नवाज शरीफ को गिरफ्तार किया गया, नवाज और मरियम के पासपोर्ट लिए गए

51

करप्शन के केस में दोषी पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को लाहौर के अल्लामा इकबाल इंटरनैशनल एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर शुक्रवार देर रात रावलपिंडी लाया गया। नवाज और मरियम को यहां स्थित सेंट्रल जेल में रखा गया है। पूर्व प्रधानमंत्री और उनकी बेटी को पुलिस द्वारा यहां कड़ी सुरक्षा के बीच अलग-अलग बख्तरबंद गाड़ियों में लाया गया। जेल नियमों के अनुसार, दोनों का यहां जेल हॉस्पिटल में ही मेडिकल परीक्षण होगा।

पाकिस्तानी मीडिया में ऐसी खबरें हैं कि बाद में मरियम को सियाला रेस्ट हाउस में शिफ्ट कर दिया जाएगा, जिसे पहले ही सब-जेल घोषित किया जा चुका है। इससे पहले खबरें थीं कि दोनों को यहां हेलिकॉप्टर से लाया जाएगा, लेकिन अंधेरा होने के कारण इस योजना को बदलना पड़ा।

जिस विमान में पाकिस्तान मुसलिम लीग (नवाज) सुप्रीमो नवाज शरीफ और मरियम लाहौर एयरपोर्ट पर पहुंचे, वह विमान अपने निर्धारित समय से 3 घंटे की देरी से यहां पहुंचा। भारतीय समयानुसार शरीफ का यह विमान रात करीब 9.15 बजे लाहौर के अल्लामा इकबाल इंटरनैशनल एयरपोर्ट पर लैंड हुआ।

लाहौर एयरपोर्ट के एक अधिकारी के मुताबिक, जब NAB (नैशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो) की टीम पिता-बेटी को यहां गिरफ्तार करने पहुंची, तो दोनों ने बिना किसी विरोध के अपनी गिरफ्तारी दे दी। दोनों को गिरफ्तार करने के बाद यहां से एक विशेष विमान द्वारा इस्लामाबाद लाया गया।

मनी लॉन्ड्रिंग के केस में शरीफ को 10 साल और उनकी बेटी मरियम को 7 साल की सजा हुई है। पाक मीडिया की मानें तो पूरे मामले को ध्यान में रखते हुए पंजाब सूबे में इंटरनेट सर्विस बंद कर दी गई है। नवाज शरीफ की मां बेगम शमीम अख्तर और उनके बेटे शहबाज शरीफ और सलमान को लाहौर एयरपोर्ट पर नवाज शरीफ से मिलने की इजाजत दी गई।