पलक झपकते पहुंचे मसूरी, अब 13 मिनट में पूरा होगा देहरादून मसूरी का सफर

42

देहरादून, । योजना के तहत देहरादून के पुरकुल गांव से मसूरी लाईब्रेरी चौक तक रोप-वे तैयार किया जाएगा। परियोजना पर 300 करोड़ रुपये की लागत आएगी। 21 टॉवर खड़े किए जाएंगे, जिन पर 20 केबिन रोप-वे चलेंगे। हर दिन 11 हजार यात्री रोप-वे के जरिए दून से मसूरी पहुंचेंगे। इस वक्त देहरादून से मसूरी तक की दूरी 35 किलोमीटर है, दूरी कम है पर इसे तय करने में लोगों के पसीने छूट जाते हैं।

अगले तीन साल में सैलानी महज 13 मिनट में दून से मसूरी का सफर कर सकेंगे। वो भी हवा में। पर्यटन विभाग की ओर से तैयार की गई दून-मसूरी रोप-वे परियोजना को उत्तराखंड कैबिनेट ने मंजूरी दे दी है। साढ़े पांच किमी लंबी यह रोप-वे परियोजना विश्व की पांच सबसे बड़ी रोप-वे परियोजनाओं में शामिल बताई जा रही। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मार्च में इसका शिलान्यास किया था।

दून से मसूरी की 35 किमी का सफर तय करने के दौरान पर्यटकों को अक्सर जाम से जूझना पड़ता है। इतना ही नहीं, सीजन और बर्फबारी के वक्त तो जाम के चलते पर्यटक कईं मर्तबा आधे रास्ते से लौटने को मजबूर हो जाते हैं। मसूरी में समुचित पार्किंग नहीं होने पर भी पर्यटकों को दिक्कत का सामना करना पड़ता है। इन समस्याओं को देखकर पर्यटन विभाग ने दून-मसूरी रोप-वे योजना तैयार की थी।