देहरादून और नजदीकी इलाकों में प्रयुक्त बेवरेज कार्टनों का कलेक्शन और रीसाइक्लिंग बढ़ाने के लिए वेस्ट वॉरियर्स के साथ साझेदारी

देहरादून, उत्तराखंड में देहरादून और नजदीकी इलाकों में प्रयुक्त बेवरेज कार्टनों (यूबीसी) का कलेक्शन बढ़ाने के लिए पैकेजिंग समाधान कंपनी टेट्रा पैक ने विख्यात ठोस कचरा प्रबंधन एनजीओ वेस्ट वॉरियर्स से साझेदारी की है।

प्रयुक्त बेवरेज कार्टनों (यूबीसी) का कलेक्शन प्रेरित करने के लिए टेट्रा पैक और वेस्ट वॉरियर्स, कचरा इकट्‌ठा करने वालों के बीच इस बारे में जागरूकता बढ़ाएंगे कि वे यूबीसी एकत्र करके और रीसाइकिलर को यह बेचकर क्या मूल्य प्राप्त कर सकते हैं। एकत्र किए गए कार्टन रीसाइक्लिंग के लिए स्थानीय पेपर-मिल खटीमा फाइबर्स लिमिटेड में भेजे जाएंगे।

इस पहल के बारे में अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए टेट्रा पैक साउथ एशिया के सस्टेनेबिलिटी डायरेक्टर जयदीप गोखले ने कहा कि, “टेट्रा पैक में, हमने पिछले १६ वर्षों में भारत में एक मजबूत रीसाइक्लिंग इकोसिस्टम तैयार किया है। आज भारत में बेचे जाने वाले ४०% से अधिक कार्टन्स को रीसाइकिल किया जाता है और हम इसे और अधिक बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। वेस्ट वॉरियर्स से हमारी साझेदारी इस दिशा में एक और सकारात्मक कदम है। उपयोग किए गए कार्टन्स को इकट्ठा करना रीसाइक्लिंग की पहली और महत्वपूर्ण चुनौती है, जो इस्तेमाल किए गए कार्टन्स के मूल्य के बारे में कचरा एकत्र करने वाले लोगों और जनता के बीच अधिक जागरूकता पर निर्भर करता है, जिन्हें स्रोत पर ही कचरे को अवश्य अलग करना चाहिए। स्थानीय सरकार के प्रयासों और वेस्ट वॉरियर्स, जैसे पार्टनरों के कलेक्शन सहयोग से, हम देहरादून को एक स्वच्छ शहर बनाने के लिए तत्पर हैं।”

 

इस्तेमाल किए गए कार्टन्स को रीसाइक्लिंग के लिए वापस करने में उपभोक्ताओं की मदद करने के लिए टेट्रा पैक और वेस्ट वॉरियर्स, पूरे शहर में सार्वजनिक और निजी स्थानों पर ‘ड्रॉप-ऑफ पॉइंट’ या ‘गुल्लकें’ भी स्थापित करेंगे।

 

अविनाश सिंह, सीईओ, वेस्ट वॉरियर्स ने अपनी बात रखते हुए कहा कि, “देहरादून के निवासियों के लिए कचरा प्रबंधन एक बड़ी समस्या है और इस समस्या का समाधान करने के लिए स्थायी ठोस कचरा प्रबंधन प्रणाली विकसित करने का हमारा प्रयास है। रिसाइकिल करने योग्य, कागज़ से निर्मित बेवरेज कार्टन रिसाइकलर्स के लिए एक बढ़िया संसाधन है, और हमें प्रयुक्त कार्टन इकट्ठा करने के लिए एक कुशल प्रणाली विकसित करनी होगी। टेट्रा पैक के साथ इस साझेदारी के माध्यम से, हमें विश्वास है कि कचरा प्रबंधन की समस्या सुलझाने में मदद मिलेगी, प्रयुक्त कार्टनों की रीसाइकिलिंग में मदद मिलेगी और इस प्रक्रिया में कचरा बीनने वाले स्थानीय लोगों की आजीविका बढ़ाने में भी मदद मिलेगी। इस तरह से यह सभी के लिए फायदेमंद स्थित होगी। ”