रापुरी आदि स्थानों पर नये मोटर व्हीकल एक्ट के विरोध में वाहनों के पहिए जाम रहे। सुबह से ही इन स्थानों पर वाहन न मिलने से यात्रियों के साथ ही स्थानीय लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा।

कई जगहों पर बाजारों में यात्रियों को वाहनों का इंतजार करते देखा गया जबकि स्थानीय लोग अपने गंतव्य को नहीं पहुंच सके। कई जगहों पर लोगों को मजबूरी में निजी वाहन बुक कर जाना पड़ा। रुद्रप्रयाग, अगस्त्यमुनि, गुप्तकाशी और ऊखीमठ में यात्री वाहनों के लिए काफी परेशान रहे। कई यात्रियों को वाहन न मिलने की स्थिति में होटल बुक करने पड़े। इधर बीती रात होटल और लॉज में रुके यात्रियों को भी सुबह जीप टैक्सी और बसें न मिलने से बुधवार को भी होटलों में ही रुकना पड़ा। वहीं दूसरी ओर उत्तराखंड परिवहन निगम की जो बसें चलती रही, उनमें पहले से ही सवारी फुल रही। इस कारण रोडवेज की बसों में भी किसी को यात्रा करने का लाभ नहीं मिल सका। जीप टैक्सी यूनियन के साथ ही बस यूनियनों ने नए एक्ट का विरोध करते हुए इसे शीघ्र वापस लेने की मांग की है।